Submit your post

Follow Us

यूपी में गाय पालने के लिए हर महीने पैसे देगी योगी सरकार, पर कितना?

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने निर्देश दिए हैं कि प्रदेश में जो महिलाएं या बच्चे कुपोषण के शिकार हैं, उनके घर में गाय उपलब्ध कराई जाए. हालांकि ये ऐच्छिक होगा. माने वो परिवार गाय पालने का इच्छुक हो और उनके पास गाय रखने के लिए पर्याप्त जगह हो. साथ ही गाय के भरण-पोषण के लिए हर महीने यूपी सरकार 900 रुपए भी देगी.

दरअसल यूपी सरकार प्रदेश में कुपोषण कम करने की कोशिश कर रही है. इसी के तहत सात सितंबर से ‘पोषण माह’ भी चलाया जा रहा है. इस एक महीने में प्रदेश में अलग-अलग स्तर पर कुपोषित परिवारों पर ध्यान देने, पोषण आहार को लेकर जागरुकता फैलाने और कुपोषित परिवारों को ज़रूरी रिसोर्स उपलब्ध कराने पर ध्यान दिया जाएगा. सीएम ने छह महीने में कुपोषण की दर को एक फीसदी नीचे लाने का लक्ष्य रखा है.

इसी के तहत गाय पालने को बढ़ावा दिया जा रहा है. सरकार कुपोषण से जूझ रहे परिवारों को किचन गार्डन बनाने के लिए भी प्रोत्साहित करेगी, ताकि उनको और उनके परिवार को पोषण वाले खाद्य पदार्थ मिल सकें. इसके अलावा SAM (सिवियर एक्यूट मालन्यूट्रिशन) बच्चों को चिह्नित भी किया जाएगा.

सबसे अच्छे जिले को अवॉर्ड मिलेगा

मार्च-2021 तक ये देखा जाएगा कि कौन सा जिला कुपोषण को कम करने में कैसा काम कर रहा है. इसके आधार पर जो जिला सबसे अच्छा काम करेगा, उसे पुरस्कार भी दिया जाएगा. ‘न्यूट्रीशन ड्राइव’ का अलग-अलग स्तर पर लगातार रिव्यू किया जाएगा. जिला स्तर पर हफ्ते-दर-हफ्ते रिव्यू किया जाएगा. मुख्य सचिव स्तर पर महीने-दर-महीने रिव्यू. और सीएम हर दो-दो महीने में रिव्यू करेंगे कि कुपोषण दूर करने का काम कैसा चल रहा.

इससे पहले चार सितंबर को योगी आदित्यनाथ ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये तमाम जिलों के ऐसे परिवारों से बात की, जिन्होंने कुपोषण को दूर करने के लिए अच्छा काम किया है. बहराइच, लखीमपुर खीरी, बलरामपुर और बाराबंकी जैसे जिलों के लोगों से बात की.


इंडिया टुडे कार्वी के इस सर्वे के मुताबिक योगी आदित्यनाथ बेस्ट सीएम हैं

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

अरुणाचल के कांग्रेस विधायक का दावा- बॉर्डर से पांच भारतीयों को उठा ले गया चीन

पुलिस ने कहा, कुछ भी कंफर्म नहीं, सेना ही दे सकती है जानकारी.

पबजी बैन, सोशल मीडिया ने कहा- ‘उनका’ वीडियो डिसलाइक करने का नतीजा है

118 ऐप्स बैन कर दिए गए हैं.

चेन्नई सुपरकिंग्स के लिए पॉज़िटिव न्यूज़ आई है

बड़े दिनों के बाद.

सेरो सर्वे की मानें, तो ठीक होने के बाद दोबारा हो सकता है कोरोना!

208 में से 97 लोगों में नहीं मिली एंटीबॉडी.

अवमानना वाले मामले में सुप्रीम कोर्ट ने प्रशांत भूषण को क्या सज़ा दी है?

प्रशांत भूषण के दो ट्वीट का मुद्दा था.

अनलॉक-4 की गाइडलाइंस जारी, मेट्रो चलेगी, जानिए स्कूल खोलने को लेकर क्या कहा गया है

धार्मिक और राजनीतिक कार्यक्रमों को लेकर क्या छूट मिली है?

NEET, JEE आगे बढ़ाने की मांग कर रहे छात्र ये पांच कारण बता रहे हैं

तय समय पर परीक्षा कराने के लिए 150 शिक्षाविदों ने लिखी PM मोदी को चिट्ठी.

कोर्ट ने कहा, ये शर्त पूरी किए बिना अनुराग ठाकुर और प्रवेश वर्मा पर दिल्ली दंगों में हेट स्पीच का केस नहीं

बीजेपी नेताओं के खिलाफ़ याचिका ख़ारिज करते हुए अदालत ने और क्या कहा, ये भी पढ़िए.

पाकिस्तान के किस बयान में इंडिया ने एक के बाद एक पांच झूठ पकड़ लिए हैं?

पाकिस्तान ने आतंकवाद फैलाने में भारत का नाम ले लिया, बस हो गया काम.

सोनिया-राहुल को पत्र लिखने पर कांग्रेस मंत्री ने नेताओं से कहा, ‘खुल्लमखुल्ला टहलने नहीं दूंगा’

माफ़ी नहीं मांगने पर परिणाम भुगतने की बात कर डाली.