Submit your post

Follow Us

नानी ने दिया बेटी की बेटी को जन्म

अमेरिका में 54 साल की ट्रेसी थॉम्सन वो प्यारी नानी हैं. जिन्होंने रिस्क लेकर अपनी बेटी को मम्मी बनने का सुख अहसास कराया. सरोगेसी का नाम तो सुना होगा, उसी जुगाड़ से. उम्र के इस दौर में ये फैसला बहुत खतरनाक था. लेकिन बहुत एहतियात से ये टास्क संपन्न हुआ.

28 साल की केली और उनके पति आरोन मेकइसाक बड़े परेशान थे. तीन साल से एक बच्चे की आस थी, लेकिन कामयाबी नहीं मिल रही थी. बड़े ट्रीटमेंट, तगड़ा खर्च करने के बावजूद कुछ हासिल नहीं हुआ. तीन बार गर्भपात भी हो गया. सपने चूर हो चुके थे. जब केली की मम्मी ने एक बात कहकर उनको चक्कर में डाल दिया.

मम्मी ट्रेसी ने ऑफर रखा अपनी नातिन की सरोगेट मदर बनने का. दोनों मान गए. बड़ी सावधानी से इसका इंतजाम हुआ. 6 जनवरी को ट्रेसी ने केली की बेटी को जन्म दिया. दोनों नामों के कॉम्बो से बच्ची का नाम रखा केल्सी.

उसके बाद दोनों मम्मियां परम प्रसन्न हैं. केली बताती हैं कि बचपन में मैं अपनी मां से कहती थी ‘अगर मैं अपने बच्चों को न संभाल पाऊं तो आप संभालोगी?’ मम्मी ने कहा कि बिल्कुल संभालेंगे. और अब देखो फाइनली वो सब सच हो रहा है.

kelly 2

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

कोरोना वायरस के चलते UP के इन 15 जिलों को योगी सरकार ने पूरी तरह सील कर दिया है

13 अप्रैल तक दुकानें भी नहीं खुलेंगी.

कोरोना संदिग्ध ने लॉकडाउन में ई-रिक्शा से नाप दी सैकड़ों किलोमीटर की दूरी

यूपी से बिहार के शहर में कैसे पहुंचा युवक, बाद में पता चला.

'महाभारत' के दोबारा टीवी पर आने पर भीष्म पितामह ने एकता कपूर को क्यों लताड़ डाला?

मुकेश खन्ना ने एकता कपूर का भयानक मज़ाक बना दिया है.

कोरोना वायरसः ऐसा क्या हुआ कि अस्पताल जाते-जाते बच गईं शेफाली शाह?

इंस्टाग्राम पर बताई पूरी कहानी.

इंस्टाग्राम लाइव के दौरान क्यों बोले युवराज सिंह- अब सीनियर्स की इज्जत नहीं करते यंगस्टर्स

रोहित शर्मा के साथ इंस्टाग्राम लाइव कर रहे थे युवी.

वॉट्सऐप के इस नए फीचर से लॉकडाउन का समय काटना आसान हो जाएगा

ट्वीट करके जानकारी दी.

कोरोना: ट्विटर CEO जैक डोर्सी दुनिया में सबसे बड़ी रकम डोनेट करने वाले व्यक्ति बने

अपनी कुल संपत्ति का एक-चौथाई से भी बड़ा हिस्सा दिया.

लॉकडाउन से जूझ रहे वर्कर्स को सलमान खान ने जितना कहा था, उसका आधा दे दिया

लेकिन ये अमाउंट है कितना, पता चल गया.

'शब-ए-बारात' में लॉकडाउन न टूटे, इसके लिए दिल्ली पुलिस ने ये तरीका खोज निकाला है

8 अप्रैल की रात से 9 अप्रैल की सुबह तक है 'शब-ए-बारात.'

न्यूज एजेंसी ANI ने तबलीगी के नाम से गलत खबर दी, DCP नोएडा ने ऐसे फटकारा

इससे पहले पुलिस ज़ी न्यूज़ को भी लताड़ चुकी है.