Submit your post

Follow Us

यूपी: रेलवे अधिकारी की बेटी ने ही अपनी मां और बेटे की गोली मारकर हत्या कर दी!

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ से डबल मर्डर की ख़बर आई. इसके बाद आने वाली जानकारी और भी चौंकाने वाली हैं. 29 अगस्त को मुख्यमंत्री आवास के पास ये घटना हुई. हाई सिक्योरिटी ज़ोन वाले थाना गौतम पल्ली क्षेत्र की रेलवे कॉलोनी में रेलवे अधिकारी आरडी बाजपेई की पत्नी मालती और उनके बेटे सर्वदत्त की गोली मारकर हत्या कर दी गई. बाद में पुलिस ने बताया कि रेलवे अधिकारी की नाबालिग बेटी ने ही ये हत्याएं की हैं. मौके पर फॉरेंसिक टीम और डीजीपी एचपी अवस्थी समेत पुलिस की टीम पहुंची. शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा गया. तलाशी और पूछताछ के दौरान लड़की की मनोस्थिति को लेकर कई खुलासे हुए. पुलिस ने कहा कि लड़की डिप्रेशन में थी.

लखनऊ पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडेय ने कहा,

रेलवे अधिकारी की नाबालिग बेटी ने ही अपनी मां और भाई को मारा. उसने अपराध कबूल किया है. उसने अपने हाथ पर रेजर से कई निशान कर रखे थे. वो डिप्रेशन में है और उसे चाइल्ड प्रोटेक्शन होम भेजा जाएगा.

‘डिसक्वालिफाइड ह्यूमन’

पुलिस को घर की तलाशी के दौरान कई अजीबोगरीब चीजें दिखीं. नाबालिग लड़की ने बाथरूम के शीशे पर जैम से ‘डिसक्वालिफाइड ह्यूमन’ लिखा था और शीशे के बीच में गोली का निशान था. इसके अलावा पुलिस को घर की दीवारों पर कई इमोजी मिले, जिसमें रोने की आकृतियां बनी थीं.

लड़की निशानेबाजी चैंपियन

रिपोर्ट के मुताबिक, लड़की निशानेबाजी में ट्रेंड है और 10 मीटर पिस्टल इवेंट में हिस्सा लेती थी. उसने राज्य स्तर और जूनियर राष्ट्रीय स्तर पर पदक जीते हैं. इसी वजह से घर पर पिस्टल रखने का लाइसेंस मिल गया था. वो लोरेटो स्कूल में हाईस्कूल की छात्रा है. उसका भाई सर्वदत्त गोमीतनगर के संस्कृत विश्वविद्यालय से ग्रैजुएशन कर रहा था.

डिप्रेशन हादसे की वजह 

पुलिस ने कहा कि घटना के बाद पूछताछ में लड़की अजीबोगरीब बातें कर रही थी. उसके हाथ में कोहनी तक पट्टी बंधी थी. जब इसे खुलवाया गया तो कई निशान मिले, जिसमें कई पुराने थे. पुलिस ने लड़की के डिप्रेशन को घटना की वजह बताया है. कहा गया कि उसने खुद ये निशान ब्लेड या रेज़र से बनाए थे. मनोचिकित्सक की मदद से उससे पूछताछ की जा रही है.


CMO के सामने आत्मदाह करने वाली महिला की मौत का जिम्मेदार कौन?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

अनलॉक-4 की गाइडलाइंस जारी, मेट्रो चलेगी, जानिए स्कूल खोलने को लेकर क्या कहा गया है

धार्मिक और राजनीतिक कार्यक्रमों को लेकर क्या छूट मिली है?

NEET, JEE आगे बढ़ाने की मांग कर रहे छात्र ये पांच कारण बता रहे हैं

तय समय पर परीक्षा कराने के लिए 150 शिक्षाविदों ने लिखी PM मोदी को चिट्ठी.

कोर्ट ने कहा, ये शर्त पूरी किए बिना अनुराग ठाकुर और प्रवेश वर्मा पर दिल्ली दंगों में हेट स्पीच का केस नहीं

बीजेपी नेताओं के खिलाफ़ याचिका ख़ारिज करते हुए अदालत ने और क्या कहा, ये भी पढ़िए.

पाकिस्तान के किस बयान में इंडिया ने एक के बाद एक पांच झूठ पकड़ लिए हैं?

पाकिस्तान ने आतंकवाद फैलाने में भारत का नाम ले लिया, बस हो गया काम.

सोनिया-राहुल को पत्र लिखने पर कांग्रेस मंत्री ने नेताओं से कहा, ‘खुल्लमखुल्ला टहलने नहीं दूंगा’

माफ़ी नहीं मांगने पर परिणाम भुगतने की बात कर डाली.

प्रशांत भूषण के खिलाफ़ अवमानना का मुक़दमा सुन रहे सुप्रीम कोर्ट के इन तीन जजों की कहानी क्या है?

पूरी रामकहानी यहां पढ़िए.

महाराष्ट्र: रायगढ़ में पांचमंज़िला इमारत ढही, 50 से ज़्यादा लोग दबे

एनडीआरएफ की तीन टीमें राहत के काम में जुटी हैं.

क्या 73 दिन में कोरोना वैक्सीन आ रही है? बनाने वाली कंपनी ने बताई सच्ची-सच्ची बात

कन्फ्यूजन है कि खुश होना है या अभी रुकना है?

प्रशांत भूषण ने कही ये बात, तो कोर्ट बोला- हजार अच्छे काम से गुनाह करने का लाइसेंस नहीं मिल जाता

बचाव में उतरे केंद्र की अपील, सजा न देने पर विचार करें, सुप्रीम कोर्ट ने दिया दो-तीन दिन का वक्त

सुशांत पर सुप्रीम कोर्ट ने CBI जांच का आदेश दिया, महाराष्ट्र के वकील को आपत्ति

कोर्ट ने कहा, सारे काग़ज़ CBI को दे दीजिए.