Submit your post

Follow Us

PM मोदी ने कहा, 'बीते 75 वर्षों में सिर्फ अधिकारों की बात करने की वजह से समाज में कमी आई'

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का हालिया वक्तव्य.उन्होंने कहा है कि बीते 75 साल में देश में जो अधिकारों पर जो बहस हुई, उस बहस ने देश को पीछे रखा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ये बात तब कही, जब वो 20 जनवरी को ब्रह्माकुमारी संस्था द्वारा आयोजित किए गए एक कार्यक्रम को वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिए संबोधित कर रहे थे. प्रधानमंत्री मोदी ने कहा,

“हमें ये भी मानना होगा कि आजादी के बाद के 75 वर्षों में, हमारे समाज में, हमारे राष्ट्र में, एक बुराई सबके भीतर घर कर गई है. ये बुराई है, अपने कर्तव्यों से विमुख होना. अपने कर्तव्यों को सर्वोपरि ना रखना. बीते 75 वर्षों में हम सिर्फ अधिकारों की बात करते रहे, अधिकारों के लिए जूझते रहे, झगड़ते रहे. समय भी खपाते रहे. अधिकार की बात, कुछ हद तक, कुछ समय के लिए, किसी एक परिस्थिति में सही हो सकती है. लेकिन अपने कर्तव्यों को पूरी तरह भूल जाना, इस बात ने भारत को कमजोर रखने में बहुत बड़ी भूमिका निभाई है.”

उन्होंने आगे कहा,

“भारत ने अपना बहुत बड़ा समय इसलिए गंवाया है क्योंकि कर्तव्यों को प्राथमिकता नहीं दी गई. इन 75 वर्षों में कर्तव्यों को दूर रखने की वजह से, जो खाई पैदा हुई है. सिर्फ अधिकार की बात करने की वजह से समाज में जो कमी आई है. उसकी भरपाई, हम मिलकर, आने वाले 25 वर्षों में कर्तव्य की साधना कर पूरी कर सकते हैं.”

‘देश को बदनाम करने की कोशिश’

अपने इस संबोधन में प्रधानमंत्री ने दावा किया कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारत की छवि को धूमिल करने के प्रयास चलते रहते हैं. उन्होंने कहा कि हम इन प्रयासों से ये कहकर पल्ला नहीं झाड़ सकते कि ये सिर्फ राजनीति है. प्रधानमंत्री ने कहा कि ये राजनीति नहीं, बल्कि देश का सवाल है.


उन्होंने कहा कि आज जब पूरा देश आजादी का अमृत महोत्सव मना रहा है, ऐसे में हमारा दायित्व है कि दुनिया भारत को सही रूप में जाने. प्रधानमंत्री ने आगे कहा कि ऐसी संस्थाएं, जिनकी एक अंतरराष्ट्रीय उपस्थिति है, वे दूसरे देशों के लोगों तक भारत की सही बात पहुंचाएं. भारत के बारे में जो अफवाहें फैलाई जा रही हैं, उनकी सच्चाई वहां के लोगों को बताएं, उन्हें जागरूक करें, ये भी हमारा कर्तव्य है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि अमृतकाल का ये समय, सोते हुए सपने देखने का नहीं बल्कि जागृत होकर अपने संकल्प पूरे करने का है. उन्होंने कहा कि सैकड़ों वर्षों की गुलामी में हमारे समाज ने जो गंवाया, ये 25 वर्ष का कालखंड, उसे दोबारा प्राप्त करने का है. उन्होंने ये भी कहा कि हमें अपनी संस्कृति, सभ्यता और संस्कारों को जीवंत रखना है.


वीडियो- PM मोदी के टेलीप्रॉम्प्टर वाले वीडियो की असली कहानी क्या है?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

छत्तीसगढ़ के रायपुर एयरपोर्ट पर सरकारी हेलीकॉप्टर क्रैश, दो पायलटों की मौत

छत्तीसगढ़ के रायपुर एयरपोर्ट पर सरकारी हेलीकॉप्टर क्रैश, दो पायलटों की मौत

क्रैश का कारण अभी साफ नहीं हो सका है.

जम्मू-कश्मीर में एक और कश्मीरी पंडित की हत्या, आतंकियों ने सरकारी दफ्तर में घुसकर गोली मारी

जम्मू-कश्मीर में एक और कश्मीरी पंडित की हत्या, आतंकियों ने सरकारी दफ्तर में घुसकर गोली मारी

मृतक राहुल भट्ट राजस्व विभाग में कार्यरत थे.

क्या क्रिप्टो करंसी के बुरे दिन शुरू हो गए हैं ? छह महीने में आधी हो गईं कीमतें

क्या क्रिप्टो करंसी के बुरे दिन शुरू हो गए हैं ? छह महीने में आधी हो गईं कीमतें

30% इनकम टैक्स के बाद अब 28% जीएसटी लगाने की तैयारी

पेट्रोल के दाम घटाने की मांग कर रहे विपक्षी राज्यों को पीएम मोदी ने नवंबर याद दिला दिया

पेट्रोल के दाम घटाने की मांग कर रहे विपक्षी राज्यों को पीएम मोदी ने नवंबर याद दिला दिया

मुख्यमंत्रियों के साथ वर्चुअल मीटिंग में पीएम मोदी ने नाम ले-लेकर सुनाया.

धार्मिक जुलूस की अनुमति की प्रक्रिया जान लो, जहांगीरपुरी हिंसा की वजह समझ आ जाएगी

धार्मिक जुलूस की अनुमति की प्रक्रिया जान लो, जहांगीरपुरी हिंसा की वजह समझ आ जाएगी

जानकारों ने जहांगीरपुरी में निकले जुलूस पर सवाल उठाए हैं.

लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे का सेनाध्यक्ष बनना खास क्यों है?

लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे का सेनाध्यक्ष बनना खास क्यों है?

मौजूदा आर्मी चीफ मनोज मुकुंद नरवणे के रिटायर्ड होने पर पदभार संभालेंगे.

LIC का IPO: सरकार अब जो करने जा रही है उससे छोटे निवेशकों को फायदा है

LIC का IPO: सरकार अब जो करने जा रही है उससे छोटे निवेशकों को फायदा है

LIC के IPO में बहुत कुछ बदलने जा रहा है. अगले हफ्ते आ सकता है अपडेटेड प्रॉस्पेक्टस.

RBI की इस पहल से सभी एटीएम से बिना कार्ड कैश निकलेगा!

RBI की इस पहल से सभी एटीएम से बिना कार्ड कैश निकलेगा!

अभी ये सुविधा कुछ ही बैंको तक सीमित है.

'शराबी' खिलाड़ी की जानलेवा हरकत की वजह से मरते-मरते बचे थे युजवेंद्र चहल, अब किया खुलासा

'शराबी' खिलाड़ी की जानलेवा हरकत की वजह से मरते-मरते बचे थे युजवेंद्र चहल, अब किया खुलासा

2013 की बात है जब चहल मुंबई इंडियन्स की तरफ से खेलते थे.

आकार पटेल के खिलाफ लुकआउट सर्कुलर जारी करने वाली CBI अब उनसे माफी मांगेगी

आकार पटेल के खिलाफ लुकआउट सर्कुलर जारी करने वाली CBI अब उनसे माफी मांगेगी

कोर्ट ने आकार पटेल को बड़ी राहत दी है.