Submit your post

Follow Us

'लव जिहाद' को लेकर योगी सरकार ने पुलिस को अब क्या निर्देश दिए हैं?

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश के गृह मंत्रालय और पुलिस विभाग को निर्देश दिए हैं कि कथित लव जिहाद से जुड़े मामलों को रोकने के हरसंभव प्रयास किए जाएं. प्रदेश सरकार की जानकारियों के मुताबिक यूपी में कथित तौर पर ऐसे मामले बढ़े हैं, जिनमें युवतियों को जबरन या बहला-फुसलाकर धर्म परिवर्तन कराया जा रहा और शादी की जा रही.

इंडियन एक्सप्रेस की ख़बर के मुताबिक- अधिकारियों का कहना है कि कानपुर, मेरठ और फिर अभी हाल ही में लखीमपुर खीरी से इस तरह के केस आए हैं, जहां पुलिस ने जबरन किसी महिला का धर्म परिवर्तन कराने और फिर शादी की बात कही है. इसके बाद ही सरकार ने इस पर सख़्ती दिखाने का फैसला किया है.

योगी आदित्यनाथ के मीडिया सलाहकार मृत्युंजय कुमार ने अखबार से कहा कि –

“प्रदेश के अलग-अलग हिस्सों से लव जिहाद के तमाम मामलों की जानकारी मिल रही है. इसीलिए मुख्यमंत्री इसे रोकने को लेकर सख्त और गंभीर हैं. अधिकारियों से कहा गया है कि इस संबंध में योजना तैयार करें और ये भी देखें कि क्या इसे रोकने के लिए नए कानून की ज़रूरत है.”

प्रदेश के अतिरिक्त मुख्य सचिव (गृह) अवनीश कुमार अवस्थी ने कहा –

“ये असल में एक सामाजिक मुद्दा है. इसे सख़्ती से सुलझाने की ज़रूरत है. सोशल मीडिया आजकल हर जगह मौजूद है और ये इस तरह के मामलों में बड़ी भूमिका निभाता है.”

अवस्थी ने ये भी कहा कि ऐसे मामलों की फास्ट ट्रैक कोर्ट में सुनवाई संभव है और साथ ही आरोपी को इस मामले में जमानत भी नहीं दी जानी चाहिए.

कुछ संदिग्ध केस सामने आए

अभी हाल ही में कानपुर में कुछ ऐसे केस सामने आए हैं, जिन्हें कथित तौर पर ‘लव जिहाद’ बताया जा रहा है. इन युवतियों के परिजनों ने आईजी से शिकायत की है. इंडिया टुडे के रिपोर्टर रंजय सिंह की ख़बर के मुताबिक युवती के परिजनों ने आरोप लगाया कि उनकी बेटी से शादी करने वाला युवक जिस कॉलोनी में रहता है, वहां से और भी कुछ ऐसी शिकायतें आई हैं. परिजनों ने आईजी से कहा कि अभी कुछ महीनों में ही शहर की पांच लड़कियों ने अंतर्धार्मिक विवाह किए हैं. इनमें दो जेल जा चुके हैं.


योगी सरकार मुख्तार अंसारी और अतीक अहमद के खिलाफ कार्रवाई कर रही है

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

अनलॉक-4 की गाइडलाइंस जारी, मेट्रो चलेगी, जानिए स्कूल खोलने को लेकर क्या कहा गया है

धार्मिक और राजनीतिक कार्यक्रमों को लेकर क्या छूट मिली है?

NEET, JEE आगे बढ़ाने की मांग कर रहे छात्र ये पांच कारण बता रहे हैं

तय समय पर परीक्षा कराने के लिए 150 शिक्षाविदों ने लिखी PM मोदी को चिट्ठी.

कोर्ट ने कहा, ये शर्त पूरी किए बिना अनुराग ठाकुर और प्रवेश वर्मा पर दिल्ली दंगों में हेट स्पीच का केस नहीं

बीजेपी नेताओं के खिलाफ़ याचिका ख़ारिज करते हुए अदालत ने और क्या कहा, ये भी पढ़िए.

पाकिस्तान के किस बयान में इंडिया ने एक के बाद एक पांच झूठ पकड़ लिए हैं?

पाकिस्तान ने आतंकवाद फैलाने में भारत का नाम ले लिया, बस हो गया काम.

सोनिया-राहुल को पत्र लिखने पर कांग्रेस मंत्री ने नेताओं से कहा, ‘खुल्लमखुल्ला टहलने नहीं दूंगा’

माफ़ी नहीं मांगने पर परिणाम भुगतने की बात कर डाली.

प्रशांत भूषण के खिलाफ़ अवमानना का मुक़दमा सुन रहे सुप्रीम कोर्ट के इन तीन जजों की कहानी क्या है?

पूरी रामकहानी यहां पढ़िए.

महाराष्ट्र: रायगढ़ में पांचमंज़िला इमारत ढही, 50 से ज़्यादा लोग दबे

एनडीआरएफ की तीन टीमें राहत के काम में जुटी हैं.

क्या 73 दिन में कोरोना वैक्सीन आ रही है? बनाने वाली कंपनी ने बताई सच्ची-सच्ची बात

कन्फ्यूजन है कि खुश होना है या अभी रुकना है?

प्रशांत भूषण ने कही ये बात, तो कोर्ट बोला- हजार अच्छे काम से गुनाह करने का लाइसेंस नहीं मिल जाता

बचाव में उतरे केंद्र की अपील, सजा न देने पर विचार करें, सुप्रीम कोर्ट ने दिया दो-तीन दिन का वक्त

सुशांत पर सुप्रीम कोर्ट ने CBI जांच का आदेश दिया, महाराष्ट्र के वकील को आपत्ति

कोर्ट ने कहा, सारे काग़ज़ CBI को दे दीजिए.