Submit your post

Follow Us

रेप के बदले रेपिस्ट की बहन से रेप किया गया, वो भी परिवार की मर्जी से!

एक आदमी ने एक औरत का बलात्कार किया. बात खुली. रेपिस्ट के परिवारवालों ने माफी मांगी. रेप विक्टिम के परिवार ने माफ करने की शर्त रखी. रेपिस्ट के परिवार ने शर्त मान ली. शर्त के मुताबिक, रेप विक्टिम के भाई ने रेपिस्ट की बहन का रेप किया. दोनों परिवारों की रजामंदी से ‘इंसाफ’ हो गया.

20 मार्च को पहला बलात्कार हुआ. दूसरी शर्मिंदगी 21 मार्च को घटी. पाकिस्तान के पंजाब में एक टोबा टेक सिंह नाम का जिला है. मंटो को पढ़ने वालों ने इसका जिक्र पढ़ा होगा. यहीं पर हुआ ये. परिवार के 12 लोगों ने मिल-बैठकर तय कर लिया. कि एक बलात्कारी को सजा देने के लिए उसकी बहन के साथ बलात्कार किया जाए.

पाकिस्तान में पारंपरिक पंचायतों का एक खास नाम है- जिरगा. इनके न्याय का कॉन्सेप्ट बेहद आदिम है. बेहद क्रूर. अक्सर ये अपने घिनौने फैसलों की वजहों से खबरों में आते रहते हैं.
पाकिस्तान में पारंपरिक पंचायतों का एक खास नाम है- जिरगा. रेप के बदले रेप, अक्सर ये पंचायतें इसी तरह के घिनौने फैसलों की वजहों से खबरों में आती रहती हैं. मगर ये टोबा टेक सिंह वाले केस में पंचायत की कोई भूमिका नहीं. ये दोनों परिवारों की आपसी मिलीभगत से हुआ.

पहले भी कई बार ऐसा हो चुका है
जुलाई 2017 में भी ऐसा ही हुआ था. मुल्तान की बात थी तब. 16 साल के एक लड़के ने 13 बरस की एक लड़की के साथ बलात्कार किया. लड़की उसके पड़ोस में रहती थी. मामला पंचायत में पहुंचा. पंचायत ने ‘न्याय’ किया. उस लड़की के भाई ने उस लड़के की बहन का रेप किया. दूसरी लड़की 17 बरस की थी. बाद में दोनों परिवारों ने एक-दूसरे के खिलाफ रेप की शिकायत दर्ज करवा दी. तब जाकर ये मामला खुला. शायद इसी वजह से पीरमहल की इस हालिया घटना में दोनों परिवारों ने स्टैम्प पेपर पर करार करवाने की सोची.

जुलाई 2017 में मुल्तान के इसी घर में, इसी कमरे के अंदर 16 साल की एक लड़की के साथ हुए बलात्कार का बदला लेने के लिए एक 17 साल की लड़की के साथ बलात्कार किया गया. ये सब इंसाफ के नाम पर हुआ. आपसी रजामंदी से हुआ. पंचायत के फैसले पर हुआ.
जुलाई 2017 में मुल्तान के इसी घर में, इसी कमरे के अंदर 16 साल की एक लड़की के साथ हुए बलात्कार का बदला लेने के लिए एक 17 साल की लड़की के साथ बलात्कार किया गया. ये सब इंसाफ के नाम पर हुआ. आपसी रजामंदी से हुआ. पंचायत के फैसले पर हुआ.

जनवरी 2014 में भी ऐसा ही हुआ था. एक आदमी का अपने ही गांव की एक औरत के साथ अफेयर था. जब बात खुली, तो दोनों परिवारों के बीच गर्मागर्मी हुई. मामला पंचायत के पास पहुंचा. पंचायत ने फैसला सुनाया. उस आदमी की एक बहन थी. 45 बरस की. विधवा. पंचायत ने कहा, बदला उससे लिया जाए. पंचायत के फरमान पर उसका गैंगरेप किया गया. तीन लोगों ने बारी-बारी से कई बार उसका बलात्कार किया.

औरतों को इस हाल में लाने वाले गांव-शहर खत्म क्यों नहीं हो जाते? उनको बर्बाद हो जाना चाहिए.


ये भी पढ़ें: 

पाकिस्तान की औरतों ने इससे पहले रेप पर इतनी खुलकर बात नहीं की थी

भाई के अफेयर के बदले बहन को नंगा करने वालों का दिमाग कैसा होता है!

पाकिस्तान में 7 साल की बच्ची के रेप के बाद न्यूज़ एंकर अपनी बेटी के साथ TV पर आई

सुहागरात पर अपनी दुल्हन का लोहे की रॉड से रेप किया


पाकिस्तान जिंदाबाद कहा, लेकिन इसका पूरा सच आपको हैरान करेगा

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

NEET-PG काउंसलिंग में OBC और EWS कोटे को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने क्या कहा? जानिए

इस फैसले के बाद जल्द ही काउंसलिंग शुरू होने की उम्मीद

BJP के पूर्व सांसद ने ये किस नेता को यूपी के सीएम का उम्मीदवार बना दिया?

जब BJP के पूर्व सांसद ने यह घोषणा की तो बगल में खड़े इस नेता ने जानिए क्या किया?

7 महीने बाद देश में एक दिन में आए कोरोना के 1 लाख से ज्यादा केस, 300 से ज्यादा मौतें

देश में ओमिक्रॉन के 3 हजार से ज्यादा मामले

PM मोदी की सुरक्षा में कथित चूक पर सोनिया गांधी ने चन्नी से क्या कहा?

केंद्र की तरफ से कौन-कौन करने जा रहा है घटना की जांच?

जोहानसबर्ग की हार के बाद सोशल मीडिया पर ये क्या ट्रेंड हुआ!

कोहली से लेकर कप्तानी तक.

फिरोजपुर से पहले कब-कब पीएम मोदी की सुरक्षा में हुई है भारी चूक?

एक बार तो खुद पीएम मोदी के काफिले की गाड़ी रास्ता भटक गई थी.

जिस रैली में पीएम मोदी नहीं पहुंच पाए, वहां क्या कुर्सियां सच में खाली थीं?

रैली स्थल पर असल में क्या हुआ था?

बुल्ली बाई मामले के 'मुख्य साजिशकर्ता' नीरज बिश्नोई के पिता ने उसके बारे में क्या बताया?

नीरज बिश्नोई के कॉलेज ने उसे सस्पेंड कर दिया है.

भारत में ओमिक्रॉन से दूसरी मौत की पुष्टि, ओडिशा में 55 वर्षीय महिला ने दम तोड़ा

स्थानीय प्रशासन ने बयान जारी कर इसकी पुष्टि की है.

PM मोदी को पंजाब से लौटने पर मजबूर करने वाले BKU-क्रांतिकारी और उसके मुखिया के बारे में क्या जानते हैं?

BKU-क्रांतिकारी के प्रमुख सुरजीत सिंह फूल पर UAPA क्यों लगा था?