Submit your post

Follow Us

सुप्रीम कोर्ट ने कहा- किसी को DNA टेस्ट के लिए मजबूर करना व्यक्तिगत स्वतंत्रता का उल्लंघन

DNA टेस्ट को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने अहम फ़ैसला सुनाया है. कहा है कि अदालतें नियमित रूप से लोगों के DNA टेस्ट का आदेश ना दें. DNA टेस्ट कराना निजता के अधिकार का उल्लंघन है. इसके लिए मजबूर करना भी किसी की व्यक्तिगत स्वतंत्रता का उल्लंघन करना होगा. कोर्ट ने कहा कि देश की सभी अदालतें सिर्फ उन मामलों में ही DNA टेस्ट कराने का आदेश दें, जिनमें इसकी अत्यधिक आवश्यकता हो. जस्टिस आर सुभाष रेड्डी और जस्टिस हृषिकेश रॉय की बेंच ने कहा कि अदालतों को अपने विवेक का इस्तेमाल कर ये तय करना चाहिए कि किस मामले में न्याय करने के लिए DNA टेस्ट की आवश्यकता है और किसमें नहीं.

बेंच ने कहा –

“ऐसी परिस्थितियों में जहां रिश्ते को साबित करने या विवाद सुलझाने के लिए अन्य सबूत उपलब्ध हैं तो अदालत को DNA टेस्ट का आदेश देने से बचना चाहिए. ये टेस्ट किसी के निजता के अधिकार को प्रभावित करते हैं. इसके बड़े सामाजिक परिणाम भी हो सकते हैं. निजता के अधिकार के संरक्षण को प्राथमिकता मिलनी चाहिए.”

किस मामले की सुनवाई?

इसके साथ ही अदालत जिस मामले की सुनवाई कर रही थी, उसको लेकर भी कहा कि अपीलकर्ता ने अपने मामले को स्थापित करने के लिए पर्याप्त सबूत दे दिए हैं, इसलिए DNA टेस्ट की ज़रूरत नहीं है. मामला संपत्ति विवाद का था. अपीलकर्ता ने दिवंगत दंपति द्वारा छोड़ी गई संपत्ति पर दावा किया था. दंपति की तीन बेटियों ने इस बात से इनकार किया कि अपीलकर्ता, मृतक का बेटा था. निचली अदालत के समक्ष बेटियों ने उसका DNA टेस्ट कराने की अर्जी दी.

अपीलकर्ता ने इस आवेदन का विरोध करते हुए दावा किया कि यह कानून की प्रक्रिया का दुरुपयोग है. उसने यह दिखाने के लिए पर्याप्त सबूत पेश किए कि वह दिवंगत दंपति का बेटा है. ट्रायल कोर्ट ने DNA  टेस्ट का आदेश पारित करने से इनकार कर दिया था. इसके बाद मामला हाई कोर्ट में गया. हाई कोर्ट ने कहा कि अपीलकर्ता को प्रतिवादियों द्वारा सुझाए गए DNA टेस्ट से हिचकिचाना नहीं चाहिए और टेस्ट कराना चाहिए. इसके बाद युवक ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया. जहां से अब उन्हें DNA टेस्ट को लेकर राहत मिली है.

क्या-क्या पता चलता हैDNAटेस्टिंग से?

DNA टेस्टिंग से शरीर के कई राज सामने आ सकते हैं. हालांकि सामान्य तौर पर इन बातों का पता करने के लिए ये टेस्ट कराए जाते हैं –

# अपराध की जांच करते वक्त मौके पर मिले शरीर के किसी भी जैविक हिस्से (जैसे- बाल, नाखून, वीर्य, थूक, खून आदि) के जरिए यह पता लगाया जा सकता है कि आरोपी मौके पर मौजूद था या नहीं.

# अगर माता-पिता को कोई जैविक बीमारी है तो कहीं वह बच्चे में तो नहीं पहुंच गई. इस बात का पता भी DNA टेस्टिंग के जरिए हो जाता है.

# सगे संबंधी या कोई खून का रिश्तेदार है या नहीं, ये भी पता लगाया जा सकता है.

# किसी के DNA टेस्ट के जरिए यह भी पता लगाया जा सकता है कि उसे किस तरह की बीमारी होने के चांस ज्यादा हैं.


क्या अपनी मर्जी से लैब में जाकर कोई भी DNA टेस्ट करा सकता है?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

कासगंज: पुलिस लॉकअप में अल्ताफ़ की मौत कोई पहला मामला नहीं.

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

पुलिस ने कहा था, 'अल्ताफ ने जैकेट की डोरी को नल में फंसाकर अपना गला घोंटा.'

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये ख़बर हमारे देश का एक और सच है.

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

क्या समीर वानखेड़े को NCB जोनल डायरेक्टर पद से हटा दिया गया है?

Covaxin को WHO के एक्सपर्ट पैनल से इमरजेंसी यूज की मंजूरी मिली

Covaxin को WHO के एक्सपर्ट पैनल से इमरजेंसी यूज की मंजूरी मिली

स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने पीएम मोदी के लिए क्या कहा?

आज आए चुनाव नतीजे में ममता, कांग्रेस और BJP को कहां-कहां जीत हार का सामना करना पड़ा?

आज आए चुनाव नतीजे में ममता, कांग्रेस और BJP को कहां-कहां जीत हार का सामना करना पड़ा?

उपचुनाव के नतीजे एक जगह पर.

जेल से बाहर आए शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान, मन्नत के लिए रवाना

जेल से बाहर आए शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान, मन्नत के लिए रवाना

3 अक्टूबर को आर्यन खान को गिरफ्तार किया गया था.

वरुण गांधी ने कहा- UP में किसानों का फसल जलाना सरकार के लिए शर्म की बात, जेल कराऊंगा

वरुण गांधी ने कहा- UP में किसानों का फसल जलाना सरकार के लिए शर्म की बात, जेल कराऊंगा

किसानों के बहाने फिर बीजेपी पर निशाना साध रहे वरुण गांधी?

कन्नड़ सुपरस्टार पुनीत राजकुमार की सिर्फ 46 की उम्र में डेथ!

कन्नड़ सुपरस्टार पुनीत राजकुमार की सिर्फ 46 की उम्र में डेथ!

ट्विटर पर फिल्म इंडस्ट्री ने पुनीत को किया भारी मन से याद.

Facebook का नाम बदलने के बाद क्या अब आपका अकाउंट Meta पर खुलेगा?

Facebook का नाम बदलने के बाद क्या अब आपका अकाउंट Meta पर खुलेगा?

इससे फेसबुक पर क्या कुछ फर्क पड़ने वाला है?