Submit your post

Follow Us

टोक्यो में विनेश को फिजियो ना मिलने के मामले में हुआ नया खुलासा

टोक्यो ओलंपिक्स के बाद से ही विनेश फोगाट से जुड़े विवाद शांत होने का नाम ही नहीं ले रहे. WFI द्वारा विनेश को अस्थाई रूप से निलंबित किया गया. फिर विनेश ने WFI के नोटिस का जवाब दिया और अब इस पूरे मामले में और चीजें सामने आ रही हैं. विनेश ने ओलंपिक्स शुरू होने से पहले ही कहा था कि उन्हें और उनकी साथी विमिन रेसलर्स को फिजियो नहीं मिला. इसके बाद WFI ने अपनी सफाई में कहा था कि विनेश को अपने पर्सनल स्टाफ की जिम्मेदारी खुद लेनी चाहिए.

अब इस मामले में इंडियन ओलंपिक्स असोसिएशन (IOA) का बयान भी आया है. IOA ने इस मामले से अपना पल्ला झाड़ लिया है. उन्होंने साफ़ कह दिया है कि इसमें उनकी कोई गलती नहीं थी.

IOA का कहना है कि टोक्यो ओलंपिक्स में रेसलर्स के स्टाफ पर अंतिम फैसला नेशनल स्पोर्ट्स फेडरेशन यानी NSF, इस मामले में WFI का है. उनका कहना है कि अगर विनेश की फिजियो पूर्णिमा का नाम एक्रिडिटेशन की लिस्ट में नहीं था तो वह IOA की गलती नहीं है. IOA के प्रेसिडेंट नरिंदर बत्रा ने इंडियन एक्सप्रेस को बताया,

‘नाम लिस्ट में पहले से होना चाहिए नहीं तो नए एक्रिडिटेशन के लिए प्रोसेस बहुत लम्बा हो जाता है. मान लो कोई अगर बीमार भी पड़ जाता है तो उसके लिए भी छूट नहीं है. पर अगर आप कहते हैं कि हमने लिस्ट में नाम इसलिए नहीं दिया, क्योंकि हम भूल गए तो बता दें कि लिस्ट में रेसलिंग के लिए तीन से चार फिजियो के नाम थे. और इन्हीं में से एक फिजियो टोक्यो गया खा.’

एक्सप्रेस का यह भी दावा है कि WFI ने अपने नाम मौखिक तौर पर ही बताए थे. उन्होंने लिखित में लिस्ट में दिए नामों के बारे में कोई सफाई नहीं दी थी. जिससे विनेश को भी नहीं पता था कि उनकी फिजियो का नाम लिस्ट में है या नहीं.

बता दें कि टोक्यो ओलंपिक्स में तीन मेंस रेसलर्स के लिए छह कोच भेजे गए थे. वहीं चार विमिन रेसलर्स के लिए केवल एक हेड कोच था. बत्रा से जब पूछा गया कि क्या यह लैंगिक भेदभाव के चलते हुआ है? तो उन्होंने कहा,

‘मैं नहीं मानता. IOA या NSF के लिए जेंडर कभी कोई मसला नहीं रहा. जिसने भी क्वॉलिफाई किया है वह खेलने गया है. यह बिलकुल गलत खबर है.’

बता दें कि विनेश ने टोक्यो ओलंपिक्स के शुरू होने के एक हफ्ते पहले ही अपने और अपनी साथियों के लिए फिजियो की मांग की थी. लेकिन उनकी अपील को अनसुना कर दिया गया था. ओलंपिक्स के दौरान विनेश को टेम्पररी तौर पर फिजियो मिला था लेकिन विनेश की मानें तो उस फिजियो को रेसलर्स की जरूरत के बारे में पता नहीं था. इसलिए उससे कुछ खास मदद नहीं हो पाई.


लॉर्ड्स में अगर ये ना होता तो टीम इंडिया इतना जोश में आकर ना खेलती!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

यूपी चुनाव: सपा-सुभासपा गठबंधन का ऐलान, राजभर बोले- एक भी सीट नहीं देंगे तो भी समर्थन रहेगा

सपा ने ट्वीट कर कहा- 2022 में मिलकर करेंगे बीजेपी को साफ़!

आगरा में पुलिस कस्टडी में सफाईकर्मी की मौत, बवाल के बाद पुलिसकर्मियों पर FIR, 6 सस्पेंड

थाने के मालखाने से 25 लाख चोरी के आरोप में पुलिस ने पकड़ा था सफाईकर्मी को.

लखीमपुर की जांच से हाथ खींच रही यूपी सरकार? SC ने तगड़ी फटकार लगाते हुए और क्या सवाल दागे?

सुप्रीम कोर्ट ने कहा, कभी खत्म न होने वाली कहानी न बन जाए ये जांच.

केरल के साथ उत्तराखंड में भी बारिश का कहर, सड़कें, इमारतें, पुल ध्वस्त, 16 की मौत

केरल में भारी बारिश के कारण हुई मौतों की संख्या 35 तक पहुंची.

जिस CBI अफसर को केस बंद करने के लिए सौंपा गया था, उसी ने सलाखों के पीछे पहुंचा दिया राम रहीम को

इंसाफ दिलाने के लिए धमकियों और खतरों की परवाह नहीं की.

लगातार दूसरे दिन आतंकियों ने गैर कश्मीरी मजदूरों को बनाया निशाना, 2 की मौत, 1 घायल

पुलिस और सुरक्षा बलों ने इलाके को घेरा.

केरल में भारी बारिश से तबाही, 25 से ज़्यादा मौतें, कई लापता

पीएम मोदी ने केरल के मुख्यमंत्री से की बात.

श्रीनगर में बिहार के रेहड़ीवाले और पुलवामा में यूपी के मजदूर की गोली मारकर हत्या

कश्मीर ज़ोन पुलिस ने बताया घटनास्थलों को खाली कराया गया. तलाशी जारी.

सिंघु बॉर्डर पर युवक की बर्बर हत्या पर किसान नेताओं ने क्या कहा है?

राकेश टिकैत ने भी मीडिया से बात की है.

बांग्लादेश: दुर्गा पूजा पंडाल को कट्टरपंथियों ने तहस-नहस किया, मूर्तियां तोड़ीं, 3 लोगों की मौत

कुरान को लेकर अफवाह उड़ी और बांग्लादेश के कई हिस्सों में सांप्रदायिक तनाव फैल गया.