Submit your post

Follow Us

मंदी पर बोले बाबा रामदेव, अब खुद मोदी तो खेत में हल जोतेंगे नहीं

देश की इकनॉमी को लेकर योगगुरु रामदेव ने कुछ ऐसी बात कह दी है, जिसे हजम करने में कई लोगों को परेशानी हो सकती है. रामदेव ने कहा कि पीएम मोदी ने नोटबंदी, जीएसटी और दूसरी जो भी आर्थिक सुधार किए हैं, उनके पीछे सरकार की नीयत ‘अच्छी’ थी. देश ने इन सुधारों को ‘पचा’ लिया है. उन्होंने कहा कि देश को आगे बढ़ाने की ज़िम्मेदारी सवा सौ करोड़ जनता की भी है, अब खुद मोदी खेत में हल तो जोतेंगे नहीं.

जब रिपोर्टरों ने रामदेव से देश में आर्थिक सुस्ती पर उनकी प्रतिक्रिया जाननी चाही, तो उन्होंने कहा:

खुद पीएम ने हाल ही में कहा है कि भारतीय अर्थव्यवस्था में बड़ी ताकत है. देश आर्थिक सुस्ती के दौर से उबर जाएगा. पीएम और फाइनेंस मिनिस्टर ने इन हालात पर अपनी आंखें बंद नहीं कर रखी हैं.

रामदेव ने आगे कहा:

लोगों को निगेटिव चीजों पर रोना नहीं चाहिए, बल्कि ये सोचना चाहिए कि देश आगे कैसे बढ़ेगा. क्योंकि देश को आगे बढ़ाने की ज़िम्मेदारी सवा सौ करोड़ जनता की भी है. अब खुद मोदी तो खेत में हल तो जोतेंगे नहीं. या कोई कंपनी तो चलाएंगे नहीं.

दरअसल, रामदेव इंदौर में रुचि सोया और पतंजलि आयुर्वेद से जुड़े लोगों के साथ हुई एक बैठक में शामिल हुए. उन्होंने वहीं ये सारी बातें कहीं. पतंजलि ने देश की जानी-मानी कंपनी रुचि सोया को 4350 करोड़ में खरीद लिया है. रामदेव का कहना है कि पतंजलि ने अपने बिजनेस के विस्तार का पहला अभियान पूरा कर लिया है. अब वो रुचि सोया में 50 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा की पूंजी लगाने की योजना बना रहे हैं. इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए नए प्रोडक्ट भी वो लॉन्च करेंगे.

जब मोदी सरकार पर निशाना साधा था-

ये वही रामदेव हैं, जिन्होंने पीएम मोदी पर रुपये और डॉलर को लेकर निशाना साधा था. सितंबर, 2018 में आज तक के हल्ला बोल कार्यक्रम में रामदेव पहुंचे थे. उन्होंने कहा था-

रुपया नहीं गिरा है, देश की साख भी गिरी है. अगर यही हाल रहा तो, एक डॉलर की कीमत 80 रुपये के बराबर हो जाएगी. सरकार चाहे तो पेट्रोल और डीजल के टैक्स घटा सकती है, इससे पेट्रोल-डीजल के दाम में कमी आ सकती है. ये 35-40 रुपये में मिल सकता है.

उन्होंने कहा था महंगाई की आग बुझानी पड़ेगी, नहीं हो मोदी सरकार को ये आग बहुत महंगी पड़ेगी. रामदेव ने कहा था कि डॉलर के सामने रुपये की कीमत 70 हो गई. हो सकता है कि कल 80 रुपये देकर हमें एक डॉलर खरीदना पड़े. जब हिन्दुस्तान आजाद हुआ था, उस समय रुपया और डॉलर बराबर थे.

‘दीपिका का एडवाइजर रामदेव को होना चाहिए’

दीपिका पादुकोण JNU गई थीं. उस पर काफी बवाल हुआ. लोगों ने तरह-तरह की प्रतिक्रिया दी. अब रामदेव ने भी अपने मन की बात की. उन्होंने कहा-

दीपिका में अभिनय के नजरिए से कुशलता होना अलग बात है. लेकिन सामाजिक, राजनीतिक और सांस्कृतिक मुद्दों का ज्ञान हालिस करने के लिए उन्हें देश के बारे में समझना-पढ़ना पड़ेगा. मुझे लगता है कि दीपिका पादुकोण को स्वामी रामदेव जैसे सलाहकार को रख लेना चाहिए, जो उन्हें ऐसे मुद्दों पर सही बता सके.

वीडियो देखें : जिस पतंजलि ने स्वदेशी का हल्ला काटकर ढेर पैसा पीटा, वो विदेशी कंपनी से हाथ मिलाएगी!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

अब केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने लगवाया नारा, "देश के गद्दारों को, गोली मारो *लों को"

क्या केन्द्रीय मंत्री ऐसे बयान दे सकता है?

माओवादियों ने डराया तो गांववालों ने पत्थर और तीर चलाकर माओवादी को ही मार डाला

और बदले में जलाए गए गांववालों के घर

बंगले की दीवार लांघकर पी. चिदम्बरम को गिरफ्तार किया, अब राष्ट्रपति मेडल मिला

CBI के 28 अधिकारियों को राष्ट्रपति पुलिस मेडल दिया गया.

झारखंड के लोहरदगा में मार्च निकल रहा था, जबरदस्त बवाल हुआ, इसका CAA कनेक्शन भी है

एक महीने में दूसरी बार झारखंड में ऐसा बवाल हुआ है.

BJP नेता कैलाश विजयवर्गीय लोगों को पोहा खाते देख उनकी नागरिकता जान लेते हैं!

विजयवर्गीय ने कहा- देश में अवैध रूप से रह रहे लोग सुरक्षा के लिए बड़ा खतरा हैं.

CAA-NRC, अयोध्या और जम्मू-कश्मीर पर नेशन का मूड क्या है?

आज लोकसभा चुनाव हुए तो क्या होगा मोदी सरकार का हाल?

JNU हिंसा केस में दिल्ली पुलिस की बड़ी गड़बड़ी सामने आई है

RTI से सामने आई ये बात.

CAA पर सुप्रीम कोर्ट में लगी 140 से ज्यादा याचिकाओं पर बड़ा फैसला आ गया

असम में NRC पर अब अलग से बात होगी.

दिल्ली चुनाव में BJP से गठबंधन पर JDU प्रवक्ता ने CM नीतीश को पुरानी बातें याद दिला दीं

चिट्ठी लिखी, जो अब वायरल हो रही है.

CAA और कश्मीर पर बोलने वाले मलयेशियाई PM अब खुद को छोटा क्यों बता रहे हैं?

हाल में भारत और मलयेशिया के बीच रिश्तों में खटास बढ़ती गई है.