Submit your post

Follow Us

क्या सच में बदलने वाला है टीम इंडिया का कोचिंग स्टाफ?

भारतीय क्रिकेट टीम से जुड़ी एक बड़ी ख़बर सामने आई है. ख़बर की मानें तो जल्द ही भारतीय टीम का कोचिंग स्टाफ बदलने वाला है. दावा है कि भारतीय टीम के कोच रवि शास्त्री UAE में होने वाले T20 वर्ल्ड कप के बाद भारतीय टीम की कोचिंग छोड़ना चाहते हैं. साथ ही भारतीय टीम के बॉलिंग, फील्डिंग और बैटिंग कोच भी अपने लिए नए चैलेंज खोज रहे हैं. और दूसरी ओर बोर्ड भी अब नए लोगों को जिम्मेदारी सौंपना चाहता है.

अक्टूबर-नवंबर में होने वाले T20 वर्ल्ड कप के बाद रवि शास्त्री संग बाकी कोचिंग मेंबर्स का कॉन्ट्रैक्ट भारतीय टीम के साथ खत्म हो रहा है. और शास्त्री ने बोर्ड को इस बारे में सूचना दे दी है कि वे अपना कॉन्ट्रैक्ट पूरा होते ही भारतीय टीम की कोचिंग छोड़ने का प्लान कर रहे हैं. साथ ही बॉलिंग कोच भरत अरुण, फील्डिंग कोच आर श्रीधर और बैटिंग कोच विक्रम राठौड़ भी IPL टीमों के साथ लगातार बातचीत कर रहे हैं.

# जा रहे हैं Ravi Shastri

गौरतलब है कि इन सभी का फुलटाइम कोच के रूप में कॉन्ट्रैक्ट साल 2017 से शुरू हुआ था. इससे पहले रवि शास्त्री एक बार और टीम के साथ जुड़े थे. उन्हें साल 2014 से लेकर 2016 तक टीम का डायरेक्टर बनाया गया था. बीच में एक साल के लिए अनिल कुंबले भी आए लेकिन 2017 के बाद से शास्त्री को ही टीम का फुलटाइम कोच बना दिया गया.

रवि शास्त्री की कोचिंग के दौरान भारत ने पिछले चार सालों में काफी अच्छा प्रदर्शन किया. ऑस्ट्रेलिया में जाकर दो बार सीरीज जीती. वेस्ट इंडीज और श्रीलंका को क्लीन स्वीप कर टेस्ट सीरीज़ में मात दी. इसके अलावा इंग्लैंड और साउथ अफ्रीका में भी जाकर अच्छा प्रदर्शन किया. लेकिन इन चार सालों में भारतीय टीम एक भी ICC इवेंट नहीं जीत पाई. 2019 में हुए 50 ओवरों के वर्ल्ड कप में भारतीय टीम सेमी फाइनल में हारी. उसके बाद 2021 में हुए वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में भी भारतीय टीम को हार ही झेलनी पड़ी.

अब बोर्ड को शायद लगता है कि उन्हें वर्ल्ड ट्रॉफीज जीतने के लिए नई सोच की जरूरत है. नियमों के हिसाब से भारतीय क्रिकेट बोर्ड T20 वर्ल्ड कप के बाद नई कोचिंग टीम के लिए सेलेक्शन प्रोसेस शुरू करेगा.


नीरज चोपड़ा को थैंक्यू क्यों बोल रहे हैं पाकिस्तान के जैवलिन थ्रोअर अरशद नदीम?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

इस्तीफे में पराग अग्रवाल के लिए क्या-क्या बोले जैक डोर्से?

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

UP STF ने 23 संदिग्धों को गिरफ्तार किया.

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

संसद का शीतकालीन सत्र 29 नवंबर से 23 दिसंबर तक चलेगा.

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

पीएम मोदी ने गुरुवार 25 नवंबर को इस एयरपोर्ट का शिलान्यास किया.

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

पिछले विधानसभा चुनाव में त्रिकोणीय मुकाबला था, इस बार त्रिकोणीय से बढ़कर होगा.

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

कासगंज: पुलिस लॉकअप में अल्ताफ़ की मौत कोई पहला मामला नहीं.

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

पुलिस ने कहा था, 'अल्ताफ ने जैकेट की डोरी को नल में फंसाकर अपना गला घोंटा.'

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये ख़बर हमारे देश का एक और सच है.

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

क्या समीर वानखेड़े को NCB जोनल डायरेक्टर पद से हटा दिया गया है?

Covaxin को WHO के एक्सपर्ट पैनल से इमरजेंसी यूज की मंजूरी मिली

Covaxin को WHO के एक्सपर्ट पैनल से इमरजेंसी यूज की मंजूरी मिली

स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने पीएम मोदी के लिए क्या कहा?