Submit your post

Follow Us

निर्भया के दोषियों को फांसी पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने क्या कहा?

20 मार्च. शुक्रवार. सुबह 5:30 बजे. तिहाड़ जेल. दिल्ली.

निर्भया के चार दोषियों- अक्षय, विनय, पवन और मुकेश को करीब सात साल बाद फांसी हो गई. तिहाड़ जेल के डायरेक्टर जनरल संदीप गोयल ने बताया कि तिहाड़ के इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ है कि चार दोषियों को एकसाथ फांसी दी गई. शवों को दीनदयाल उपाध्याय हॉस्पिटल भेज दिया गया है. पांच डॉक्टरों की टीम इनका पोस्टमॉर्टम करेगी. निर्भया की मां आशा देवी ने विक्ट्री का साइन दिखाया. तिहाड़ जेल के बाहर मीडिया और तमाम लोगों का जमावड़ा रहा. आशा देवी ने कहा कि आज हमें न्याय मिला. उन्होंने कहा कि आगे भी देश की बेटियों के लिए लड़ाई ज़ारी रहेगी. उन्होंने न्यायतंत्र और सरकार को धन्यवाद दिया. कहा कि आज का दिन बेटियों को समर्पित है.

इस मामले पर राजनीति से लेकर तमाम क्षेत्रों से प्रतिक्रियाएं आ रही हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर कहा,

न्याय हुआ. महिलाओं की सुरक्षा और सम्मान सुनिश्चित करना सबसे ज़रूरी है. हमारी नारी शक्ति ने हर क्षेत्र में बेहतरीन किया है. हम सब मिलकर एक ऐसा देश बनाना है, जहां महिला सशक्तिकरण पर फोकस हो. जहां बराबरी और अवसर पर ज़ोर हो.

 

 

न्याय मिला, सिस्टम सुधारने की ज़रूरत: केजरीवाल

दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा कि सात साल बाद न्याय हुआ है.

उन्होंने कहा,

हमें संकल्प लेना होगा कि ऐसी घटना दोबारा न हो. हमने देखा है कि कैसे अंत तक दोषियों ने कानून को तोड़ा-मरोड़ा. हमारे सिस्टम में कई दिक्कतें हैं. हमें सिस्टम सुधारने की ज़रूरत है.

बीजेपी सांसद गौतम गंभीर ने ट्वीट कर कहा, ‘दोषियों को मिली फांसी, हमें पता है हम लेट हो गए निर्भया.’

महाराष्ट्र सरकार में मंत्री ​एनसीपी नेता नवाब मलिक ने कहा,

7 साल बाद निर्भया को न्याय मिला, जितनी देरी होती है लोगों को लगता है कि इंसाफ नहीं मिला. जरूरत है कि ऐसे मामले में कानून में बदलाव हो और जल्द से जल्द सजा का प्रबंध किया जाए. महाराष्ट्र में सरकार इस तरह के कानून लाने का विचार कर रही है.

दिल्ली सरकार के मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा,

इससे संदेश जाएगा कि अगर आप इस तरह के जघन्य अपराध करेंगे तो आपके खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी. लोगों को विश्वास नहीं था कि ऐसा हो सकता है, आज इन्हें फांसी हो गई तो जो भी ऐसे अपराधी हैं उनको डर लगेगा.

रेपिस्टों को देश ने कड़ा संदेश दिया: स्वाति मालीवाल

दिल्ली महिला आयोग की चेयरपर्सन स्वाति मालीवाल ने कहा,

ये ऐतिहासिक दिन है. सात साल के लंबे इंतजार के बाद आज न्याय की जीत हुई. निर्भया की मां ने न्याय के लिए दर-दर की ठोकरें खाईं. सारा देश सड़कों पर उतरा, अनशन किया, लाठी खाई. ये सारे देश की जीत है. अब हमें देश में एक कठोर सिस्टम बनाना है. विश्वास है बदलाव आएगा, जरूर आएगा. देश ने रेपिस्टों को कड़ा संदेश दिया है कि अगर आप अपराध करेंगे, तो आपको फांसी दी जाएगी.

राष्ट्रीय महिला आयोग की चेयरपर्सन रेखा शर्मा ने कहा,

आज एक उदाहरण पेश किया गया है, लेकिन ये पहले हो सकता था. अब लोगों को पता है कि उन्हें सजा होगी. आप तारीख आगे बढ़वा सकते हैं, लेकिन आपको सजा मिलेगी.

आखिरी वक्त तक फांसी टालने की मांग

दोषियों ने सुप्रीम कोर्ट में एक के बाद एक कई याचिकाएं डालकर फांसी को रोकने की कोशिश की. 19 मार्च को सुप्रीम कोर्ट के छह जजों की बेंच ने पवन की क्यूरेटिव पिटिशन खारिज की थी, जिसमें उसने ये कहा था कि 2012 के दौरान वारदात के वक्त वो नाबालिग था, इसलिए उसकी फांसी की सजा को उम्रकैद में बदल दिया जाए.

इसके पहले भी चारों दोषियों ने राष्ट्रपति के पास दया याचिका भी भेजी थीं, चारों खारिज हो गई थीं. सुप्रीम कोर्ट में क्यूरेटिव और रिव्यू पिटिशन भी डाली थीं. सभी को खारिज कर दिया गया था. पहले तीन बार फांसी की तारीख आगे बढ़ाई जा चुकी थी.


निर्भया केस: दोषी पवन की याचिका को सुप्रीम कोर्ट ने किया खारिज

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

पबजी बैन, सोशल मीडिया ने कहा- ‘उनका’ वीडियो डिसलाइक करने का नतीजा है

पबजी बैन, सोशल मीडिया ने कहा- ‘उनका’ वीडियो डिसलाइक करने का नतीजा है

118 ऐप्स बैन कर दिए गए हैं.

चेन्नई सुपरकिंग्स के लिए पॉज़िटिव न्यूज़ आई है

चेन्नई सुपरकिंग्स के लिए पॉज़िटिव न्यूज़ आई है

बड़े दिनों के बाद.

सेरो सर्वे की मानें, तो ठीक होने के बाद दोबारा हो सकता है कोरोना!

सेरो सर्वे की मानें, तो ठीक होने के बाद दोबारा हो सकता है कोरोना!

208 में से 97 लोगों में नहीं मिली एंटीबॉडी.

अवमानना वाले मामले में सुप्रीम कोर्ट ने प्रशांत भूषण को क्या सज़ा दी है?

अवमानना वाले मामले में सुप्रीम कोर्ट ने प्रशांत भूषण को क्या सज़ा दी है?

प्रशांत भूषण के दो ट्वीट का मुद्दा था.

अनलॉक-4 की गाइडलाइंस जारी, मेट्रो चलेगी, जानिए स्कूल खोलने को लेकर क्या कहा गया है

अनलॉक-4 की गाइडलाइंस जारी, मेट्रो चलेगी, जानिए स्कूल खोलने को लेकर क्या कहा गया है

धार्मिक और राजनीतिक कार्यक्रमों को लेकर क्या छूट मिली है?

NEET, JEE आगे बढ़ाने की मांग कर रहे छात्र ये पांच कारण बता रहे हैं

NEET, JEE आगे बढ़ाने की मांग कर रहे छात्र ये पांच कारण बता रहे हैं

तय समय पर परीक्षा कराने के लिए 150 शिक्षाविदों ने लिखी PM मोदी को चिट्ठी.

कोर्ट ने कहा, ये शर्त पूरी किए बिना अनुराग ठाकुर और प्रवेश वर्मा पर दिल्ली दंगों में हेट स्पीच का केस नहीं

कोर्ट ने कहा, ये शर्त पूरी किए बिना अनुराग ठाकुर और प्रवेश वर्मा पर दिल्ली दंगों में हेट स्पीच का केस नहीं

बीजेपी नेताओं के खिलाफ़ याचिका ख़ारिज करते हुए अदालत ने और क्या कहा, ये भी पढ़िए.

पाकिस्तान के किस बयान में इंडिया ने एक के बाद एक पांच झूठ पकड़ लिए हैं?

पाकिस्तान के किस बयान में इंडिया ने एक के बाद एक पांच झूठ पकड़ लिए हैं?

पाकिस्तान ने आतंकवाद फैलाने में भारत का नाम ले लिया, बस हो गया काम.

सोनिया-राहुल को पत्र लिखने पर कांग्रेस मंत्री ने नेताओं से कहा, ‘खुल्लमखुल्ला टहलने नहीं दूंगा’

सोनिया-राहुल को पत्र लिखने पर कांग्रेस मंत्री ने नेताओं से कहा, ‘खुल्लमखुल्ला टहलने नहीं दूंगा’

माफ़ी नहीं मांगने पर परिणाम भुगतने की बात कर डाली.

प्रशांत भूषण के खिलाफ़ अवमानना का मुक़दमा सुन रहे सुप्रीम कोर्ट के इन तीन जजों की कहानी क्या है?

प्रशांत भूषण के खिलाफ़ अवमानना का मुक़दमा सुन रहे सुप्रीम कोर्ट के इन तीन जजों की कहानी क्या है?

पूरी रामकहानी यहां पढ़िए.