Submit your post

Follow Us

एक्टर करण ओबेरॉय छूट गए, रेप का आरोप लगाने वाली लड़की को ही पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया

एक्टर-सिंगर करण ओबेरॉय को 6 मई, 2019 को गिरफ्तार कर लिया गया था. करण पर एक महिला ने रेप और ब्लैकमेलिंग का आरोप लगाया था. करण को इस मामले में 7 जून को बेल मिली है. अब खबर ये है कि पुलिस ने करण पर आरोप लगाने वाली लड़की को गिरफ्तार कर लिया है. करण पर झूठे इल्जाम लगाने और खुद पर फर्जी हमला करवाने के मामले में.

न्यूज़ एजेंसी आइएएनएस (IANS) की रिपोर्ट के मुताबिक इस महिला ने बताया था कि 25 मई को दो बाइकसवारों ने उन पर हमला किया. और उनके पास एक पर्ची (नोट) छोड़ गए. जिस पर लिखा था कि अगर उन्होंने करण के खिलाफ केस वापस नहीं लिया, तो उनके चेहरे पर एसिड फेंक देंगे. इस घटना के कुछ ही दिन बाद पुलिस ने उन दोनों हमलावरों को गिरफ्तार कर लिया. उनसे पूछताछ करने पर पता चला कि एक हमलावर करण के खिलाफ केस करने वाली महिला की वकील का रिश्तेदार है. साथ ही उन हमलावरों ने ये भी बताया कि ये हमला प्लान करके किया गया था, जिसके लिए उन्हें 10 हज़ार रुपए दिए गए थे.

इसके बाद ओशिवाडा पुलिस ने आरोप लगाने वाली महिला को गिरफ्तार कर लिया है. इस गिरफ्तारी की पुष्टि डीसीपी मंजुनाथ सिंह ने की है. इससे पहले ‘जस्सी जैसी कोई नहीं’ फेम एक्टर करण ओबेरॉय को गिरफ्तार कर उनके खिलाफ मुंबई के ओशीवाडा थाने में धारा 376 (रेप) और 384 (जबरन वसूली) के तहत मुकदमे दर्ज कर लिया गया था. इसके बाद उन्हें मजिस्ट्रेट कोर्ट में पेश किया गया और 9 मई तक पुलिस कस्टडी में भेज दिया गया था. 6 मई को जब कोर्ट में ये सब चल रहा था, तो करण ने अपने ऊपर लगे सभी इल्जामों को गलत बताया और भरे कोर्ट में रो पड़े.

करण ओबेरॉय टीवी पर ‘जस्सी जैसी कोई नहीं’, ‘साया’, ‘दिशाएं’, ‘टाइटन अंताक्षरी’ और ‘द ग्रेट इंडियन लाफ्टर शो’ जैसे शोज़ का हिस्सा रह चुके हैं.
करण ओबेरॉय टीवी पर ‘जस्सी जैसी कोई नहीं’, ‘साया’, ‘दिशाएं’, ‘टाइटन अंताक्षरी’ और ‘द ग्रेट इंडियन लाफ्टर शो’ जैसे शोज़ का हिस्सा रह चुके हैं.

करण लगातार कहते आ रहे थे कि ये लड़की उन्हें जानबूझकर फर्जी केस में फंसाने की कोशिश कर रही है. करण ने बताया था कि वो इस लड़की से एक डेटिंग एप के ज़रिए मिले थे. इसके बाद से वो उन्हें लगातार परेशान करती रहीं. करण के म्यूज़िक बैंड के साथियों ने करण का पक्ष रखने के लिए एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की थी. यहां उन्होंने एक मैसेज पढ़कर सुनाया, जो आरोप लगाने वाली लड़की ने करण को भेजा था. इसमें उन्होंने करण से पूछा था कि क्या वो बिना फ्यूचर और इमोशन के बारे में सोचे उनके साथ शारीरिक संबंध बना सकते हैं? ये उनकी फिज़िकल जरूरत है लेकिन वो किसी और के साथ ये सब नहीं करना चाहतीं. इसके जवाब में करण ने लिखा कि फिलहाल वो इस तरह की मानसिक स्थिति में नहीं है. वो अपने करियर पर ध्यान देने में लगे हुए हैं.

अपने बैंड के साथियों के साथ करण (सबसे बाएं).
अपने बैंड के साथियों के साथ करण (सबसे बाएं).

इस घटना के बाद से लड़की ने करण को परेशान करना शुरू कर दिया. और बकौल करण के बैंड मेंबर्स ये सब कुछ प्लानिंग के साथ किया गया है. अगर ऐसा नहीं होता, तो वो महिला केस करने के लिए ऐसा समय नहीं चुनतीं जब कोर्ट की छुट्टी रहे और करण को बेल न मिल पाए. हालांकि अब करण को बेल मिल गई है. अपने साथ घटी इस तरह की घटना की वजह से करण #Metoo के बाद #MenToo कैंपेन के समर्थन में खड़े हो गए हैं. उनका मानना है कि सिर्फ महिलाएं ही नहीं पुरुषों को भी हैरस किया जाता रहा है और अब हमें इसके खिलाफ भी आवाज़ उठानी पड़ेगी.


वीडियो देखें: करन ओबेरॉय की बहन पूजा बेदी ने उनके बारे में अपना पक्ष रखा है

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

'निसर्ग' चक्रवात क्या है और ये कितना ख़तरनाक है?

'निसर्ग' नाम का मतलब भी बता रहे हैं.

कोरोना काल में क्रिकेट खेलने वाले मनोज तिवारी ‘आउट’

दिल्ली में हार के बाद बीजेपी का पहला बड़ा फैसला.

1 जून से लॉकडाउन को लेकर क्या नियम हैं? जानिए इससे जुड़े सवालों के जवाब

सरकार ने कहा कि यह 'अनलॉक' करने का पहला कदम है.

3740 श्रमिक ट्रेनों में से 40 प्रतिशत ट्रेनें लेट रहीं, रेलवे ने बताई वजह

औसतन एक श्रमिक ट्रेन 8 घंटे लेट हुई.

कंटेनमेंट ज़ोन में लॉकडाउन 30 जून तक बढ़ाया गया, बाकी इलाकों में छूट की गाइडलाइंस जानें

गृह मंत्रालय ने कंटेनमेंट ज़ोन के बाहर चरणबद्ध छूट को लेकर गाइडलाइंस जारी की हैं.

मशहूर एस्ट्रोलॉजर बेजान दारूवाला नहीं रहे, कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी

बेटे ने कहा- निमोनिया और ऑक्सीजन की कमी से हुई मौत.

लॉकडाउन-5 को लेकर किस तरह के प्रपोज़ल सामने आ रहे हैं?

कई मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया है कि 31 मई के बाद लॉकडाउन बढ़ सकता है.

क्या जम्मू-कश्मीर में फिर से पुलवामा जैसा अटैक करने की तैयारी में थे आतंकी?

सिक्योरिटी फोर्स ने कैसे एक्शन लिया? कितना विस्फोटक मिला?

लद्दाख में भारत और चीन के बीच डोकलाम जैसे हालात हैं?

18 दिनों से भारत और चीन की फौज़ आमने-सामने हैं.

शादी और त्योहार से जुड़ी झारखंड की 5000 साल पुरानी इस चित्रकला को बड़ी पहचान मिली है

जानिए क्या खास है इस कला में.