Submit your post

Follow Us

बिना इंटरनेट 200 रुपये तक की पेमेंट कर सकेंगे, RBI ने जारी किए नियम

अब बिना स्मार्टफोन या इंटरनेट कनेक्शन के भी 200 रुपये तक का कैशलेस भुगतान किया जा सकेगा. रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने ग्रामीण और कस्बाई इलाकों में डिजिटल ट्रांजैक्शन को बढ़ावा देने के लिए पिछले साल यह पहल की थी. सोमवार 3 जनवरी को इसका फ्रेमवर्क जारी करते हुए नियमों को मंजूरी दे दी गई.

योजना के तहत एक बार में अधिकतम 200 रुपये का ही पेमेंट हो सकेगा. वह भी अधिक से अधिक 2000 रुपये तक. एक डिवाइस पर ऑफलाइन मोड में कुल 2000 रुपये से ज्यादा का भुगतान करने के लिए कम से कम एक बार ऑनलाइन मोड में जाकर बैलेंस भरवाना होगा.

RBI की ओर से स्कीम का फ्रेमवर्क (Framework for facilitating small value digital payments in offline mode) जारी करते हुए बताया गया कि सितंबर 2020 से जुलाई 2021 के बीच देश के कुछ इलाकों में इसकी टेस्टिंग की गई थी. उससे मिले रेस्पॉन्स के बाद 6 अगस्त को इस पायलट स्कीम को मंजूरी दी गई थी. RBI के मुताबिक छोटी वैल्यू के ऑफलाइन भुगतान को संभव बनाने और इसके लिए तकनीक विकसित करने की दिशा में काम हो रहा है. आने वाले समय में इसे अधिक सशक्त बनाया जा सकेगा. स्कीम का मकसद फीचर फोन रखने वाले ग्रामीण लोगों या बिना इंटरनेट या कमजोर कनेक्टिविटी वाले इलाकों में डिजिटल पेमेंट की सुविधा दिलाना है.

स्कीम के तहत ऑफलाइन मोड में कार्ड, वॉलेट और मोबाइल से आमने-सामने भुगतान किया जा सकता है. यानी इस दौरान भुगतान देने वाले और लेने वाले की मौजूदगी जरूरी होगी. इसके लिए किसी विशेष ऑथेंटिकेशन (Additional Factor of Authentication-AFA) की जरूरत नहीं होगी. पेमेंट ऑफलाइन होने के चलते इसका कन्फर्मेशन अलर्ट थोड़ी देरी से मिलेगा. हालांकि आरबीआई इसके लिए आगे नियमों में समय समय पर बदलाव कर सकता है. इस तरह के भुगतान में पैदा होने वाले विवादों या शिकायतों के लिए लोग आरबीआई की इंटिग्रेटेड ओम्बड्समैन स्कीम की मदद भी ले सकते हैं.


ये फाइनेंशल इंडिकेटर्स बताएंगे कि आपके बैंक की माली हालत कैसी है

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

राजीव गांधी के हत्यारे को सुप्रीम कोर्ट ने रिहा किया, जानिए किस कानून का इस्तेमाल हुआ?

राजीव गांधी के हत्यारे को सुप्रीम कोर्ट ने रिहा किया, जानिए किस कानून का इस्तेमाल हुआ?

वो पेरारिवलन, जिसने राजीव गांधी की हत्या में इस्तेमाल जैकेट के लिए बैटरी सप्लाई की थी

सुप्रीम कोर्ट में बाबरी मस्जिद वाले जज सुनेंगे ज्ञानवापी मस्जिद वाला केस!

सुप्रीम कोर्ट में बाबरी मस्जिद वाले जज सुनेंगे ज्ञानवापी मस्जिद वाला केस!

मामला सुप्रीम कोर्ट क्यों गया?

LIC-IPO की लिस्टिंग पर लगी 42,500 करोड़ की चपत, अब क्या करें ?

LIC-IPO की लिस्टिंग पर लगी 42,500 करोड़ की चपत, अब क्या करें ?

ऑफर प्राइस से 8% नीचे लिस्ट हुआ देश का सबसे बड़ा IPO

मुंडका अग्निकांड: मृतकों का आंकड़ा 26 तक पहुंचा, बचाव के लिए NDRF को बुलाया गया

मुंडका अग्निकांड: मृतकों का आंकड़ा 26 तक पहुंचा, बचाव के लिए NDRF को बुलाया गया

इस घटना ने दिल्ली के लोगों को हिलाकर रख दिया है.

छत्तीसगढ़ के रायपुर एयरपोर्ट पर सरकारी हेलीकॉप्टर क्रैश, दो पायलटों की मौत

छत्तीसगढ़ के रायपुर एयरपोर्ट पर सरकारी हेलीकॉप्टर क्रैश, दो पायलटों की मौत

क्रैश का कारण अभी साफ नहीं हो सका है.

जम्मू-कश्मीर में एक और कश्मीरी पंडित की हत्या, आतंकियों ने सरकारी दफ्तर में घुसकर गोली मारी

जम्मू-कश्मीर में एक और कश्मीरी पंडित की हत्या, आतंकियों ने सरकारी दफ्तर में घुसकर गोली मारी

मृतक राहुल भट्ट राजस्व विभाग में कार्यरत थे.

क्या क्रिप्टो करंसी के बुरे दिन शुरू हो गए हैं ? छह महीने में आधी हो गईं कीमतें

क्या क्रिप्टो करंसी के बुरे दिन शुरू हो गए हैं ? छह महीने में आधी हो गईं कीमतें

30% इनकम टैक्स के बाद अब 28% जीएसटी लगाने की तैयारी

पेट्रोल के दाम घटाने की मांग कर रहे विपक्षी राज्यों को पीएम मोदी ने नवंबर याद दिला दिया

पेट्रोल के दाम घटाने की मांग कर रहे विपक्षी राज्यों को पीएम मोदी ने नवंबर याद दिला दिया

मुख्यमंत्रियों के साथ वर्चुअल मीटिंग में पीएम मोदी ने नाम ले-लेकर सुनाया.

धार्मिक जुलूस की अनुमति की प्रक्रिया जान लो, जहांगीरपुरी हिंसा की वजह समझ आ जाएगी

धार्मिक जुलूस की अनुमति की प्रक्रिया जान लो, जहांगीरपुरी हिंसा की वजह समझ आ जाएगी

जानकारों ने जहांगीरपुरी में निकले जुलूस पर सवाल उठाए हैं.

लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे का सेनाध्यक्ष बनना खास क्यों है?

लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे का सेनाध्यक्ष बनना खास क्यों है?

मौजूदा आर्मी चीफ मनोज मुकुंद नरवणे के रिटायर्ड होने पर पदभार संभालेंगे.