Submit your post

Follow Us

JNU हिंसा: राष्ट्रपति भवन की ओर बढ़ रहे प्रदर्शनकारी छात्रों पर पुलिस ने लाठीचार्ज किया

जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी यानी जेएनयू. पांच जनवरी को यहां हिंसा हुई. इस हिंसा के खिलाफ देशभर में विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं. दिल्ली में गुरुवार यानी 9 जनवरी को छात्रों ने मार्च निकाला. यह मार्च मंडी हाउस से एचआरडी मंत्रालय की तरफ निकाला गया. हालांकि दिल्ली पुलिस ने इस मार्च को शास्त्री भवन के पास रोक दिया. वहीं शाम को जेएनयू के छात्रों ने राष्ट्रपति भवन की तरफ मार्च निकाला. वे जेएनयू के कुलपति जगदीश कुमार को पद से हटाने की मांग कर रहे थे.

इस मार्च को भी पुलिस ने बीच में ही रोक दिया. पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को हिरासत में ले लिया. लाठीचार्ज भी किया. इसमें कुछ छात्रों को चोट आई है. लाठीचार्ज के खिलाफ प्रदर्शनकारियों ने दिल्ली पुलिस के खिलाफ नारेबाजी की.

JNUSU ने ट्वीट कर पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाए. जेएनयूएसयू ने कहा,

‘शाम के 6 बजे के बाद का वक्त है. क्या पुलिस बता सकती है कि कुछ महिला प्रदर्शनकारियों को कथित रूप से सूर्यास्त के बाद बिना किसी महिला अधिकारी की मौजूदगी के क्यों उठाया गया?

 

इससे पहले एचआरडी मंत्रालय के अधिकारियों और जेएनयू प्रतिनिधिमंडल के बीच एक बैठक हुई. बैठक के बाद जेनयूएसयू की अध्यक्ष आइशी घोष ने कहा कि जब तक कुलपति एम जगदीश कुमार को नहीं हटाया जाता किसी भी तरह की बात नहीं होगी. उन्होंने कहा कि मंत्रालय बात करना चाहता है तो यूनिवर्सिटी कैम्पस आए.

JNU में 5 जनवरी की हिंसा में कुछ नकाबधारी गुंडों ने कैंपस के अंदर तोड़-फोड़ की. स्टूडेंट्स और टीचर्स को पीटा. करीब 34 स्टूडेंट्स घायल हुए. इनमें JNUSU की प्रेसिडेंट आइशी घोष भी शामिल थीं. उनके सिर पर गहरी चोट आई थी. रिपोर्ट्स के मुताबिक, हंगामे वाले दिन पुलिस शाम करीब 7.45 पर यूनिवर्सिटी के अंदर घुसी थी, जबकि पुलिस को कैंपस के अंदर मच रहे बवाल के बारे में दोपहर 3 बजे ही खबर मिल गई थी.

आइशी घोष ने पुलिस के कुछ अधिकारियों को वॉट्सऐप मैसेज करके कैंपस के अंदर के हालात के बारे में बताया था. आइशी ने दोपहर 3 बजे वसंत कुंज पुलिस स्टेशन के SHO ऋतुराज, एक इंस्पेक्टर संजीव मंडल और स्पेशल कमिश्वर ऑफ पुलिस आनंद मोहन को मैसेज किए थे. जानकारी दी थी कि कैंपस के अंदर हथियारों के साथ कुछ गुंडें मौजूद हैं. पुलिस अधिकारियों ने ये मैसेज कुछ ही मिनट बाद पढ़ भी लिए थे, लेकिन कैंपस के अंदर पुलिस शाम 7 के बाद पहुंची.


JNU हिंसा के बाद एडमिनिस्ट्रेशन ने मंत्रालय से जो मांग की, वो कोई नहीं चाहेगा

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

एंटी-CAA प्रोटेस्ट को उकसाने के आरोप में कपल गिरफ्तार, पुलिस ने कहा- ISIS से लिंक हो सकता है

दिल्ली के शाहीन बाग में 15 दिसंबर से प्रोटेस्ट चल रहा है.

सबसे ज्यादा रणजी मैच और सबसे ज्यादा रन, इस खिलाड़ी ने 24 साल बाद लिया संन्यास

42 की उम्र तक खेलते रहे, अब बल्ला टांगा.

लखनऊ में CAA विरोधी प्रदर्शन के दौरान 'तोड़फोड़ करने वाले' 57 लोगों के होर्डिंग लगाए

होर्डिंग पर पूर्व IPS एसआर दारापुरी और कांग्रेस कार्यकर्ता सदफ ज़फर जैसे लोगों का नाम.

दिल्ली दंगे के 'हिन्दू पीड़ितों' की मदद के लिए कपिल मिश्रा ने जुटाये 71 लाख, खुद एक पईसा नहीं दिया

अब भी कह रहे हैं, 'आप धर्म को बचाइये, धर्म आपको बचायेगा'

कांग्रेस सांसद का आरोप : अमित शाह का इस्तीफा मांगा, तो संसद में मुझ पर हमला कर दिया गया

कांग्रेस सांसद ने कहा, 'मैं दलित महिला हूं, इसलिए?'

निर्भया केस: चार दोषियों की फांसी से एक दिन पहले कोर्ट ने क्या कहा?

राष्ट्रपति ने पवन गुप्ता की दया याचिका खारिज कर दी है.

कश्मीर : हथियारों के फर्जी लाइसेंस बनवाने वाला IAS अधिकारी कैसे धरा गया?

हर लाइसेंस पर 8-10 लाख रूपए लेता था!

गृहमंत्री अमित शाह की रैली में आई भीड़ ने लगाया देश के गद्दारों को गोली मारो... का नारा!

ये नारा डरावना है, उससे भी डरावना है इसका गृहमंत्री की रैली में लगाया जाना.

दिल्ली के बाद मेघालय में भी हिंसा भड़की, दो की मौत, कई जिलों में इंटरनेट बंद

मामला CAA प्रोटेस्ट से जुड़ा है.

एक्टिंग छोड़ बीजेपी जॉइन की थी, अब कपिल मिश्रा और अनुराग ठाकुर की वजह से पार्टी छोड़ दी

बीजेपी नेता ने अपनी पार्टी के नेताओं पर बड़ा बयान दिया है.