Submit your post

Follow Us

लंबे वक्त तक क्रिकेट के नक्शे पर पाकिस्तान को जिंदा रखा था इस जोड़ी ने

बीते 17 सालों में तमाम उतार-चढ़ावों के बीच अगर पाकिस्तान क्रिकेट को कोई आगे बढ़ाता रहा  है, तो वो ये जोड़ी है. मिस्बाह-उल-हक और यूनिस खान की जोड़ी. दोनों खिलाड़ी अपने देश के लिए हर मोर्चे पर मजबूती से खड़े रहे. दोनों ने न सिर्फ देश के लिए हजारों रन जोड़े, वो टीम के लिए काबिल लीडर्स और मोटिवेटर्स भी रहे. साल 2017 में वेस्ट इंडीज के खिलाफ तीन मैचों की सीरिज के आखिरी मुकाबले में जीत के साथ दोनों ने अपने टेस्ट करियर को अलविदा कहा. ODIs से पहले ही रिटायर हो चुके हैं. एक नजर दोनों से जुड़ी उन बातों पर, जिनके लिए इन्हें याद रखा जाएगा.

मिस्बाह-उल-हक़

#1

इस पाकिस्तानी खिलाड़ी ने साल 2001 में अपने टेस्ट करियर की शुरुआत की और करीब 2010 तक ऐसा कभी नहीं लगा था कि ये खिलाड़ी आने वाले 7 सालों में टीम को इतनी मजबूती देगा. 2001-10 के बीच में पाकिस्तान ने 79 टेस्ट मैच खेले, जिसमें मिस्बाह को 19 मैच खेलने का मौका मिला. 36 साल की उम्र में परिस्थितियां यूं बदलीं कि मिस्बाह को टीम की कमान भी मिल गई. अपने करियर के शुरुआती 9 सालों यानी 2010 तक मिस्बाह ने 33.60 की औसत से सिर्फ 1008 रन बनाए. कप्तानी मिलते ही इस खिलाड़ी ने 8 सेंचुरी, 35 हाफ सेंचुरी के साथ 4225 रन बनाए.

 

मिस्बाह-उल-हक़
मिस्बाह-उल-हक़

 

#2
खास बात ये कि मिस्बाह के ये 4225 रन भारतीय महाद्वीप से किसी भी कप्तान के बनाए गए रनों में सबसे ज्यादा हैं. मिस्बाह की इस परफॉर्मेंस से न सिर्फ उनके करियर को नया जीवन मिला, बल्कि पाकिस्तान टीम को भी अपना रिकॉर्ड दुरुस्त करने में मदद मिली. मिस्बाह की कप्तानी में पाकिस्तान ने 57 टेस्ट खेले, जिनमें 26 में जीत मिली.

#3
6 साल की ये कप्तानी पाकिस्तान के क्रिकेट इतिहास में सबसे लंबी है. मिस्बाह-उल-हक ने टीम की कमान इमरान खान और इंजमाम उल हक से भी ज्यादा टाइम तक संभाली. अपनी धरती पर हुए आतंकी हमले के चलते मिस्बाह ने पाकिस्तान की कमान उस समय संभाली, जब ये देश के लिए बुरा दौर था. UAE के मैदानों को होमग्राउंड बनाकर क्रिकेट खेला. न तो अपना क्राउड मिला, न अपनी पिच, न माहौल और न ही इंटरनेशनल क्रिकेट में वो हैसियत. बावजूद इन सबके मिस्बाह-उल-हक की कप्तानी में इस टीम ने विदेशी जमीं पर दुनिया में सबसे ज्यादा जीतें दर्ज कीं. इस मामले में मिस्बाह ने ऑस्ट्रेलिया के लेजेंड्स स्टीव वॉ और रिकी पॉटिंग (19), साउथ अफ्रीकन ग्रीम स्मिथ (23) को भी पीछे छोड़ दिया.

#4
यही नहीं, 42 साल के मिस्बाह भारतीय महाद्वीप से दूसरे सबसे सफल टेस्ट कप्तान हैं. पहला नंबर भारत के एमएस धोनी का है.

#5
24 सितंबर, 2007 का दिन इंडिया और मिस्बाह-उल-हक के लिए बेहद यादगार है. 1983 की विश्व कप जीत के बाद इंडिया पहली बार टाइटल के इतने करीब था. मगर T-20 विश्व कप के फाइनल में पाकिस्तान के कप्तान मिस्बाह के बल्ले से निकला एक-एक रन इंडिया को जीत से दूर ले जा रहा था. जोहन्सबर्ग में हो रहे इस मुकाबले में मिस्बाह ने 38 गेंदों में 43 रन मारे थे. मैच आखिरी ओवर तक गया था और आखिर विकेट मिस्बाह का ही था.

2007 में वर्ल्ड T20 के फाइनल में इंडिया के खिलाफ मैच को आखिरी ओवर तक ले गए थे
2007 में वर्ल्ड T20 के फाइनल में मिस्बाह इंडिया के खिलाफ मैच को आखिरी ओवर तक ले गए थे

यूनिस खान

युनिस खान
यूनिस खान

 

#1
साल 2000 में श्रीलंका के खिलाफ अपना टेस्ट करियर शुरू किया था. ये वो खिलाड़ी हैं, जिन्होंने पाकिस्तान क्रिकेट की उस खेप के साथ ड्रेसिंग रूम शेयर किया, जिनका नाम पाकिस्तान के गोल्डन इरा में आता है. राशिद लतीफ, मोइन खान, इंजमाम-उल-हक, वसीम अकरम और सईद अनवर के दौर में शुरुआत हुई थी यूनिस के करियर की.

#2
पाकिस्तान के लिए सबसे ज्यादा टेस्ट रन इसी इंसान के बल्ले से निकले हैं. 10,000 से ज्यादा रन बनाने वाले यूनिस के नाम ही देश में सबसे ज्यादा सेंचुरी भी हैं. इनके नाम 118 टेस्ट मैचों में 10099 रन हैं, 34 सेंचुरी और 33 हाफ-सेंचुरी.

#3
टेस्ट करियर में 52.06 की औसत से रन बनाए हैं. चौथी पारी में भी औसत 50.51 रखना किसी अजूबे से कम नहीं. खुद राहुल द्रविड़ का चौथी पारी में औसत 40 के करीब का है. राहुल द्रविड़ का जिक्र इसलिए क्योंकि यूनिस द्रविड़ को ही अपना बैटिंग आदर्श मानते रहे हैं.
#4
यूनिस इकलौते ऐसे पाकिस्तानी प्लेयर हैं, जिन्होंने हर टेस्ट खेलने वाले देश के खिलाफ सेंचुरी बनाई है. अपने टेस्ट करियर के शुरुआती सालों में टीम से अंदर-बाहर होने के बावजूद ये प्लेयर देश का दूसरा ऐसा खिलाड़ी है, जिसने 4000 टेस्ट रन का आंकड़ा तेजी से पार किया. पहले नंबर पर जावेद मियांदाद हैं. विदेशी जमीं पर यूनिस भरोसेमंद खिलाड़ी रहे हैं.

#5
ODIs में भी 265 बार मैदान पर उतरने के बाद यूनिस ने 7249 रन बनाए और 2015 में रिटायर हो गए. इनका रिकॉर्ड भारत के खिलाफ किसी भी पाकिस्तानी खिलाड़ी के ड्रीम रिकॉर्ड सा है. टेस्ट में इंडिया के खिलाफ यह औसत 88.06 है. इंडिया के खिलाफ खान ने 9 टेस्ट मैचों में 1321 रन बनाए, जिसमें 5 सेंचुरी और 4 हाफ-सेंचुरी शामिल हैं. इंडिया की जमीं पर आकर यूनिस ने 76.80 की औसत से रन ठोके. ODIs में उनकी 7 सेंचुरी में से 3 इंडिया के खिलाफ हैं.


वेस्ट इंडीज़ के ODI कैप्टन कायरन पोलार्ड की कहानी, जिनके पास कभी खाने के पैसे नहीं थे

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

खेत में काम करने वाले मज़दूरों के ट्रैक्टर पर बिजली का वायर गिरा, नौ ने वहीं दम तोड़ दिया

रोज ट्रैक्टर की ट्रॉली में बैठकर दूसरे के खेत में काम करने जाते थे, ताकि कुछ पैसे आ जाएं.

22 मई से शुरू होगा प्रीमियर लीग, इस आइलैंड में भिड़ने वाले हैं क्रिकेट के दिग्गज

पहली बार गेंद पर थूक के बिना खेला जाएगा क्रिकेट मैच.

एमएस धोनी पर चैपल के बोलते ही गुस्से से लाल हो गए हरभजन सिंह!

इंडियन क्रिकेट की बात आई, तो फिर युवराज सिंह भी नहीं रुके.

कोरोना : साइकिल पर फूड डिलिवरी कर रहा है ओलंपिक सिल्वर मेडलिस्ट!

स्पॉन्सर्स को मना कर, खुद मेहनत कर रहा ओलंपियन.

अगर ख़ुश हैं कि EPF में बदलाव से ज़्यादा सैलरी मिलेगी, तो रुक जाइए!

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने EPF योगदान में कटौती का ऐलान किया था.

पालघर मॉब लिंचिंग: अब तक 141 आरोपी गिरफ्तार हुए, एक कोरोना पॉजिटिव निकला

दो साधुओं समेत तीन लोगों को भीड़ ने मार डाला था.

सुरक्षाबलों ने जम्मू-कश्मीर में एक्टिव टॉप-10 मोस्ट वॉन्टेड आतंकियों की लिस्ट जारी की

लश्कर-ए-तैयबा, जैश-ए-मोहम्मद और हिजबुल मुजाहिदीन के आतंकी शामिल.

अब किसको धमकी दे रहे हैं सलमान खान?

लॉकडाउन का उल्लंघन कर पनवेल से मुंबई आ गए सलमान?

20 लाख करोड़ के राहत पैकेज की दूसरी किस्त में किसे क्या मिला?

किसान, मजदूर और रेहड़ी वालों के लिए आर्थिक पैकेज में अहम ऐलान.

JJP से चुनाव लड़ चुके पूर्व विधायक शराब चोरी के आरोप में गिरफ्तार

हरियाणा पुलिस ने चंडीगढ़ से पकड़ा.