Submit your post

रोजाना लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

Follow Us

मिया माल्कोवा की 'God, Sex and Truth' थिएटर में नहीं, यहां रिलीज़ होगी

432
शेयर्स

मिया माल्कोवा. इंट्रो में बताना पड़े कि कौन हैं, तो यही बात हो जाएगी कि या तो लिखने वाला गलत या पढ़ने वाला. मुझे मालूम है कि आप इनसे परिचित हैं. फिर भी रवायत के चलते इंट्रो में हम ये लिखने को मजबूर हैं कि मिया माल्कोवा एक पॉर्नस्टार हैं और इनका रामगोपाल वर्मा द्वारा निर्देशित एक वीडियो (रामू इसे फिल्म नहीं कह रहे) आने को है. 11 तारीख को पोस्टर आया था, तब इंटरनेट पर एक बम फटा था. आज ट्रेलर आ गया है तो दूसरा फटा है. तीसरे (माने पूरे वीडियो) के फटने का तारीख और समय भी मुकर्रर है – 26 जनवरी, 2018 माने गणतंत्र दिवस. सुबह नौ बजे टू बी प्रिसाइस.

ये हम इसलिए जानते हैं कि हमने ट्रेलर देखा है. पूरा. रिव्यू भी किया है, जो आप यहां क्लिक कर के पढ़ सकते हैं. हां तो हम पूरे वीडियो के रिलीज़ की बात कर रहे थे. इसमें बस एक पेंच है. वो ये कि वीडियो का थिएट्रिकल रिलीज़ नहीं होने वाला. माने ये फिल्म की तरह सिनेमा में नहीं लगेगा. तो आप बड़े पर्दे पर ”A Philosophical Treatise of Mia Malkova” नहीं देख पाएंगे. तो कहां देख पाएंगे?

वीमियो पर.

अब ये वीमियो क्या बला है?

वीमियो एक वीडियो शेयररिंग साइट है (ऐप भी है इसका). इसपर आप वीडियो अपलोड, डाउनलोड और शेयर कर सकते हैं. कमेंट भी कर सकते हैं. अब आप कहेंगे कि यही सब करने के लिए तो यूट्यूब भी है, तो लिंक्डइन काहे के लिए है? तो ये समझिए कि वीमियो थोड़ा सीरियस टाइप का यूट्यूब है.

वीमियो वीडियो की दुनिया का लिंक्डइन है.

फेसबुक पर एंजेल प्रिया वाली प्रोफाइल की भरमार होती है, इफरात में कचरा होता है, लेकिन लिंक्डइन में कामकाजी प्रोफेशनल्स की करीने से मेंटेन की हुई प्रोफाइल होती हैं जिन्हें देखकर लोगों को नौकरी तक मिल जाती है. यही फर्क यूट्यूब और वीमियो में भी है. यूट्यूब पर ज़्यादातर एमेच्योर चैनल होते हैं, जिनपर किसी भी तरह के वीडियो अपलोड होते रहते हैं. लेकिन वीमियो पर ज़्यादातर चैनल प्रोफेशनल्स (कैमरापर्सन, ग्राफिक डिज़ाइनर, एडिटर वगैरह) के होते हैं. वो अपना काम वहां अपलोड करते हैं. उसपर गंभीर चर्चा वगैरह होती है कमेंट्स में. तो अगर आप एक बढ़िया ग्राफिक डिज़ाइनर ढूंढने जा रहे हैं, तो यूट्यूब की बनिस्बत वीमियो पर जाना बेहतर रहेगा.

वीमियो का इंटरफेस
वीमियो का इंटरफेस

जिसके हाथों बिका, उससे किस्मत तय हुई

वीमियो को 2004 में जेक लोडविक और ज़ैक क्लीन ने शुरू किया था. इसी के अगले साल यूट्यूब भी शुरू हुआ. दोनों में काफी समानताएं थीं. लेकिन इन दोनों की किस्मत ने अलग-अलग राह पकड़ी 2006 में. इस साल के अगस्त में वीमियो को आईएसी ने खरीद और नवंबर में यूट्यूब को गूगल ने खरीद लिया. आईएसी बड़ी कंपनी थी (और है भी), लेकिन गूगल ने बहुत रफ्तार से प्रगति की. इसका फायदा यूट्यूब को मिला और वो लोकप्रिय होता गया.

लेकिन वीमियो समय के साथ अपना काम करता रहा. 2007 में वीमियो ने हाई डेफिनेशन वीडियो सपोर्ट करना शुरू किया, यूट्यूब से पहले. वीमियो आज भी इंडी फिल्ममेकर्स और वीडियो प्रोफेशनल्स के बीच खासा चर्चित है. वो अपनी फिल्में और शो-रील वीमियो पर ही डालते हैं. यही प्रोफेशनल लोग वीमियो की पेड सर्विस भी सब्सक्राइब करते हैं. वीमियो प्लस, वीमियो प्रो और वीमियो बिज़नेस अकाउंट के लिए अलग-अलग एन्युअल फीस है. बढ़ती फीस के साथ ज़्यादा सुविधाएं मिलती हैं.

अब आप पूछेंगे कि ‘God, Sex and Truth’ मुफ्त में देखने का जुगाड़ है कि नहीं तो जवाब है – हां. वीमियो पर वीडियो देखने के लिए अकाउंट होना ज़रूरी नहीं है. और बनाना भी पड़े तो फ्री वाला भी बन जाता है.


 ट्रेलर रिव्यूः मिया माल्कोवा की ‘God, Sex and Truth’ का ट्रेलर चोरी से क्यों देखना पड़ता है?


ये भी पढ़ेंः

सनी लियोनी के बाद ये विदेशी पॉर्न स्टार आ रही हैं बॉलीवुड फिल्म में

बॉलीवुड में डेब्यू करने जा रहीं पॉर्न स्टार मिया माल्कोवा के बारे में 5 बातें

इस पॉर्न स्टार ने इंडियन के लिए निकाली है जॉब

वो पॉर्न स्टार जिसके वीडियो खूब वायरल हो रहे हैं, मगर पॉर्न वाले नहीं

पॉर्न देखने वाले सावधान, आपका दुश्मन मार्केट में आ चुका है

जिसे हमने पॉर्न कचरा समझा वो फिल्म कल्ट क्लासिक थी

Video:क्या पूर्व चुनाव आयुक्त ने कहा कि भाजपा EVM हैक कर के गुजरात चुनाव जीती?

लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
Ramgopal Varma’s God, Sex and Truth featuring porn star Mia Malkova to release on video sharing platform Vimeo and not in theaters

टॉप खबर

सुप्रीम कोर्ट ने क्या कहा, जिसे ममता-मोदी दोनों तरफ के लोग अपनी जीत मान रहे हैं

CBI और कोलकाता पुलिस की लड़ाई असल में ममता और मोदी की लड़ाई मानी जा रही है...

सीबीआई को लेकर मोदी सरकार से क्यों टकरा रही हैं ममता बनर्जी

जानिए कोलकाता से लेकर दिल्ली तक क्यों बरपा है हंगामा, क्या-क्या हुआ अब तक?

CBI पहुंची थी कोलकाता कमिश्नर के घर, पुलिस ने टीम को ही हिरासत में ले लिया

मोदी बनाम ममता की लड़ाई अब पुलिस बनाम सीबीआई, ममता बनर्जी धरने पर.

'5 लाख तक टैक्स नहीं' ये सुनने के बाद कन्फ्यूजन क्यों फैला?

अंतरिम बजट आ गया है. आपके लिए क्या निकलकर आया, वो जानो.

इन्कम टैक्स पर मोदी सरकार का सबसे बड़ा ऐलान

गाइए - 'जिसका मुझे था इंतज़ार, वो घड़ी आ गई.'

हम पकौड़ों में रोज़गार तलाश रहे थे, बेरोजगारी 45 साल के टॉप पर पहुंच गई

रिसी हुई रिपोर्ट का रहस्योद्घाटन कि रोजगार के नाम पर तो रायता फ़ैल चुका है.

क्या है मायावती सरकार में हुआ 1400 करोड़ का स्मारक घोटाला, जिसमें ED ने छापा मारा है

सवा चार लाख का हाथी, बांटे गए 60 लाख. जमके लूट मची थी!

महात्मा गांधी की हत्या के तीन आरोपी, जिनके अभी भी जिंदा होने की आशंका है

गांधीजी के पड़पोते तुषार का कहना है कि ये अकेली लापरवाही नहीं थी!

गांधी की हत्या में RSS की क्या भूमिका थी?

इस सवाल पर दशकों से सिर धुना जा रहा है, गांधीजी की डेथ एनिवर्सरी पर जानिए कुछ इनसाइट्स.

गांधी जी की हत्या पर लिखी ये किताब आप इंडिया क्यों नहीं ला सकते?

किताब में दावा है कि गांधी को अंतरराष्ट्रीय साजिश के तहत मारा गया.