Submit your post

Follow Us

राजस्थान में सियासी संकट के बीच अशोक गहलोत ने एक और मोर्चा मार लिया है!

राजस्थान में 11 जुलाई से शुरू हुई सियासी गहमागहमी जारी है. 19 जुलाई को भी कई दांवपेंच देखने को मिले. कांग्रेस के दोनों गुटों के विधायक अभी भी होटलों में हैं. वहीं राज्य और राष्ट्रीय स्तर पर कांग्रेस-बीजेपी प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिए एकदूसरे पर जुबानी हमले कर रही हैं. इन सबके बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत अपनी सरकार की स्थिति मजबूत करने की कोशिशों में लगे हैं. इसमें उन्हें कामयाबी भी मिल रही है. आइए जानते हैं राजस्थान के रण के पांच बड़े अपडेट-

1. भारतीय ट्राइबल पार्टी (बीटीपी) का गहलोत सरकार को समर्थन-

बीटीपी की राजस्थान विधानसभा में दो सीटें हैं. उसने गहलोत सरकार को समर्थन देने का ऐलान किया है. पार्टी के मुखिया महेशभाई वसावा ने यह घोषणा की. उन्होंने कहा कि भले ही उनके पास दो विधायक हैं लेकिन वे किंगमेकर हैं. गहलोत सरकार ने आदिवासी इलाकों के विकास का आश्वासन दिया है. ऐसे में उन्हें समर्थन दिया गया है. गहलोत सरकार के लिए बड़ी कामयाबी है. इससे उसका पक्ष और मजबूत हुआ है. दिलचस्प बात है कि पांच दिन पहले तक बीटीपी विधायक राजकुमार रोत सरकार पर बंधक बनाने का आरोप लगा रहे थे. साथ ही बीटीपी नेतृत्व ने भी अपने विधायकों को कांग्रेस-बीजेपी से दूर रहने को कहा था.

2. सचिन पायलट को न्योता नहीं देगी बीजेपी-

कांग्रेस में दो फाड़ के बीच बीजेपी अभी भी वेट एंड वॉच की स्थिति में ही है. पार्टी किसी भी तरह का साहसी/दुस्साहसी कदम नहीं उठा रही है. राजस्थान बीजेपी अध्यक्ष सतीश पूनिया ने 19 जुलाई को साफ कर दिया कि उनकी पार्टी गहलोत सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव नहीं लाएगी. सचिन पायलट को बीजेपी में शामिल करने के सवाल पर पूनिया ने कहा कि वे किसी को न्योता देने नहीं जा रहे हैं. अगर कोई आता है तो उसका स्वागत है. बीजेपी के वरिष्ठ नेता और नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया ने भी कहा कि उन्होंने कभी गहलोत सरकार से बहुमत साबित करने को नहीं कहा.

3. कांग्रेस सीबीआई जांच की मांग पर हमलावर-

बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने 18 जुलाई को ऑडियो टेप मामले में सीबीआई जांच की मांग की थी. फोन टैपिंग को लेकर गृह मंत्रालय के रिपोर्ट मांगे जाने की भी खबर है. अब कांग्रेस इस पर हमलावर है. 19 जुलाई को कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अभिषेक मनु सिंघवी ने ट्वीट किया. कहा कि पुलिस की जांच चल रही है और एफआईआर भी दर्ज की जा चुकी है. इसमें रुकावट डालने के लिए बीजेपी ने अपनी सुविधा के अनुसार सीबीआई जांच की मांग की है.

वहीं अजय माकन ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि फोन टैपिंग मामले में सीबीआई जांच की धमकी देकर केंद्र सरकार राजस्थान सरकार की आगे की जांच रोकना चाहती है. माकन ने कथित तौर पर ऑडियो टेप में शामिल होने पर केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत का इस्तीफा मांगा है.

वहीं उदयपुरवाटी से कांग्रेस विधायक राजेंद्र गुड़ा ने आरोप लगाया कि उन्हें पार्टी बदलने का लालच दिया गया. उन्होंने कहा कि संजय जैन नाम के जिस दलाल को गिरफ्तार किया गया है, वह उनके पास भी आया था. उसने छह महीने पहले उन्हें वसुंधरा राजे ने मिलाने की बात कही थी. गुड़ा ने दावा किया कि विधायकों को खरीदने के मामले में गिरफ्तार तीनों लोग पूर्व सीएम वसुंधरा राजे के करीबी हैं.

वहीं कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने एक बार फिर से सचिन पायलट को लौटने का न्योता दिया. कहा कि सचिन पायलट को बीजेपी की आवभगत को त्यागकर पार्टी से बातचीत करनी चाहिए.

4. होटल में विधायकों का ‘बिग बॉस’

जब से सियासी संकट खड़ा हुआ है तब से कांग्रेसी विधायक होटलों में  हैं. फिर चाहें वे गहलोत गुट के हों या पायलट गुट के. पायलट गुट के विधायक केवल ट्वीट करते ही दिख रहे हैं. जबकि गहलोत गुट के विधायक अलग-अलग रंगों में नज़र आ रहे हैं. उनके योग करने, ‘मुगले आजम’, ‘लगान’ जैसी फिल्में देखने, होटल किचन में इटैलियन खाना बनाना सीखने और गाना गाने की फोटो और वीडियो सामने आ रहे हैं. 19 जुलाई को कुछ कांग्रेस विधायक ‘हम होंगे कामयाब’ गाते दिखाई दिए.

5. राजस्थान विधानसभा का विशेष सत्र होगा!

खबर है कि गहलोत विधानसभा का विशेष सत्र बुला सकते हैं. समाचार एजेंसी पीटीआई ने खबर दी है. कहा गया है कि सरकार के पास सारे विकल्प हैं. अशोक गहलोत 18 जुलाई को राज्यपाल कलराज मिश्र से मिले थे. बताया जाता है कि उन्होंने सरकार के पास मौजूद बहुमत के बारे में जानकारी दी. वहीं सचिन पायलट गुट की ओर से शांति रही. पायलट की ओर से एक ट्वीट किया गया. लेकिन असम में बाढ़ के बारे में था.


Video: राजस्थान में सचिन पायलट और अशोक गहलोत की लड़ाई के बीच वसुंधरा राजे ने क्या कहा है?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

कोई डॉक्टर देखने नहीं आया, कोरोना संदिग्ध ने मां के सामने तड़पते हुए दम तोड़ दिया

इस तरह की तस्वीरें आने वाले कई वर्षों तक त्रासदी की तस्वीरों के तौर पर आंखों में चुभती रहेंगी.

अयोध्या में राम मंदिर का भूमि पूजन, न्योता भेजा गया, क्या पीएम मोदी जाएंगे?

3 या 5 अगस्त को भूमि पूजन का प्लान.

व्यवस्था देखिए, बरेली के कोरोना वॉर्ड में छत से झमाझम पानी बरस रहा है

मरीज अंदर मौजूद थे, ज़िला प्रशासन का दावा अब सब ठीक है.

फिल्म 'प्यार तूने क्या किया' के डायरेक्टर रजत मुखर्जी नहीं रहे

मनोज बाजपेयी, हंसल मेहरा और अन्य लोगों ने याद किया

MP: IPS अधिकारी के पुलिसकर्मियों से लिफाफे लेने का दावा, वीडियो वायरल

ट्रांसपोर्ट कमिश्नर वी मधु कुमार के ट्रांसफर को वायरल वीडियो से जोड़ा जा रहा है.

हत्या के आरोपी को पकड़ने गई कानपुर पुलिस की गाड़ी पलटी, एक पुलिसवाले की मौत

वापसी के समय हुआ हादसा, पिस्टल गायब देख घबरा गए थे पुलिसवाले.

देश में हर दिन 30 हजार से ज्यादा केस, कोरोना संक्रमण पर जिसका डर था वही हुआ?

इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने बड़ी बात कह दी.

सीनियर को हड़काया- 'साहब होगे अपनी जगह, ये मेरा फील्ड है, यहां अपराधी हो'

जंगल में बांस कटाई करा रहे थे रेंजर और डिप्टी रेंजर, जूनियर ने हड़काया.

'नेपाली नागरिक' बताकर जिसका मुंडन किया और नारे लगवाए, उसकी असलियत जान लीजिए

वाराणसी की इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था.

बुलंदशहर हिंसा: आरोपी को मोदी सरकार की योजनाओं के प्रचार का जिम्मा, बवाल पर क्या बोली बीजेपी?

बुलंदशहर हिंसा में इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह शहीद हो गए थे. विपक्ष ने योगी को घेरा.