Submit your post

Follow Us

डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया था, 7 घंटे मोर्चरी में रहने के बाद जिंदा निकला शख्स

यूपी का मुरादाबाद जिला. यहां पर एक व्यक्ति को डॉक्टरों ने मृत घोषित करके मोर्चरी में रखवा दिया. व्यक्ति को भोर में चार बजे के करीब मोर्चरी में रखा गया था, लेकिन सुबह 11 बजे देखा गया तो उनकी सांसे चल रही थीं. इसके बाद फौरन वॉर्ड में शिफ्ट किया गया. उनका इलाज शुरू हुआ. हालत गंभीर होने पर मेरठ के मेडिकल कॉलेज में रेफर कर दिया गया. व्यक्ति जिंदा हैं और उनका इलाज चल रहा है.

पूरा मामला क्या है?

इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक, व्यक्ति का नाम श्रीकेश है. वह नगर निगम में कर्मचारी हैं. गुरुवार 18 नवंबर को दूध लेने के लिए देर रात घर से निकले थे. तभी सड़क पार करते समय श्रीकेश के साथ हादसा हो गया. उन्हें इलाज के लिए तीन अलग-अलग निजी अस्पतालों में ले जाया गया. अंत में डॉक्टरों द्वारा उन्हें मृत घोषित कर दिया गया. फिर परिजन शव का पोस्टमॉर्टम कराने के लिए देर रात ही जिला अस्पताल लेकर आए. यहां इमरजेंसी में मौजूद डॉक्टर मनोज ने श्रीकेश का चेकअप करके उन्हें मृत घोषित कर दिया. शव को मोर्चरी में भिजवा दिया.

शुक्रवार 19 नवंबर की सुबह 11 बजे जिला अस्पताल की मोर्चरी में हो-हल्ला मच गया, जब पुलिस शव का पंचनामा करने की तैयारी कर रही थी, तभी पता चला कि मृत घोषित किए गए श्रीकेश की सांसें चल रही हैं. इस बात की जानकारी फौरन परिजनों ने जिला अस्पताल में डॉक्टरों को दी. फिर सूचना पर मोर्चरी में पहुंचे डॉक्टर्स ने चेकअप किया और जीवित होने की पुष्टि की. इसके बाद फौरन इलाज शुरू किया गया.

परिजनों का क्या कहना है?

श्रीकेश के जीजा ने मीडिया को बताया कि उनके साले मुरादाबाद नगर निगम में तैनात हैं. उनकी पत्नी एक डेंटल अस्पताल में नौकरी करती हैं. कोई बच्चे नहीं हैं. हादसे की सूचना के बाद उनकी पत्नी ही इलाज के लिए अस्पताल  लेकर पहुंची. वहां इनका सीटी स्कैन हुआ. उन्होंने आगे बताया,

रात 11 बजे मुझे फोन आया कि श्रीकेश का एक्सीडेंट हो गया. मैं तो गाड़ी लेकर आया. यहां आने के बाद देखा तो हॉस्पिटल ब्राइट स्टार में उन्होंने यह कह दिया कि हमारे यहां सुविधा नहीं है, साईं हॉस्पिटल ले जाओ. हम साईं हॉस्पिटल ले गए, एंबुलेंस हमारे पास थी. साईं में डॉक्टरों की टीम आ गई, लेक‍िन उनके यहां वेंटिलेटर नहीं था. हमने कहा क‍ि फिर कहां लेकर जाएं उन्होंने कहा कॉसमॉस ले जाओ. हमने सोचा क‍ि चलो विवेकानंद ले जाएं, विवेकानंद ले गए तो वहां पर इमरजेंसी में डॉक्टर साहब थे, उन्होंने चेकअप किया. ट्रीटमेंट तो नहीं दिया और मशीन लगाकर बोले न तो पल्स है, न बीपी है, फिर बोले यह खत्म हो गए. तब हम ऐसे ही एंबुलेंस लेकर जिला अस्पताल लाए, क्योंकि यह सरकारी है. इमरजेंसी में डॉक्टर साहब थे. पूरा मामला हमने डॉक्टर साहब को बता दिया तो फिर उन्होंने कहा क‍ि बॉडी को मोर्चरी में रखवा दो. फिर हम बॉडी को मोर्चरी में रखवा कर आए.

डॉक्टर का क्या कहना है?

इस मामले में जिला अस्पताल के CMS डॉक्टर शिव सिंह ने बताया कि श्रीकेश नाम के एक व्यक्ति को इलाज के लिए जिला अस्पताल लाया गया था. डॉ. मनोज यादव ने पूरा चेकअप किया था उसके बाद मृत घोषित किया था. इसके बाद ही उसे मोर्चरी में शिफ्ट करवाया गया था. और पुलिस को इन्फॉर्म किया गया था.

CMS ने आगे बताया कि परिजनों का कहना था कि जिला अस्पताल लाने से पहले और कई अस्पतालों में भी श्रीकेश को मृत घोषित कर दिया गया था. ऐसे मामले बहुत रेयर होते हैं. ऐसे मामलों में जब कभी-कभी व्यक्ति को चोट लगती है और उसको दवाइयां दी जाती हैं तो उनका असर बहुत देर बाद देखने को मिलता है. उस समय ऐसा महसूस होता है कि व्यक्ति की मौत हो चुकी है. इस केस में भी यही हुआ है और दवाइयों का असर बहुत देर के बाद हुआ, शायद इसकी वजह से एक बार फिर से उसकी सांस चलने लगी है.


वीडियो देखें: एंबुलेंस नहीं मिली तो पुलिस ने शव को कूड़ा गाड़ी से ही मोर्चरी पहुंचा दिया

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

Xiaomi ने सरकार को कैसे लगा दिया 653 करोड़ का चूना?

Xiaomi ने सरकार को कैसे लगा दिया 653 करोड़ का चूना?

Xiaomi भारत में सबसे ज्यादा मोबाइल बेचने वाली चीनी कंपनी है.

नरसिंहानंद का एक और घटिया बयान, 'जिसने एक बेटा पैदा किया, उस मां को औरत मत मानना'

नरसिंहानंद का एक और घटिया बयान, 'जिसने एक बेटा पैदा किया, उस मां को औरत मत मानना'

नरसिंहानंद ने कहा, "मुसलमानों से हिंदुओं को मरवाओगे क्या?"

सुब्रमण्यन स्वामी Air India-Tata डील के खिलाफ HC पहुंचे, 'टाटा के पक्ष में धांधली' का आरोप

सुब्रमण्यन स्वामी Air India-Tata डील के खिलाफ HC पहुंचे, 'टाटा के पक्ष में धांधली' का आरोप

स्वामी की याचिका पर दिल्ली हाई कोर्ट 6 जनवरी को सुनाएगा फैसला

कपड़े महंगे होंगे या नहीं? जानिए सरकार ने क्या फैसला लिया है

कपड़े महंगे होंगे या नहीं? जानिए सरकार ने क्या फैसला लिया है

GST काउंसिल ने टेक्सटाइल पर टैक्स 12% करने का फैसला टाला

14 साल बाद इरफ़ान की वो फ़िल्म आ रही है, जिसकी शूटिंग के दौरान वो मरते-मरते बचे थे

14 साल बाद इरफ़ान की वो फ़िल्म आ रही है, जिसकी शूटिंग के दौरान वो मरते-मरते बचे थे

इरफान की आखिरी फिल्म आ रही है.

लुधियाना कोर्ट ब्लास्ट में किसका हाथ? खुफिया एजेंसी और CM चन्नी कर रहे अलग-अलग बात

लुधियाना कोर्ट ब्लास्ट में किसका हाथ? खुफिया एजेंसी और CM चन्नी कर रहे अलग-अलग बात

ब्लास्ट में हाई क्वालिटी विस्फोटक का इस्तेमाल होने की बात सामने आई है.

'स्पाइडरमैन: नो वे होम' ने पहले दिन करोड़ों की कमाई का वो जाला बुना कि बड़े-बड़े रिकॉर्ड फंस गए

'स्पाइडरमैन: नो वे होम' ने पहले दिन करोड़ों की कमाई का वो जाला बुना कि बड़े-बड़े रिकॉर्ड फंस गए

एक दिन में ही कई रिकॉर्ड टूट गए, अभी तो वीकेंड पड़ा है.

'स्पाइडर मैन : नो वे होम' का ऐसा भौकाल है कि एडवांस खिड़की पर रिकॉर्ड टूट गए

'स्पाइडर मैन : नो वे होम' का ऐसा भौकाल है कि एडवांस खिड़की पर रिकॉर्ड टूट गए

ब्लैक में टिकट खरीदने का ज़माना लौट आया है बॉस!

आतंकी हमले में जम्मू-कश्मीर के 14 पुलिसकर्मी घायल, 2 शहीद, PMO ने डिटेल्स मांगी

आतंकी हमले में जम्मू-कश्मीर के 14 पुलिसकर्मी घायल, 2 शहीद, PMO ने डिटेल्स मांगी

हमला श्रीनगर से जुड़े इलाके में हुआ है.

जानिए CDS बिपिन रावत के साथ हेलिकॉप्टर में कौन-कौन सवार था?

जानिए CDS बिपिन रावत के साथ हेलिकॉप्टर में कौन-कौन सवार था?

क्रैश हुए हेलिकॉप्टर में कुल 14 लोग मौजूद थे