Submit your post

Follow Us

अयोध्या : रिव्यू पिटीशन दायर करने से सुन्नी वक्फ बोर्ड का इंकार

बाबरी मस्जिद और राम मंदिर का मामला. सुप्रीम कोर्ट ने निर्णय दिया. 9 नवम्बर को. कहा कि मंदिर वाली पूरी ज़मीन रामलला विराजमान को देंगे. और आदेश दिया गया कि मुस्लिम पक्ष को पांच एकड़ की ज़मीन दी जाए. मुस्लिम पक्ष में इस मामले को लेकर अभी भी कन्फ्यूज़न है. रिव्यू पिटीशन फ़ाइल करेंगे या नहीं? इस पर कन्फ्यूज़न.

अब आज यानी 26 नवंबर को सुन्नी सेन्ट्रल वक्फ बोर्ड की मीटिंग हुई. इस मीटिंग में बोर्ड के आठ लोगों में से 7 लोग मौजूद थे. इनमें से 6 लोगों ने कहा कि वे इस मामले में कोई पुनर्विचार याचिका दायर नहीं करना चाहते हैं. हालांकि बोर्ड ने ये साफ़ नहीं किया है कि वे पांच एकड़ की ज़मीन से जुड़े निर्णय का क्या करेंगे?

मीटिंग के बाद जारी किया गया सुन्नी वक्फ बोर्ड का लेटर, जिसमें बोर्ड ने साफ़ किया है कि वो पुनर्विचार याचिका दायर नहीं करने वाले है.
मीटिंग के बाद जारी किया गया सुन्नी वक्फ बोर्ड का लेटर, जिसमें बोर्ड ने साफ़ किया है कि वो पुनर्विचार याचिका दायर नहीं करने वाले है.

मीटिंग में अधिवक्ता इमरान मबूद खान नहीं मौजूद थे. और छः के अलावा जिस बोर्ड सदस्य ने मीटिंग में रिव्यू पिटीशन फ़ाइल करने की वकालत की, वो थे अधिवक्ता अब्दुल रज्ज़ाक खान. मीटिंग में उन्होंने मांग रखी की कि बोर्ड को सुप्रीम कोर्ट में इस मामले में पुनर्विचार याचिका दायर करनी चाहिए. मबूद खान और रज्ज़ाक खान ने पहले भी कहा है कि वे चाहते हैं कि बोर्ड पुनर्विचार याचिका दायर करे.


भले ही सुन्नी वक्फ बोर्ड पुनर्विचार याचिका दायर न कर रहा हो, लेकिन आल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने पूरा मन बनाया है कि वो इस मामले में पुनर्विचार याचिका दायर करेगा. “दी लल्लनटॉप” से बात करते हुए सुन्नी वक्फ बोर्ड के वकील और AIMPLB के सदस्य ज़फ़रयाब जीलानी ने साफ़ किया था कि अगर सुन्नी वक्फ बोर्ड पुनर्विचार याचिका दायर नहीं करना चाहता है, तो ये इसका चुनाव है. लेकिन आल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने अपना रुख स्पष्ट किया है कि वो पुनर्विचार याचिका दायर करेगा.


लल्लनटॉप वीडियो : अयोध्या: सुन्नी वक्फ बोर्ड और ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के बीच क्या चल रहा है?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

दिल्ली दंगा : मरा है या नहीं, ये चेक करने के लिए ज़िंदा शाहबाज़ पर पेट्रोल डालकर आग लगा दी गयी!

कोर्ट में सुनवाई में दिल्ली पुलिस ने क्या बताया

अयोध्या भूमिपूजन से पहले मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड की 'धमकी' का क्या सुप्रीम कोर्ट लेगा संज्ञान?

AIMPLB ने Tweet पर विवाद देख डिलीट कर लिया है.

दिशा सालियान की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट ने खुलासा किया कि मौत की असली वजह क्या थी

मुंबई में एक बिल्डिंग के 14वें माले से गिरकर दिशा की जान गई थी.

दिशा सालियान केस में मुंबई पुलिस अब लोगों से क्या मदद मांग रही है?

बीजेपी सांसद नारायण राणे ने गंभीर आरोप लगाए थे.

जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के UPSC निकालने वाले कैंडिडेट्स ने बताया एग्ज़ाम की तैयारी कैसे की

जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के 16 कैंडिडेट ने परीक्षा पास की है.

अयोध्या : भूमिपूजन में नरेंद्र मोदी और सारे गेस्ट्स की इन तस्वीरों को देखिए!

राम मंदिर का भूमिपूजन.

UPSC रैंकर जिसकी तुलना 'पाताल लोक' के इमरान अंसारी से हो रही है

दिल्ली पुलिस परिवार से पांच लोगों ने इस बार UPSC एग्ज़ाम क्रैक किया है.

इमरान खान ने तमाम छेड़छाड़ करके पाकिस्तान का एक नया नक्शा पेश किया है

उनकी कैबिनेट ने वो नक्शा पास कर दिया है.

मुंबई पुलिस कमिश्नर ने अधिकारियों से कहा, सुशांत की मौत से जुड़ी जानकारी किसी से भी शेयर नहीं करना!

उस मीटिंग में और क्या कहा मुंबई के पुलिस कमिशनर ने?

फ़रवरी में ही परिवार ने मुंबई पुलिस से सुशांत को बचाने की अपील की थी, पुलिस ने कहा, 'नहीं मिली कम्प्लेन'

सुशांत के जीजा ने DCP को लिखे अपने मैसेज में और क्या बताया?