Submit your post

Follow Us

अर्धशतक पूरा करने के बाद कोहली बनने की कोशिश कर रहे थे पृथ्वी शॉ, ट्रोल हो गए

2
शेयर्स

बांग्लादेश पर जीत के साथ ही खबर आई कि मैदान पर एक फैन कूद आया. जिसके बाद विराट ने बेहद सलीके से और प्यार से उस फैन से मुलाकात की और उसे जाने के लिए कहा. इतना बड़ा खिलाड़ी. इतने हज़ार रन लेकिन फिर भी ‘मैं’ नहीं. विराट कोहली कैसे बनते हैं? विराट बनने के लिए लगती है सालों की मेहनत और लगन. लेकिन एक घड़ी में विराट नहीं हुआ जाता. या यूं कहें विराट जैसा नहीं हुआ जाता.

अब बात करते हैं एक ऐसे खिलाड़ी कि जिसे क्रिकेट में एक नई शुरुआत का मौका मिला है. डोपिंग के आरोपों से वापसी करते हुए वो मैदान पर उतरा है. लेकिन पहले मैच में ही उसने फिर से बचकाना हरकत कर दी. जिसे फैंस बिल्कुल भी पसंद नहीं कर रहे. हम बात कर रहे हैं मुंबई के 20 वर्षीय बल्लेबाज़ पृथ्वी शॉ की. पृथ्वी पिछले 8 महीने से डोपिंग के आरोप में क्रिकेट से दूर हैं. उनका बैन 15 नवंबर को खत्म हुआ और वो आज मुंबई के लिए सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी खेलने उतर गए.

आज मैदान पर उन्होंने बढ़िया वापसी की. लेकिन फिर भी बढ़िया वो बेहतरीन बनाने से चूक गए. हालांकि इसकी वजह अधिक रन बनान नहीं है, बल्कि उनका वो बड़बोलापन है. जो मैदान पर उनके व्यवहार या स्वभाव से झलक ही जाता है. उन्होंने आज असम के खिलाफ मैदान में 39 गेंदो पर 63 रन बनाए. लेकिन अर्धशतक पूरा करने के बाद उन्होंने बिल्कुल विराट को कॉपी करने की कोशिश की.

पृथ्वी ने अर्धशतक लगाया और फिर दर्शकों की तरफ अपना बल्ला दिखाया और हाथ से बल्ले की तरफ इशारा करते हुए कहा कि ‘मैं नहीं बोलता मेरा बल्ला बोलता है.’ पृथ्वी ने इधर ऐसा किया और उधर सोशल मीडिया पर क्रिकेट के चाहने वालों ने उन्हें जमकर ट्रोल कर दिया.

 

सोशल मीडिया पर किसी फैन ने पृथ्वी से कहा, ”युवा खिलाड़ियों के साथ यही समस्या है, बैन से वापसी कर रहे हैं, एक कमज़ोर गेंदबाज़ी अटैक के खिलाफ अर्धशतक जमाया है. इन्हें थोड़ा सा संयम बरतने की ज़रूरत है.”

 

जबकि एक फैन ने लिखा, ”शॉ बहुत ज्यादा ओवररेटेड खिलाड़ी हैं, वो दूसरे कांबली बनेंगे. वो इस तरह से खराब रवैये की वजह से ही बाहर जाएंगे.”

 

अभी पृथ्वी ने क्रिकेट मैदान पर वापसी की है. अभी टीम में चयन से वो बहुत दूर हैं. ऐसे में पृथ्वी को अपने खेल पर ध्यान देना चाहिए. ऐसे ही कई और प्रदर्शन करने चाहिए. जिससे कि चयनकर्ताओं और टीम मैनेजमेंट का ध्यान उनकी तरफ जाए.


16 साल के नसीम शाह की बॉलिंग से ऑस्ट्रेलिया में खलबली

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

सरकार Facebook से यूजर्स की जानकारी मांग रही है

2 साल में तीन गुनी हुई इमरजेंसी रिक्वेस्ट्स की संख्या.

पुनर्विचार की सभी याचिकाएं खारिज करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने रफ़ाल को हरी झंडी दी

राहुल गांधी ने पीएम मोदी को रफ़ाल डील में भ्रष्टाचार के आरोप लगाते हुए खूब घेरा था.

महाराष्ट्र में नहीं बनी शिवसेना-एनसीपी की सरकार, अब लगेगा राष्ट्रपति शासन

एनसीपी को सरकार बनाने के लिए आज शाम साढ़े आठ बजे तक का समय मिला था.

करतारपुर कॉरिडोर: PM मोदी ने इमरान को शुक्रिया कहा, लेकिन इमरान का जवाब पीएम मोदी को पसंद नहीं आएगा

वहां पर भी कॉरिडोर से ज़्यादा 'विवादित मुद्दे' पर ही बोलता नज़र आया पाकिस्तान.

सुप्रीम कोर्ट का फैसला: विवादित ज़मीन रामलला को, मुस्लिम पक्ष को कहीं और मिलेगी ज़मीन

जानिए, कोर्ट ने अपने फैसले में और क्या-क्या कहा है...

नेहरु से इतना प्यार? मोदी अब बिना कांग्रेस के नेहरू का ख्याल रखेंगे

एक भी कांग्रेस का नेता नहीं. एक भी नहीं.

शरद पवार बोले- महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगने से बचाना है, तो बस एक ही तरीका है

शिवसेना के साथ मिलकर सरकार बनाने की मिस्ट्री पर क्या कहा?

मोदी को क्लीन चिट न देने वाले चुनाव अधिकारी को फंसाने का तरीका खोज रही सरकार!

11 कंपनियों से सरकार ने कहा, कोई भी सबूत निकालकर लाओ

दफ़्तर में घुसकर महिला तहसीलदार पर पेट्रोल छिड़का, फिर आग लगाकर ज़िंदा जला दिया

इस सबके पीछे एक ज़मीन विवाद की वजह बताई जा रही है. जिसने आग लगाई, वो ख़ुद भी झुलसा.

दिल्ली के तीस हजारी कोर्ट में पुलिस और वकीलों के बीच झड़प, गाड़ियां फूंकी

पुलिस और वकील इस झड़प की अलग-अलग कहानी बता रहे हैं.