Submit your post

Follow Us

एक और लीक: MP में सरकारी नौकरी का पर्चा 5-5 लाख में बिका है

2.06 K
शेयर्स

पहले SSC, फिर CBSE और अब FCI.

बरसात का मौसम खत्म हुए महीनों बीत गए हैं लेकिन ‘लीकेज’ है कि रुकने का नाम नहीं ले रही. क्योंकि इस लीकेज का पानी से कोई संबंध नहीं है. ये पेपर वाली लीकेज है जो कभी भी, कहीं भी हो सकती है. लेटेस्ट मामला रविवार को मध्य प्रदेश में आयोजित फूड कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (FCI) की वॉचमैन भर्ती परीक्षा का पेपर लीक होने का है.

एफसीआई के वॉचमैन पद पर एमपी जोन के 217 पदों के लिए यह परीक्षा भोपाल, सागर, इंदौर, ग्वालियर, उज्जैन, सतना एवं जबलपुर में रविवार को होनी थी. 700 कैंडिडेट्स इस परीक्षा में शामिल हुए थे. लेकिन रविवार का सूरज निकलता, उससे पहले ही, माने शनिवार की शाम को पेपर ग्वालियर के एक होटल में पहुंच गया. यहां 2 एजेंट और 48 कैंडिडेट पेपर सॉल्व भी करने लगे थे.

दिल्ली में पहले ही देशभर से आए युवा एसएससी स्कैम के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं. (फोटोःपीटीआई)
दिल्ली में पहले ही देशभर से आए युवा एसएससी स्कैम के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं. (फोटोःपीटीआई)

पुलिस को पहले से अंदाज़ा था इसका

जिन 50 लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है, ग्वालियर पुलिस उनका इंतज़ार कर ही रही थी. पुलिस को ये खबर मिली थी कि एफसीआई का पर्चा लीक करने की कोशिश हो सकती है. इसलिए हफ्ते भर से पुलिस शहर भर के होटलों पर नज़र बनाए हुई थी. शनिवार को आखिर पुलिस को खबर मिली कि होटल सिध्दार्थ पैलेस में कैंडिडेट्स को पेपर सॉल्व कराया जा रहा है. इसके बाद पुलिस ने यहां छापा मारा और सभी को धर लिया. इन लोगों के पास से पुलिस को हाथ से लिखा एक पेपर और एक आंसर ‘की’ मिली.

ये तय करने के लिए कि क्या सचमुच पेपर लीक हुआ है, पुलिस ने रविवार का इंतज़ार किया. रविवार दोपहर दो बजे जब पेपर हो गया तब छापे में मिले पेपर और परीक्षा वाले पेपर का मिलान हुआ. इससे पक्का हुआ कि सचमुच पेपर लीक हुआ है. अब तक एफसीआई के सीनियर अधिकारियों को भी इस बारे में बता दिया गया था.

कुछ ही दिन पहले सीबीएसई की दसवीं और बारहवीं का पेपर भी लीक हो गया था. (फोटोःपीटीआई)
कुछ ही दिन पहले सीबीएसई की दसवीं और बारहवीं का पेपर भी लीक हो गया था. (फोटोःपीटीआई)

50 हज़ार रुपए एडवांस और 4.50 लाख नौकरी के बाद

छापेमारी में पकड़े गये सभी कैंडिडेट्स बिहार, उत्तर प्रदेश और हरियाणा के हैं. इन्होंने 5-5 लाख रुपए में पेपर खरीदा था. इस रकम में 50 हजार रुपए एडवांस और बची हुई रकम नौकरी लगने के बाद देना तय हुआ था. पकड़े गये दोनों एजेंट्स के नाम आशुतोष कुमार और हरीश कुमार हैं और दोनों दिल्ली के रहने वाले हैं. आशुतोष खुद को बीकॉम सेकंड ईयर का छात्र बताया है जबकि हरीश एक इवेंट मैनेजमेंट कंपनी में काम करता है. इनके मुताबिक इस ग्रुप का मास्टरमांइड किशोर कुमार है जो छापेमारी से पहले एडवांस के पैसे लेकर फ़रार हो गया.

दिल्ली से लीक हुआ था पेपर

गिरफ्तार एजेंट्स का कहना है कि किशोर ने पेपर दिल्ली से लीक किया था. उसी ने इन दोनों को ग्वालियर जाकर ग्राहक ढूंढने और उन्हें पेपर सॉल्व कराने को भेडा था. इसके एवज में उन्हें 30-30 हजार रुपये मिले थे. छात्रों से एडवांस लेने के साथ ही इन्होंने कैंडिडेट्स के ऑरिजिनल दस्तावेज और फोन अपने पास रख लिए थे. कैंडिडेट भोपाल से पेपर देकर लौटते, उसके बाद ही उन्हें ये सब वापस मिलता.

नौकरी लगती, तो सरकारी तन्ख्वाह पर इनका घर चलता. लेकिन फिलहाल ये 48 कैंडिडेट और दो एजेंट पुलिस के यहां सरकारी रोटी चबा रहे हैं. इन्हें आज अदालत में पेश भी किया जाएगा. एक गोदाम के बाहर ड्यूटी देने के लिए 5 लाख की घूस और पुलिस का चक्कर. सही में महंगा सौदा है.


 

ये स्टोरी ऋषभ ने की है.


ये भी पढ़ेंः

‘व्यापमं’ की अपार सफलता के बाद मध्यप्रदेश से पेश है – ‘MPPSC का झोल’

सात गोलियां खाने वाले इस जवान को चार साल बाद सही इलाज मिल ही गया

मोदीजी! आपके TOP का T दो रुपये किलो बिक रहा है

शिवराज के राज में सिर क्यों मुंडवा रही हैं महिलाएं?

मुस्लिमों द्वारा गाय को बम खिलाने की वो हकीकत जो आपको नहीं बताई गई

वीडियोः क्या है ई-वे बिल, जो 1 अप्रैल से पूरे देश में लागू होने वाला है

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
Police nabs suspects involved in FCI entrance paper leak in Gwalior, Madhya Pradesh

टॉप खबर

मनमोहन सिंह को राज्य सभा में भेजने के लिए कांग्रेस ये तिगड़म भिड़ा रही है

अपना एक मात्र चुनाव हारने वाले मनमोहन सिंह पिछले 28 साल में पहली बार संसद के सदस्य नहीं होंगे.

राजीव गांधी के हत्यारे ने संजय दत्त की मुश्किलें बढ़ा दी हैं

जेल में बंद पेरारिवलन ने संजय दत्त से जुड़ी बहुत सी जानकारी इकट्ठी की है.

कठुआ केस के छह दोषियों को क्या सज़ा मिली?

अदालत ने सात में से छह आरोपियों को दोषी माना था. मास्टरमाइंड सांजी राम का बेटा विशाल बरी हो गया.

कठुआ केस में फैसला आ गया है, एक बरी, छह दोषी करार

दोषियों में तीन पुलिसवाले भी शामिल हैं.

पांच साल की बच्ची से रेप किया और फिर ईंटों से कूंचकर मार डाला

उज्जैन में अलीगढ़ जैसा कांड, पड़ोसी ही निकला हत्यारा...

अफगानिस्तान किन गलतियों से श्रीलंका से जीता-जिताया मैच हार गया?

मलिंगा का तो जोड़ नहीं.

क्या चुनावी नतीजे आने के 10 दिनों के अंदर यूपी में 28 यादवों की हत्या हुई है?

28 नामों की एक लिस्ट वायरल हो रही है. लेकिन सच क्या है?

मायावती ने ऐसा क्या कह दिया कि फिलहाल गठबंधन को टूटा मान लेना चाहिए

प्रेस कांफ्रेंस में मायावती ने गठबंधन तोड़ने का सीधा ऐलान तो नहीं किया, लेकिन बहुत कुछ कह गयीं.

चुनाव नतीजे आए दस दिन हुए नहीं, मायावती ने गठबंधन पर सवाल उठा दिए

वो भी तब जब मायावती के पास जीरो से बढ़कर दस सांसद हो गए हैं

अरविंद केजरीवाल ने चुनाव में बंपर वोट खींचने वाला ऐलान कर दिया है

वो ऐसी स्कीम लेकर आए हैं कि दिल्ली-NCR की महिलाएं खुश हो गईं.