Submit your post

Follow Us

बारिश, ओले भी इन शराब प्रेमियों के कदम डिगा नहीं सके!

नैनीताल में लॉकडाउन में करीब 40 दिनों के बाद 5 मई को शराब की दुकानें खुलीं. आस लगाए लोग दुकानों पर पहुंचे ही थे कि भयंकर बारिश और ओले गिरने शुरू हो गए. लगा कि जियालों के पैर उखड़ जाएंगे. लेकिन मज़ाल थी! सारे शौकीन इस कदर दुकानों के सामने डटे रहे कि मानो आज ही शराब खत्म होने जा रही है.

ये नैनीताल में मॉल रोड का वीडियो है. पानी गिर रहा था. जबरदस्त ओला पड़ रहा था. लेकिन शराब के शौकीनों ने पैर नहीं हिलने दिए. 4 मई को उत्तराखंड और 5 मई को नैनीताल में शराब की दुकानें खुलने के बाद जब घंटे भर पानी बरसा, लोग तब भी ठेके के सामने से नहीं डिगे.

नैनीताल में पहली बार शराब की दुकान खुलीं, तो लोग सुबह सात बजे से ही शराब खरीदने के लिए लाइन में लग गए.

तीसरे चरण में कुछ छूट दी गई है

दरअसल 4 मई से लॉकडाउन का तीसरा चरण शुरू हुआ. इसमें कई जगहों पर शराब की दुकानें खोलने की इजाज़त दी गई है. लेकिन सभी बेसिक कोरोना प्रोटोकॉल, जैसे सोशल डिस्टेंसिंग वगैरह के साथ. ये भी कहा गया है कि एक बार में दुकान के भीतर पांच लोग ही रह सकेंगे.

इससे पहले दिल्ली में भी जब 4 मई को शराब की दुकानें खुलीं, तो भयंकर भीड़ टूट पड़ी थी. कोई सोशल डिस्टेंसिंग नहीं. कोई कोरोना प्रोटोकॉल नहीं. दोपहर होते-होते ही दिल्ली सरकार ने कह दिया कि सारी दुकानें बंद करो. हालांकि इसके बाद दिल्ली सरकार ने 4 मई की रात को ही शराब पर 70% टैक्स लगाने का ऐलान कर दिया.

वैसे, दिल्ली और नैनीताल की भीड़ में एक बड़ा अंतर रहा. दिल्ली में जहां लोग एक के ऊपर एक लदे जा रहे थे, वहीं नैनीताल में सोशल डिस्टेंसिंग का ख़याल रखा गया.


लॉकडाउन के बीच शराब की दुकानों पर भीड़ देखकर सरकार अपने फैसले पर विचार करेगी?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

इज़रायल का दावा, कोरोना की दवा मिल गयी!

बस बड़े लेवल पर निर्माण का इंतज़ार.

कोरोनावायरस : आंकड़े की जांच हुई तो पश्चिम बंगाल का सच सामने आ गया!

पश्चिम बंगाल का कोरोना से जुड़ी मौतों का आंकड़ा छिपा रहा है?

दिल्ली में शराब पर सरकार की ‘स्पेशल फीस’

..ताकि ‘रहें सलामत पीने वाले’.

लद्दाख BJP अध्यक्ष ने छोड़ी पार्टी, कहा- लद्दाख के लोगों के बारे में न पार्टी सुन रही, न प्रशासन

चेरिंग दोरजे दो महीने पहले ही अध्यक्ष बनाए गए थे.

सूरत में प्रवासी मज़दूरों का सब्र फिर जवाब दे गया है

इस बार भी बीच में पुलिस ही पिस रही है.

यूपी : CM योगी के मृत पिता के बहाने लॉकडाउन में बद्रीनाथ-केदारनाथ जा रहे थे विधायक, पुलिस ने धर लिया

नौतनवा के विधायक अमनमणि त्रिपाठी का है मामला.

जानिए कौन हैं जम्मू कश्मीर के हंदवाड़ा में शहीद हुए पांच सुरक्षाकर्मी

सुरक्षाकर्मी आतंकियों के कब्जे से आम लोगों को निकालने के लिए गए थे.

दिल्ली में एक ही बिल्डिंग में मिले कोरोना के 58 पॉजिटिव मरीज

जिन्हें संक्रमण हुआ है वो लोग एक ही टॉयलेट इस्तेमाल करते थे.

कुलभूषण जाधव मामले में वकील हरीश साल्वे ने खोले पाकिस्तान के कई बड़े राज

भारतीय अधिवक्ता परिषद के ऑनलाइन लेक्चर में कई बातें बताईं.

लोकपाल मेंबर कोरोना पॉज़िटिव पाए गए थे, अब हार्ट अटैक से मौत हो गई

अप्रैल से एम्स में थे अजय कुमार त्रिपाठी.