Submit your post

Follow Us

कोरोना वायरस से मौत को लेकर अफवाह फैला रहा था, पुलिस ने जो किया वो दूसरों के लिए सबक है

भारत कोरोना वायरस से जंग लड़ रहा है. जनता घरों में बंद है, लेकिन कुछ लोग अफवाह फैला रहे हैं. ऐसा ही एक मामला आया है उत्तर प्रदेश से.  प्रयागराज. यूपी पुलिस ने यहां एक आरोपी को गिरफ्तार किया है. कोरोना वायरस को लेकर सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाने के आरोप में. आरोपी का नाम मसूद आलम है.

यूपी पुलिस के मुताबिक, गंजिया जहांगीराबाद के रहने वाले मसूद ने लोगों को वॉट्सऐप मैसेज किया था. इसमें लिखा था,

सरकार झूठ बोल रही है. 500 लोग ही नहीं, सिर्फ भारत में अबतक 50,000 से ज्यादा लोगों की मृत्यु कोरोना वायरस की वजह से हो चुकी है.

अफवाह फैलाने के आरोप में थाना नैनी पुलिस ने मसूद आलम को गिरफ्तार कर लिया. उसके खिलाफ आगे की कार्रवाई की जा रही है.

प्रयागराज के एसएसपी सत्यार्थ ने लल्लनटॉप को फोन पर बताया,

कोरोना वायरस से मौत के मामले में झूठी अफवाह फैलाने के आरोप में मसूद आलम को गिरफ्तार किया गया है. इस तरह की गलत सूचना देकर लोगों को पैनिक किया जा रहा था, इसलिए गिरफ्तारी हुई है.

बताया जा रहा है कि आलम ओवैसी की पार्टी आईएमआईएम का सदस्य है. ऐसे में इस तरह की अफवाह फैलाना तो और भी गैरजिम्मेदाराना है.

आप भी अफवाह फैलाने से बचे. वॉट्सऐप पर आने वाला हर मैसेज सच नहीं होता. पूरी दुनिया में कोरोना वायरस संक्रमण के चार लाख चालिस हजार से ज्यादा मामले सामने आए हैं. वहीं 19 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हुई है. वहीं भारत में कोरोना वायरस संक्रमण के 600 मामले सामने आए हैं. और 11 लोगों की मौत हुई है.


बड्डे पार्टी करते पकड़े गए होम क्वारंटीन में रखे गए लोग, पुलिस ने दर्ज की FIR

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

20 अप्रैल से कौन-कौन से लोग अपना काम-धंधा शुरू कर सकते हैं?

और खाने-पीने के सामान को लेकर सरकार ने क्या कहा?

लॉकडाउन के बीच ज़रूरी सामान भेजना है? बस एक कॉल पर हो जाएगा काम

रेलवे अधिकारियों ने शुरू की है 'सेतु' सर्विस.

सड़क पर मजदूरों संग खाना खाने वाले अर्थशास्त्री ने सरकार को कमाल का फॉर्मूला सुझाया है

कोरोना और लॉकडाउन ने मजदूर को कहीं का नहीं छोड़ा.

सरकार की नई गाइडलाइंस, जानिए किन इलाकों में, किन लोगों को लॉकडाउन से छूट

कोरोना से निपटने के लिए लॉकडाउन पहले ही बढ़ाया जा चुका है.

टेस्टिंग किट की बात पर राहुल गांधी ने भारत की तुलना किन देशों से की?

कहा, 'हम पूरे खेल में कहीं नहीं हैं.'

चीन से भारत के लिए चली टेस्टिंग किट की खेप अमरीका निकल गयी!

और अभी तक भारत में नहीं शुरू हो पाई मास टेस्टिंग.

कोरोना: मरीजों की खातिर बेड और लैब के लिए कितना तैयार है भारत, PM मोदी ने बताया

लॉकडाउन बढ़ाने के अलावा पीएम ने क्या-क्या कहा?

15 अप्रैल को लॉकडाउन-2 की जो गाइडलाइंस आनी हैं, उनमें क्या-क्या हो सकता है

पूरे देश में 3 मई तक लॉकडाउन बढ़ चुका है.

सुप्रीम कोर्ट ने बता दिया है कि किन लोगों का कोरोना वायरस टेस्ट फ्री में होगा

प्राइवेट लैब भी नहीं ले सकेंगे इनसे पैसा.

PM CARES Fund पर लगातार उठ रहे सवाल, अब हिसाब-किताब की होगी जांच

वकील ने PM Cares फंड को रद्द करने की मांग की है.