Submit your post

Follow Us

हैदराबाद में ऑक्सीजन टैंकर रास्ता भटक गया, Covid 19 के 7 मरीजों की मौत हो गई

हैदराबाद का किंग कोठी स्थित जिला अस्पताल. इस अस्पताल के लिए निकला ऑक्सीजन टैंकर रास्ता भटक गया. नतीजा ये हुआ कि यहां कोरोना वायरस (Corona Virus) से इन्फेक्ट हुए 7 मरीजों की मौत हो गई. दरअसल रास्ता भटकने की वजह से ये ऑक्सीजन टैंकर अस्पताल में देरी से पहुंचा. और इस देरी के चलते ऑक्सीजन सप्लाई में बाधा आई और ICU में भर्ती सात मरीजों की मौत हो गई. घटना 9 मई की है.

इंडिया टुडे के आशीष पांडे की रिपोर्ट के मुताबिक, अस्पताल का Oxygen Tanker 9 मई की दोपहर को लो प्रेशर दिखाने लगा. इसके चलते अस्पताल प्रशासन ने ऑक्सीजन रीफिल मांगा. अस्पताल के लिए टैंकर रवाना किया गया, लेकिन वो रास्ता भटक गया. बाद में पुलिस ने टैंकर को ट्रेस किया और फिर उसे लेकर अस्पताल पहुंची. हालांकि, तब तक काफी देर हो चुकी थी. ऑक्सीजन सप्लाई में कमी आने की वजह से सात मरीजों की मौत हो चुकी थी.

Medical Oxygen Supply Oxygen Crisis India Second Wave Asu Psa Concentrator
Corona Virus की दूसरी लहर में Oxygen की कमी से कई लोगों की मौत की खबर सामने आई है. फोटो – इंडिया टुडे फाइल

अब सवाल उठ रहा है कि जब अस्पताल में ऑक्सीजन की इतनी किल्लत थी, तो वहां के लिए रवाना हुई ऑक्सीजन टैंकर के लिए ग्रीन कोरिडोर क्यों नहीं बनाया गया या फिर ड्राइवर को सही लोकेशन देकर क्यों नहीं भेजा गया. आशीष पांडे की रिपोर्ट के मुताबिक, इस मामले पर अभी तक अधिकारियों ने कुछ भी नहीं कहा है.

टैंकर ड्राइवर की झपकी, 400 मरीजों की जान पर बन आई थी

पिछले दिनों आंध्र प्रदेश के विजयवाड़ा के सरकारी जनरल अस्पताल में ऑक्सीजन की ज़रूरत पड़ी. यहां 400 मरीजों का इलाज चल रहा था. ओडिशा के अंगुल से ऑक्सीजन का प्रबंध हो गया, पर ऑक्सीजन लाने के लिए विजयवाड़ा से खाली टैंकर भेजा गया. टैंकर पहुंचा, उसे भरा गया और फिर वो विजयवाड़ा के लिए रवाना हुआ. लेकिन आंध्रप्रदेश में एंटर करने के बाद ऑक्सीजन टैंकर अचानक ही जीपीएस में ट्रैक होना बंद हो गया. मरीजों की जान पर खतरा था इसलिए पुलिस ने टैंकर की खोज शुरू की, बड़ी मुश्किल के बाद टैंकर आंध्र प्रदेश के पूर्वी गोदावरी जिले के एक ढाबे पर मिला. ड्राइवर ने बताया कि लगातार सफर से वो बहुत ज्यादा थक गया था, इसलिए कुछ देर आराम के लिए रुका था. इसके बाद अस्पताल तक टैंकर पहुंचाने के लिए ग्रीन कॉरिडोर बनाया गया, ड्राइवर के साथ एक होम गार्ड को बैठाया गया ताकि उसे कंपनी मिल सके. इसके बाद 7 मई की सुबह टैंकर विजयवाड़ा के अस्पताल पहुंचा.


लल्लनटॉप अड्डा: NHS के इस डॉक्टर ने भारत में स्ट्रेन आने के पीछे की असल वजह बता दी

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

डॉक्टरों की सबसे बड़ी संस्था IMA ने कोरोना पर सरकार को खूब सुनाया है!

डॉक्टरों की सबसे बड़ी संस्था IMA ने कोरोना पर सरकार को खूब सुनाया है!

कहा-स्वास्थ्य मंत्रालय का रवैया हैरान करने वाला.

दिल्ली में फिर बढ़ा लॉकडाउन, इस बार और भी सख़्ती

दिल्ली में फिर बढ़ा लॉकडाउन, इस बार और भी सख़्ती

दिल्ली के सीएम ने क्या बताया?

बंगाल में केंद्रीय मंत्री के काफिले पर हमला हुआ तो ममता बनर्जी ने उलटा क्या आरोप मढ़ दिया?

बंगाल में केंद्रीय मंत्री के काफिले पर हमला हुआ तो ममता बनर्जी ने उलटा क्या आरोप मढ़ दिया?

लगातार हो रही हिंसा की जांच के लिए होम मिनिस्ट्री ने अपनी टीम बंगाल भेज दी है.

पंजाबी फ़िल्मों के मशहूर एक्टर-डायरेक्टर सुखजिंदर शेरा का निधन

पंजाबी फ़िल्मों के मशहूर एक्टर-डायरेक्टर सुखजिंदर शेरा का निधन

कीनिया में अपने दोस्त से मिलने गए थे, वहां तेज बुखार आया था.

सलमान खान ने मदद मांगने वाले 18 साल के लड़के को यूं दिया सहारा!

सलमान खान ने मदद मांगने वाले 18 साल के लड़के को यूं दिया सहारा!

कुछ दिन पहले ही कोरोना से अपने पिता को गंवा दिया.

उत्तराखंड में एक और आपदा, उत्तरकाशी और रुद्रप्रयाग के पास बादल फटा

उत्तराखंड में एक और आपदा, उत्तरकाशी और रुद्रप्रयाग के पास बादल फटा

भारी नुक़सान की ख़बरें लेकिन एक राहत की बात है

क्या वाकई केंद्र सरकार ने मार्च के बाद वैक्सीन के लिए कोई ऑर्डर नहीं दिया?

क्या वाकई केंद्र सरकार ने मार्च के बाद वैक्सीन के लिए कोई ऑर्डर नहीं दिया?

जानिए वैक्सीन को लेकर देश में क्या चल रहा है.

Covid-19: अमेरिका के इस एक्सपर्ट ने भारत को कौन से तीन जरूरी कदम उठाने को कहा है?

Covid-19: अमेरिका के इस एक्सपर्ट ने भारत को कौन से तीन जरूरी कदम उठाने को कहा है?

डॉक्टर एंथनी एस फॉउसी सात राष्ट्रपतियों के साथ काम कर चुके हैं.

रेमडेसिविर या किसी दूसरी दवा के लिए बेसिर-पैर के दाम जमा करने के पहले ये ख़बर पढ़ लीजिए

रेमडेसिविर या किसी दूसरी दवा के लिए बेसिर-पैर के दाम जमा करने के पहले ये ख़बर पढ़ लीजिए

देश भर से सामने आ रही ये घटनाएं हिला देंगी.

कुछ लोगों को फ्री, तो कुछ को 2400 से भी महंगी पड़ेगी कोविड वैक्सीन, जानिए पूरा हिसाब-किताब

कुछ लोगों को फ्री, तो कुछ को 2400 से भी महंगी पड़ेगी कोविड वैक्सीन, जानिए पूरा हिसाब-किताब

वैक्सीन के रेट्स को लेकर देशभर में कन्फ्यूजन की स्थिति क्यों है?