Submit your post

Follow Us

समाजवादी पार्टी के सांसद बोले, अल्लाह माफ कर दे तो खत्म हो जाएगा कोरोना

समाजवादी पार्टी के दो मुस्लिम सांसदों डॉक्टर एसटी हसन और सांसद शफीकुर्रहमान बर्क का कोरोना को लेकर दिए गए बयान की चर्चा हो रही है. संभल सीट से समाजवादी पार्टी के सांसद शफीकुर्रहमान बर्क ने कहा है कि कोरोना कोई बीमारी नहीं है, बल्कि सरकार की गलतियों की वजह से अजाबे इलाही (अल्लाह का प्रकोप) है. अल्लाह के सामने गिड़गिड़ाकर माफी मांगने से ही इसका खात्मा होगा.

मीडिया से बातचीत में उन्होंने कहा-

मैंने पिछले साल ही कह दिया था. जहां तक कोरोना वायरस का तालुक है, अगर कोई बीमारी होती तो सारी दुनिया में इसका कोई इलाज होता. इसका कोई इलाज हो ही नहीं रहा है. मैं इसको कहता हूं ये बीमारी नहीं बल्कि, अजाबे इलाही (अल्लाह का प्रकोप) है. हमसे गलतियां हुई हैं. खताएं हुई हैं तो हम एक जगह अल्लाह के दरबार में बैठकर हिन्दू भाई अपने यहां या जो भी जिस मजहब का है, सब दुआएं मिलकर करें और अल्लाह ताला से कहें कि हमारी गलतियों को माफ कर दे. इस अजाब से हमें छुट्टी दे दे. लेकिन इस पर गवर्नमेंट बोलने लगी कि आप तो बयान देकर भड़का रहे हैं. मैंने कहा मैं क्यों भड़काता. मैं तो सच्ची बात कह रहा हूं…. जब हम एक जगह बैठकर रोएंगे, गिड़गिड़ाएंगे, दुआ मांगेंगे तो अल्लाह ताला ने माफ कर दिया तो सब खत्म हो जाएगा.

जब उनसे कहा गया कि सांसद जी (एसटी हसन) का ये कहना है कि मुल्क में जितनी आफतें आ रही हैं, तूफान आ रहा है, कोरोना आ रहा है, लोग मर रहे हैं ये सिर्फ इस वजह से है कि बीजेपी ने अपने सात साल के कार्यकाल में शरीयत से छेड़छाड़ की है. इससे आप सहमत है.

सांसद शफीकुर्रहमान बर्क ने कि तूफान वगैरह आते हैं और आते रहेंगे.अगर हमसे गलती ज्यादा हो गई तो अल्लाह से माफी मांगने की जरूरत है. मैं किसी को ये नहीं कहूंगा कि कौन जिम्मेदार है. हर लोगों से गलती होती है. जिससे गलती हुई है उसे अल्लाह से माफी मांगनी चाहिए.

वैक्सीन को लेकर उन्होंने कहा,

अगर गवर्नमेंट वैक्सीन लगवा रही है तो लगवाने में कोई ऐतराज नहीं होना चाहिए. वैक्सीन लगवा सकते हैं.

इसी बातचीत में उन्होंने आरोप लगाया कि  बीजेपी मॉब लिंचिंग करा रही है. लड़कियों को पकड़वा कर रेप करवा रही है. जगह-जगह ज्यादती और जुल्म हो रहे हैं. उन्होंने सवाल किया कि क्या इसको गलती नहीं मानेंगे. गर्वमेंट की पॉलिसी में गलती हुई है. किससे नहीं होती हैं गलतियां. मौजूदा गर्वमेंट है तो उसी की गलती उछाली जाएगी.

इससे पहले मुरादाबाद सीट से समाजवादी पार्टी के सांसद एस.टी. हसन ने कोरोना को आसमानी आफत बताते हुए एक तरह से मोदी सरकार को इसके लिए जिम्मेदार ठहरा दिया था. उन्होंने कहा था,

हर आदमी को अपनी पीठ थपथपाने का हक है. वह अपनी पीठ थपथपाते रहें, लेकिन (मोदी सरकार के) इन 7 सालों में जनता का जो हश्र हुआ है वह मुझसे और आप से छुपा हुआ नहीं है. जिस तरह से नाइंसाफी हुई हैं इन 7 सालों के अंदर, जिस तरह से डिस्क्रिमिनेशन हुआ है मासेस के बीच, चाहे ऐसे कानून बना दिए गए हैं जिसमें शरीयत के अंदर दखल दिया गया हो चाहे ऐसा कानून बना दिया गया हो जिसमें दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र में पर्टिकुलर एक कम्युनिटी को कह दिया गया उनको नागरिकता नहीं मिलेगी यानी कि मुसलमान को नागरिकता नहीं मिलेगी. बाकी सब को मिल जाएगी. यह जो नाइंसाफ़ी हुई है उसके एवज में आपने देखा कि हमारे देश के अंदर आसमानी आफतें कितनी आ रही हैं. 10 दिन में दो दो तूफान आ गए. हमने देखा है कोरोना के अंदर गरीब आदमी का क्या हश्र हुआ है. हमने उस गरीब को देखा है जो 2 जून की रोटी के लिए रेल पटरियों के ऊपर चल रहे थे, उनकी लाशों के टुकडे हमने देखे हैं.

उन्होंने आगे कहा कि हम और आप हिंदुस्तान के ज्यादातर 99% लोग धार्मिक लोग हैं. हम यह मानते हैं कि दुनिया को चलाने वाला और दुनिया में इंसाफ करने वाला कोई और है. अगर जमीन वाले जब इंसाफ नहीं करते तो आसमान वाला इंसाफ करता है और जब वह इंसाफ करता है तो उसमें इफ एंड बट नहीं हुआ करता. आपने देखा नहीं पिछले दिनों क्या हुआ है? लाशों की कितनी बेइज्जती हुई है. कुत्तों को लाशें खानी पड़ रही हैं. दरिया में लाशें बहा दी गई आपने देखा नहीं श्मशान घाट में लकड़ियां तक नहीं थी. आखिर कौन सी सरकार है? क्या सिर्फ बड़े लोगों की सरकार है? गरीब का कोई हक नहीं है. यह गरीब उसी ने पैदा किया है जिसने अमीर को पैदा किया है सबका मालिक एक है.

वहीं बीजेपी की ओर से इस बयान पर उत्तर प्रदेश सरकार के अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री मोहसिन रजा ने कहा कि एसटी हसन के बयान से साफ होता है कि ये देश के संविधान में विश्वास रखने वाले लोग नहीं हैं. ये चाहते हैं समाजवादी पार्टी जिताओ, शरीया कानून लाओ. इनकी बोली और ISIS की बोली एक सी है. एसटी हसन और समाजवादी पार्टी के नेताओं को नाइंसाफी इसलिए नजर आ रही है कि बरसाना में होली क्यों हो रही है? CAA कानून क्यों आ रहा है, धारा 370 क्यों समाप्त कर दी गई कश्मीर में? अयोध्या में दीपोत्सव क्यों हो रहा है? इनकी असली पीड़ा ये है.


सेहत: कोरोना में ब्रेन और दिल में खून के थक्के जमने के बाद अब इंटेस्टिनल अटैक का ख़तरा

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

गोवा घूमने गई 25 साल की एक्ट्रेस की कार एक्सीडेंट में डेथ

गोवा घूमने गई 25 साल की एक्ट्रेस की कार एक्सीडेंट में डेथ

गोवा में पुल से नीचे गिरी कार, पानी में डूबने से हुई डेथ.

नरेंद्र गिरि कथित आत्महत्या: आरोपी आनंद गिरि को किस महंत ने 'हिस्ट्रीशीटर' कहा?

नरेंद्र गिरि कथित आत्महत्या: आरोपी आनंद गिरि को किस महंत ने 'हिस्ट्रीशीटर' कहा?

यूपी पुलिस ने आनंद गिरि को गिरफ्तार कर लिया है.

रूस की यूनिवर्सिटी में अंधाधुंध गोलीबारी, 8 की मौत, आरोपी की उम्र हैरान कर देगी

रूस की यूनिवर्सिटी में अंधाधुंध गोलीबारी, 8 की मौत, आरोपी की उम्र हैरान कर देगी

इस यूनिवर्सिटी में भारत के भी कई छात्र पढ़ते हैं.

डेढ़ महीने पहले राजनीति छोड़ने का ऐलान करने वाले बाबुल सुप्रियो ने TMC जॉइन की

डेढ़ महीने पहले राजनीति छोड़ने का ऐलान करने वाले बाबुल सुप्रियो ने TMC जॉइन की

केंद्रीय मंत्री पद से हटाए जाने के बाद भाजपा छोड़ी थी.

मनोज पाटिल सुसाइड अटेम्प्ट केस: साहिल खान ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की, कहा नकली स्टेरॉयड्स का रैकेट

मनोज पाटिल सुसाइड अटेम्प्ट केस: साहिल खान ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की, कहा नकली स्टेरॉयड्स का रैकेट

कहानी में एक और किरदार सामने आया है, राज फौजदार.

राजस्थान में अब सब-इंस्पेक्टर परीक्षा का पेपर लीक, वॉट्सऐप बना जरिया

राजस्थान में अब सब-इंस्पेक्टर परीक्षा का पेपर लीक, वॉट्सऐप बना जरिया

पुलिस ने बीकानेर, जयपुर, पाली और उदयपुर से 17 लोगों को गिरफ्तार किया है.

क्या पाकिस्तान यूपी चुनाव में आतंकी हमले कराने की तैयारी में है?

क्या पाकिस्तान यूपी चुनाव में आतंकी हमले कराने की तैयारी में है?

दिल्ली पुलिस ने 6 संदिग्धों को गिरफ्तार कर कई दावे किए हैं.

नसीरुद्दीन शाह ने योगी आदित्यनाथ के 'अब्बा जान' वाले बयान पर बड़ी बात कह दी है!

नसीरुद्दीन शाह ने योगी आदित्यनाथ के 'अब्बा जान' वाले बयान पर बड़ी बात कह दी है!

नसीर ने ये भी कहा कि कई मुस्लिम अपने पिता को बाबा भी कहते हैं.

AIMIM के पूर्व नेता पर FIR, दोस्त के साथ हलाला कराने की कोशिश का आरोप

AIMIM के पूर्व नेता पर FIR, दोस्त के साथ हलाला कराने की कोशिश का आरोप

पूर्व पत्नी ने लगाया रेप के प्रयास का आरोप, AIMIM नेता ने कहा- बेबुनियाद.

75 साल बाद नर्सिंग के पाठ्यक्रम में किए गए बड़े बदलाव हैं क्या?

75 साल बाद नर्सिंग के पाठ्यक्रम में किए गए बड़े बदलाव हैं क्या?

ये बदलाव जनवरी 2022 से लागू होंगे.