Submit your post

Follow Us

मुलायम सिंह यादव को अस्पताल में भर्ती कराया गया, मिलने पहुंचे शिवपाल यादव

मुलायम सिंह यादव. समाजवादी पार्टी के संरक्षक और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री. तबीयत खराब होने के बाद उन्हें लखनऊ स्थित मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया. हालांकि डॉक्टरों का कहना है कि अब उनकी तबीयत ठीक है. मेदांता अस्पताल के डायरेक्टर डॉक्टर राकेश कपूर ने इस बारे में जानकारी दी.

डॉ. राकेश कपूर ने बताया कि मुलायम सिंह यादव को पांच दिनों से कब्ज की शिकायत थी. इस वजह से उन्हें बुधवार को मेदांता में भर्ती कराया गया था. अब उनकी हालात सामान्य है. शुक्रवार को उन्हें अस्पताल से डिस्चार्ज किया जा सकता है.

समाजवादी पार्टी ने कहा- स्वस्थ हैं मुलायम

मुलायम की तबीयत के बारे में समाजवादी पार्टी के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से जानकारी दी गई. बताया गया कि मुलायम सिंह अस्पताल में हैं और स्वास्थ्य लाभ ले रहे हैं.

अस्पताल में उनसे मिलने बेटे अखिलेश यादव, बहू डिंपल यादव के अलावा भाई शिवपाल यादव भी पहुंचे. 81 साल के मुलायम सिंह यादव बढ़ती उम्र की वजह से होने वाली बीमारियों से पीड़ित हैं. पेट की दिक्कतों के चलते कई बार अस्पताल में भर्ती कराया जा चुका है.

2019 के चुनाव में मुलायम सिंह यादव ने मैनपुरी लोकसभा सीट से जीत हासिल की थी. इस सीट से उनकी पांचवीं जीत थी. सपा और बसपा ने मिलकर लोकसभा का चुनाव लड़ा था.


Video: कोरोना वायरस को लेकर UP सरकार ने जबर कानून बना दिया है!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

विशाखापटनम में कंपनी से जहरीली गैस के रिसाव के बाद कैसे थे हालात, तस्वीरों में देखिए

अब तक 11 लोगों की मौत हो चुकी है. हजारों लोग प्रभावित हुए हैं.

छह अस्पतालों ने इलाज करने से मना कर दिया, आठ दिन की बच्ची मौत हो गई

आगरा में 15 दिन में तीन ऐसे मामले देखे गए हैं, जब हॉस्पिटल ने इलाज करने से मना कर दिया.

इटली का दावा, कोरोना वायरस की वैक्सीन मिल गयी

चूहों से इंसानों तक वैक्सीन का सफ़र

इन राज्यों में शराब की होम डिलीवरी कैसे होगी, क्या हैं नियम और तरीके?

शराबियों ने सोशल डिस्टेंसिंग तोड़ी, तो सरकार ने यह तरीका निकाला है.

हॉस्पिटल ने कह दिया कि दाढ़ी कटवाओ, अब डॉक्टर प्रोटेस्ट कर रहे हैं

काम से हटाए जाने के बाद ये लोग विरोध कर रहे हैं.

क्या कोरोना मरीजों से प्राइवेट अस्पताल मोटी फीस वसूल रहे हैं?

मुंबई से ऐसे कई मामले आए हैं.

पूरी दुनिया में पेट्रोल-डीजल पर सबसे ज्यादा टैक्स भारत में लिया जा रहा है

इस मामले में भारत ने फ्रांस और जर्मनी को पीछे छोड़ दिया है.

इज़रायल का दावा, कोरोना की दवा मिल गयी!

बस बड़े लेवल पर निर्माण का इंतज़ार.

कोरोनावायरस : आंकड़े की जांच हुई तो पश्चिम बंगाल का सच सामने आ गया!

पश्चिम बंगाल का कोरोना से जुड़ी मौतों का आंकड़ा छिपा रहा है?

दिल्ली में शराब पर सरकार की ‘स्पेशल फीस’

..ताकि ‘रहें सलामत पीने वाले’.