Submit your post

Follow Us

ट्रंप ने टिकटॉक बैन को लेकर अब क्या बोला है, टिकटॉक को खरीद सकती है माइक्रोसॉफ्ट?

भारत में टिकटॉक बैन होने के बाद अमेरिका ने भी इस ऐप को बैन करने के संकेत दिए हैं. राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने कहा कि इसे बैन किया जा सकता है या कई ऑप्शन हैं. इस बीच ऐसी ख़बरें भी हैं कि अमेरिका में टिकटॉक को कई बड़ी टेक कंपनियां खरीदना चाह रही हैं, जिनमें माइक्रोसॉफ्ट भी शामिल है.

डॉनल्ड ट्रंप ने मीडिया से बातचीत में कहा,

हम टिकटॉक को बैन कर सकते हैं. हम कुछ और भी कर सकते हैं. कई चीजें हो रही हैं. हमारे पास कई ऑप्शन हैं….हम टिकटॉक के मामले में कई ऑल्टरनेटिव को देख रहे हैं.

चीन पर इंटेलीजेंस चोरी के आरोप 

इससे पहले अमेरिका में अधिकारियों राष्ट्रीय सुरक्षा और यूजर्स डेटा को लेकर चिंताएं जताई थीं. अमेरिका पहले भी चीन पर इंटेलीजेंस की चोरी का आरोप लगा चुका है. ट्रंप का ये बयान अमेरिका में कमिटी ऑन फॉरेन इन्वेस्टमेंट (CFIUS) के रिव्यू के बाद आया है. वॉल स्ट्रीट जर्नल ने सूत्रों के हवाले से बताया है कि अमेरिकी प्रशासन जल्द ही टिकटॉक की पैरेंट कंपनी बाइटडांस कंपनी को आदेश दे सकता है कि वो टिकटॉक से अपनी ओनरशिप छोड़ दे.

कई कंपनियों की टिकटॉक में दिलचस्पी

इसी बीच बिजनेस स्टैंडर्ड की ख़बर के मुताबिक, माइक्रोसॉफ्ट टिकटॉक को खरीदने को लेकर चर्चा कर रहा है. हालांकि माइक्रोसॉफ्ट की तरफ से इस पर कोई टिप्पणी नहीं की गई है. इसके अलावा भी कई टेक से जुड़ी कंपनियां टिकटॉक को खरीदने में दिलचस्पी दिखा रही हैं.

टिकटॉक का क्या कहना है

टिकटॉक ने एक बयान जारी कर कहा,

हम किसी अफवाह या अटकलों पर टिप्पणी नहीं करते हैं. हम लॉन्ग टर्म में टिकटॉक की सफलता को लेकर आश्वस्त हैं. लाखों लोग टिकटॉक पर मनोरंजन के लिए आते हैं. इसके अलावा क्रिएटर्स और कलाकारों की कम्युनिटी है, जो इस प्लेटफॉर्म से आजीविका कमा रहे हैं.

टिक टॉक के सीईओ केविन मेयर ने कहा,

हम राजनीतिक नहीं हैं. हम राजनीतिक विज्ञापन नहीं लेते. हमारा कोई एजेंडा नहीं है. हमारा एक ही उद्देश्य है कि हर किसी के लिए हम जीवंत प्लेटफॉर्म बने रहें.

टिकटॉक ने अमेरिकी यूजर्स को भरोसा दिलाने के लिए ज़्यादा पारदर्शिता और रिव्यू की बात कही थी. टिकटॉक ने कहा था कि अमेरिका के यूजर्स का डेटा अगर चीन की सरकार मांगती भी है, तो उसे नहीं दिया जाएगा.

भारत में बैन

साल 2017 में चीन की बाइटडांस कंपनी ने अमेरिका के म्यूजिकली ऐप का अधिग्रहण किया था. इसके बाद इसे अपनी वीडियो सर्विस से जोड़कर टिकटॉक लॉन्च किया था. इससे पहले भारत-चीन सीमा विवाद के बीच भारत में चीन के लिंक वाले 59 ऐप बैन कर दिए गए थे, जिसमें टिकटॉक भी शामिल था.


अब अमेरिका ने चीन की इन दो नामी कंपनियों को सुरक्षा के लिए खतरा बताया है

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

ईरान ने समुद्री डाकुओं को रिहा किया और 11 भारतीय नाविकों को तस्कर बताकर जेल में डाल दिया!

ढाई महीने हो गए, कहीं कोई खोज ख़बर नहीं.

सुशांत सिंह राजपूत के पिता ने रिया चक्रवर्ती के ख़िलाफ FIR दर्ज़ करवाई

सुशांत ने 14 जून को सुसाइड कर लिया था.

अयोध्या में 5 अगस्त के भूमि पूजन को लेकर क्या-क्या तैयारियां चल रही हैं

रामलला की पोशाक से लेकर अयोध्या में रंग-रोगन तक की सारी बातें.

कोर्ट ने दिल्ली पुलिस को हड़काया, दिल्ली दंगे में पिंजरा तोड़ पर ऐसी बयानबाज़ी क्यों?

पुलिस ने क्या जवाब दिया, वो भी देखिए.

जिस मेट्रो स्टेशन के नीचे दंगे हुए, 5 महीने बाद भी दिल्ली पुलिस ने वहां से CCTV फ़ुटेज नहीं निकाली!

कोर्ट ने कहा, 'पुलिस में अजीब-सी सुस्ती है वीडियो फ़ुटेज को लेकर'

मास्क बांटने के बहाने बच्चे को किडनैप किया, चार करोड़ मांगे, पुलिस ने 24 घंटे में पकड़ लिया

यूपी के गोंडा का मामला, पांच आरोपी भी गिरफ्तार.

चुनाव आयोग ने बीजेपी IT सेल से जुड़ी कंपनी से चुनावी कामधाम करवाया!

ये कम्पनी पूर्व महाराष्ट्र सरकार और दूसरे सरकारी विभागों का भी काम देख रही थी.

इंडिया में कोरोना की वैक्सीन का दाम पता चल गया है, लेकिन पैसे आपको नहीं देने होंगे!

क्या कहा बनाने वाले आदर पूनावाला ने?

बाइक चला रहे CJI बोबड़े पर ट्वीट करने पर twitter और वकील प्रशांत भूषण पर अवमानना का केस हो गया!

सुनवाई में ट्वीट डिलीट करने की बात पर कोर्ट ने क्या कहा?

जाटों-पंजाबियों को बिना बुद्धि का बोलकर माफ़ी मांगने लगे बीजेपी के सीएम

और कौन? वही त्रिपुरा के सीएम बिप्लब देब.