Submit your post

Follow Us

सेक्स सीडी पर हाई कोर्ट में सुनवाई चल रही थी, अर्ध-नग्न आदमी घुस आया

कर्नाटक हाई कोर्ट (Karnataka High court) में वर्चुअल सुनवाई के दौरान एक अजीब घटना घटी. हुआ ये कि सुनवाई के समय एक अर्ध-नग्न आदमी काफी देर तक स्क्रीन पर दिखाई देता रहा. लेकिन किसी का ध्यान उसकी ओर नहीं गया. आखिरकार सुनवाई में शामिल महिला वकील ने कड़ी आपत्ति जताते हुए कोर्ट का ध्यान इस ओर खींचा. वकील ने गुजारिश की कि सुनवाई में आधा नंगा होकर आए व्यक्ति के खिलाफ अदालत की अवमानना के तहत कार्रवाई की जानी चाहिए.

मामला क्या है?

इंडिया टुडे के मुताबिक घटना मंगलवार 30 नवंबर की है. कर्नाटक के पूर्व मंत्री रमेश जारकीहोली से जुड़े कथित सेक्स स्कैन्डल मामले पर हाई कोर्ट के मुख्य न्यायधीश ऋतुराज अवस्थी और जस्टिस सचिन शंकर मगदुम की बेंच सुनवाई कर रही थी. जूम ऐप पर हुई इस प्रोसीडिंग में जानी-मानी वकील इंदिरा जयसिंह पीड़िता का पक्ष रख रही थीं. तभी उनका ध्यान स्क्रीन पर दिख रहे एक व्यक्ति पर गया जो अर्ध-नग्न होकर नहा रहा था. खबर के मुताबिक करीब 20 मिनट तक ये आदमी वर्चुअल सुनवाई के दौरान दिखता रहा. इंदिरा जयसिंह ने इस पर आपत्ति जताई और कोर्ट को इसके बारे में जानकारी दी.

खबर के मुताबिक बेंच का ध्यान इस अर्ध-नग्न आदमी की मौजूदगी पर नहीं गया था. लेकिन सुनवाई में मौजूद कई वकीलों ने पुष्टि की है कि एक अर्ध-नग्न आदमी कुछ समय के लिए सुनवाई से जुड़ा था. ये जानकारी सोशल मीडिया पर वायरल हुई तो इसकी पुष्टि के लिए इंदिरा जयसिंह खुद सामने आईं. उन्होंने अपने ट्विटर हैन्डल से ट्वीट करते हुए लिखा,

“मैं इस बात की पुष्टि करती हूं कि अदालत में एक अर्ध-नग्न आदमी पूरे 20 मिनट तक स्क्रीन पर दिखाई देता रहा. मेरे आपत्ति जताने के बाद भी वो शख्स काफी देर तक स्क्रीन पर दिख रहा था. मैं इसके खिलाफ अदालत की अवमानना ​​और यौन उत्पीड़न के लिए आधिकारिक शिकायत करूंगी. अदालत में बहस के बीच में इस तरह की घटना बेहद परेशान करने वाली है.” 

इंदिरा जयसिंह के इस ट्वीट पर सोशल मीडिया पर मिली जुली प्रतिक्रिया मिल रही है. जहां एक और कुछ लोग महिला वकील की बात का समर्थन कर रहे हैं, वहीं कुछ लोग ये भी कह रहे हैं कि किसी महिला के लिए किसी पुरुष को बिना कपड़ों के देखना थोड़ा अजीब लग सकता है लेकिन ये बिल्कुल भी यौन उत्पीड़न का मामला नही है. नोइंग भारत नाम के एक ट्विटर (Twitter) यूजर ने ट्वीट करते हुए लिखा है,

“अगर कोई पुरुष किसी महिला के छोटे कपड़ों पर आपत्ति जताता है तो यही महिला वकील ये कहेंगी कि ‘मेरा शरीर, मेरी मर्जी, मैं कुछ भी पहनूं’. हिपोक्रेसी की भी सीमा होती है.”

वहीं एक दूसरे ट्विटर यूजर ने महात्मा गांधी की तस्वीर ट्वीट करते हुए लिखा,

ये भी अर्ध नग्न हैं और देश के राष्ट्रपिता हैं.

बहरहाल, इस मामले पर एक्शन लेते हुए कर्नाटक हाई कोर्ट ने पुलिस से सभी सबूतों को इकट्ठा करने और इस व्यक्ति की पहचान कर इसके खिलाफ कार्रवाई करने के आदेश दिए हैं.


वीडियो: समीर वानखेड़े पर रोज खुलासे करने वाले नवाब मलिक को हाईकोर्ट ने चुप करा दिया!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

क्या BYJU'S अच्छी शिक्षा देने के नाम पर लोगों को अनचाहा लोन तक दिलवा रही है?

ये रिपोर्ट कान खड़े कर देगी.

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

इस्तीफे में पराग अग्रवाल के लिए क्या-क्या बोले जैक डोर्से?

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

UP STF ने 23 संदिग्धों को गिरफ्तार किया.

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

संसद का शीतकालीन सत्र 29 नवंबर से 23 दिसंबर तक चलेगा.

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

पीएम मोदी ने गुरुवार 25 नवंबर को इस एयरपोर्ट का शिलान्यास किया.

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

पिछले विधानसभा चुनाव में त्रिकोणीय मुकाबला था, इस बार त्रिकोणीय से बढ़कर होगा.

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

कासगंज: पुलिस लॉकअप में अल्ताफ़ की मौत कोई पहला मामला नहीं.

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

पुलिस ने कहा था, 'अल्ताफ ने जैकेट की डोरी को नल में फंसाकर अपना गला घोंटा.'

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये ख़बर हमारे देश का एक और सच है.

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

क्या समीर वानखेड़े को NCB जोनल डायरेक्टर पद से हटा दिया गया है?