Submit your post

Follow Us

चुनाव आयोग की वेबसाइट में लगाई सेंध और बनवा डाले 10 हजार से ज्यादा वोटर आईडी

यूपी पुलिस ने सहारनपुर से एक युवक को गिरफ्तार किया है. उस पर आरोप है कि उसने इलेक्शन कमीशन ऑफ इंडिया की वेबसाइट में सेंध लगा दी, और हजारों वोटर आईडी कार्ड बना लिए. वह कोई हाई प्रोफाइल हैकर नहीं बल्कि छोटे से शहर में कंप्यूटर की दुकान चलाने वाला युवक है. मामला इतना संगीन है कि अब दिल्ली पुलिस इस युवक को अपनी कस्टडी में लेने की कोशिश में लगी है.

’10 हजार वोटर आईडी बनाए’

यूपी के सहारनपुर जिले का नाकुड इलाका. 12 अगस्त को पुलिस ने मचरहेडी गांव से विपुल सैनी नाम के युवक को गिरफ्तार किया. गिरफ्तारी करने वाली सहारनपुर पुलिस का आरोप है कि विपुल ने पिछले कुछ महीनों में इलेक्शन कमीशन की वेबसाइट में घुसपैठ करके हजारों वोटर आईडी कार्ड बना डाले. इस कार्रवाई में शामिल साइबर सेल के मुताबिक, विपुल ने मध्य प्रदेश के हरदा निवासी अरमान मलिक के साथ मिलकर भारत निर्वाचन आयोग की वेबसाइट को हैक किया, और उसके कहने पर वोटर आइडी कार्ड बनाए. वह पिछले तीन महीने से आयोग की वेबसाइट में घुसपैठ कर रहा था. साइबर सेल के अनुसार, अब तक करीब 10 हजार वोटर आइडी कार्ड बनाए गए हैं.

पुलिस ने रात में ही खुलवाया बैंक

शुरुआती पूछताछ में विपुल ने बताया कि अरमान उसे जो टास्क देता था, वह दिन भर में पूरा करके उनकी डिटेल रात को उसे भेज देता था. उसे हर आईकार्ड बनाने पर 100 से 200 रुपए मिलते थे. काम होने के बाद उसके बैंक खाते में पैसा आता था. विपुल को गिरफ्तार करने के बाद साइबर सेल ने उसके बैंक खाते को खंगालना शुरू किया. इसके लिए साइबर सेल ने रात में ही बैंक की ब्रांच को खुलवाया. उसके बैंक खाते से करीब 60 लाख रुपये का ट्रांजक्शन मिला है. पुलिस अभी पता लगा रही है कि यह पैसा किन-किन जगहों से आया है.

बड़ी साजिश की आशंका

सहारनपुर पुलिस को विपुल के बारे में दिल्ली की एक बड़ी एजेंसी से इनपुट मिला था. पुलिस का कहना है कि विपुल सैनी इलेक्शन कमीशन ऑफ इंडिया की वेबसाइट में उन लॉगइन पासवर्ड के जरिए ही एंट्री करता था जो कमीशन के अधिकारी इस्तेमाल करते थे. कुछ वक्त पहले इलेक्शन कमीशन के अधिकारियों को इस बारे में शक हुआ था. उन्होंने जांच एजेंसियों को इसकी जानकारी दी थी. तहकीकात के दौरान विपुल की लोकेशन का पता लगाया गया, और सहारनपुर पुलिस को आगे की कार्रवाई के लिए कहा गया. सहारनपुर पुलिस ने विपुल के घर से दो कम्प्यूटर भी जब्त किए हैं. अब इनकी हार्ड ड्राइव से डाटा निकालने का काम चल रहा है.

पुलिस को आशंका है कि इस मामले के देश विरोधी गतिविधियों में शामिल लोगों का हाथ हो सकता है. मामले की संवेदनशीलता को देखते हुए दिल्ली की जांच एजेंसियां भी विपुल से जल्दी पूछताछ करेंगी. इसके लिए कोर्ट से परमीशन लेने की तैयारी चल रही है.

एसएसपी सहारनपुर एस चनप्पा ने टाइम्स ऑफ इंडिया को बताया कि

“अभी हम ये नहीं बता सकते कि वोटर आईडी कार्ड वो क्यों बना रहा था और इसका इस्तेमाल किस काम के लिए हो रहा था. किसी भी नतीजे पर पहुंचने के लिए अभी काफी जांच की जरूरत है.”

भारत के इलेक्शन कमीशन का क्या कहना है?

इलेक्शन कमीशन ने 13 अगस्त को इस मामले पर अपना पक्ष रखा. इलेक्शन कमीशन ने आजतक को बताया कि

“असिस्टेंट इलेक्टोरल रोल ऑफिसर यानी AERO को सभी वांक्षित लोगों को वक्त पर वोटर आईडी कार्ड मुहैया कराने की जिम्मेदारी दी गई है. इसमें वोटर आईडी कार्ड प्रिंट करके देने का काम भी शामिल है. AERO ऑफिस में डेटा एंट्री करने वाले ऑपरेटर ने अपना आईडी पासवर्ड गैरकानूनी तरीके से किसी अनाधिकृत सर्विस प्रोवाइडर के साथ शेयर कर दिया. सहारनपुर के नाकुड सबडिवीजन में इस अनाधिकृत सर्विस सेंटर द्वारा कुछ वोटर आईडी कार्ड प्रिंट किए गए. ऐसा करने वाले दोनों ही लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है. भारत के चुनाव आयोग का डेटाबेस पूरी तरह से सुरक्षित है.”

ऐसे में ये सवाल भी खड़ा होता है कि 3 महीने तक कोई अनाधिकृत सेंटर वोटर आईडी कार्ड प्रिंट करता रहा और इलेक्शन कमीशन को पता ही नहीं चला.


वीडियो – सुप्रीम कोर्ट में चुनाव आयोग के वकील ने इस्तीफे में क्या लिखा?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

UP STF ने 23 संदिग्धों को गिरफ्तार किया.

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

संसद का शीतकालीन सत्र 29 नवंबर से 23 दिसंबर तक चलेगा.

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

पीएम मोदी ने गुरुवार 25 नवंबर को इस एयरपोर्ट का शिलान्यास किया.

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

पिछले विधानसभा चुनाव में त्रिकोणीय मुकाबला था, इस बार त्रिकोणीय से बढ़कर होगा.

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

कासगंज: पुलिस लॉकअप में अल्ताफ़ की मौत कोई पहला मामला नहीं.

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

पुलिस ने कहा था, 'अल्ताफ ने जैकेट की डोरी को नल में फंसाकर अपना गला घोंटा.'

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये ख़बर हमारे देश का एक और सच है.

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

क्या समीर वानखेड़े को NCB जोनल डायरेक्टर पद से हटा दिया गया है?

Covaxin को WHO के एक्सपर्ट पैनल से इमरजेंसी यूज की मंजूरी मिली

Covaxin को WHO के एक्सपर्ट पैनल से इमरजेंसी यूज की मंजूरी मिली

स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने पीएम मोदी के लिए क्या कहा?

आज आए चुनाव नतीजे में ममता, कांग्रेस और BJP को कहां-कहां जीत हार का सामना करना पड़ा?

आज आए चुनाव नतीजे में ममता, कांग्रेस और BJP को कहां-कहां जीत हार का सामना करना पड़ा?

उपचुनाव के नतीजे एक जगह पर.