Submit your post

Follow Us

विराट के खिलाफ हो रही है साज़िश, शोएब अख्तर का बड़ा खुलासा!

पाकिस्तान के पूर्व तेज़ गेंदबाज़ शोएब अख्तर (Shoaib Akhtar) ने T20 विश्वकप में टीम इंडिया के खराब प्रदर्शन पर बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा है कि भारत का ड्रेसिंग रूम दो खेमों में बंटा हुआ है. जिसमें एक खेमा विराट कोहली के साथ है और दूसरा खेमा विराट के खिलाफ. गौरतलब है कि T20 विश्वकप 2021 में भारत के लिए आखिरी बार विराट कोहली कप्तानी कर रहे हैं.

ऐसे में उनसे उम्मीदें थीं कि जाते-जाते एक ICC टूर्नामेंट तो विराट की कप्तानी में जीतेंगे हीं. लेकिन हालात ऐसे बने हैं कि टीम इंडिया को सेमीफाइनल में पहुंचने के लिए किसी चमत्कार की ज़रूरत है. बता दें कि भारत को सबसे पहले पाकिस्तान ने दस विकेट से रौंदा. इसके बाद न्यूज़ीलैंड के खिलाफ अहम मुकाबले में भी टीम इंडिया को हार मिली. लगातार दो हार के बाद विराट कोहली एंड कंपनी की खूब आलोचना हो रही है.

ऐसे में शोएब अख्तर विराट कोहली और टीम इंडिया के बचाव में उतरे. उन्होंने अपने यूट्यूब चैनल पर कहा,

‘क्यों, मैं ऐसा देख पा रहा हूं कि टीम इंडिया दो हिस्सों में बंट गई है? एक कोहली के साथ है और एक उनके खिलाफ. यह बिल्कुल साफ है. टीम बंटी हुई लग रही है. मुझे नहीं पता कि ऐसा क्यों हो रहा है, शायद इसलिए क्योंकि बतौर कप्तान विराट का ये आखिरी T20 विश्वकप है.

ऐसा हो सकता है कोहली ने गलत फैसले लिए, जो सही बात भी है. लेकिन कोहली बेस्ट क्रिकेटर हैं और खुदा का वास्ता हमें उनका सम्मान करना चाहिए.’

इसके अलावा शोएब अख्तर ने टीम इंडिया के खिलाड़ियों को गाली देने वालों को भी लताड़ा है. अख्तर ने कहा,

‘हां, आलोचना महत्वपूर्ण है क्योंकि टीम इंडिया ने न्यूज़ीलैंड के खिलाफ खराब खेला और खराब एटीट्यूड के साथ. न्यूज़ीलैंड के खिलाफ टॉस हरने के बाद हर किसी का सिर झुका हुआ था. किसी के पास कोई आइडिया ही नहीं था. भारत ने सिर्फ टॉस हारा था. मैच नहीं. सब लोग वहां मौजूद थे. और किसी के पास कोई गेम प्लान नहीं.’

भारतीय टीम की हार के बाद से सोशल मीडिया पर कुछ गुमनाम ट्रोल्स कप्तान विराट कोहली और भारतीय टीम के कई खिलाड़ियों को निशाना बना रहे हैं. उन खिलाड़ियों के खराब प्रदर्शन का ज़िम्मेदार उनके परिवारों को भी बताया जा रहा है. जिसकी कड़ी आलोचना की जानी चाहिए.

बता दें कि भारत का अगला मैच अफ़गानिस्तान के साथ है. भारत का ये तीसरा मुकाबला है. और कोहली सेना हर हाल में जीत दर्ज करने उतरेगी.


श्रीलंका के बटलर और हसरंगा ने कोहली को बता दिया कि मैच में करना क्या था

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

'स्पाइडर मैन : नो वे होम' का ऐसा भौकाल है कि एडवांस खिड़की पर रिकॉर्ड टूट गए

'स्पाइडर मैन : नो वे होम' का ऐसा भौकाल है कि एडवांस खिड़की पर रिकॉर्ड टूट गए

ब्लैक में टिकट खरीदने का ज़माना लौट आया है बॉस!

आतंकी हमले में जम्मू-कश्मीर के 14 पुलिसकर्मी घायल, 2 शहीद, PMO ने डिटेल्स मांगी

आतंकी हमले में जम्मू-कश्मीर के 14 पुलिसकर्मी घायल, 2 शहीद, PMO ने डिटेल्स मांगी

हमला श्रीनगर से जुड़े इलाके में हुआ है.

जानिए CDS बिपिन रावत के साथ हेलिकॉप्टर में कौन-कौन सवार था?

जानिए CDS बिपिन रावत के साथ हेलिकॉप्टर में कौन-कौन सवार था?

क्रैश हुए हेलिकॉप्टर में कुल 14 लोग मौजूद थे

ट्रैवल हिस्ट्री नहीं होने के बाद भी डॉक्टर के ओमिक्रॉन से संक्रमित होने पर डॉक्टर्स क्या बोले?

ट्रैवल हिस्ट्री नहीं होने के बाद भी डॉक्टर के ओमिक्रॉन से संक्रमित होने पर डॉक्टर्स क्या बोले?

बेंगलुरु में 46 साल के एक डॉक्टर कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन से संक्रमित पाए गए हैं.

क्या BYJU'S अच्छी शिक्षा देने के नाम पर लोगों को अनचाहा लोन तक दिलवा रही है?

क्या BYJU'S अच्छी शिक्षा देने के नाम पर लोगों को अनचाहा लोन तक दिलवा रही है?

ये रिपोर्ट कान खड़े कर देगी.

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

इस्तीफे में पराग अग्रवाल के लिए क्या-क्या बोले जैक डोर्से?

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

UP STF ने 23 संदिग्धों को गिरफ्तार किया.

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

संसद का शीतकालीन सत्र 29 नवंबर से 23 दिसंबर तक चलेगा.

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

पीएम मोदी ने गुरुवार 25 नवंबर को इस एयरपोर्ट का शिलान्यास किया.

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

पिछले विधानसभा चुनाव में त्रिकोणीय मुकाबला था, इस बार त्रिकोणीय से बढ़कर होगा.