Submit your post

Follow Us

परिवार सहित अंडरग्राउंड हुआ खान चाचा रेस्टोरेंट का मालिक नवनीत कालरा

दिल्ली में ऑक्सीजन कंसंट्रेटर (Oxygen Concentrator) की कालाबाजारी का मामला सामने आया है. दिल्ली के कई नामी-गिरामी रेस्टोरेंट्स में छापा मारकर पुलिस ने 500 के करीब ऑक्सीजन कंसंट्रेटर बरामद किए हैं. शुक्रवार, 7 मई को खान मार्केट में खान चाचा रेस्टोरेंट में भी पुलिस ने छापा मारा. यहां से अब तक कुल 425 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर जब्त किए गए हैं. पुलिस ने रेस्टोरेंट को सील कर दिया है. पुलिस को रेस्टोरेंट के मालिक नवनीत कालरा की तलाश है. सबसे पहले नवनीत कालरा के स्वामित्व वाले नेगे एंड जू बार से ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की बरामदगी शुरू हुई थी. बताया जा रहा है कि जल्द ही ये केस दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच को ट्रांसफर किया जाएगा. क्योंकि ऑक्सीजन कंसंट्रेटर कालाबाजारी के तार खान मार्केट से लंदन तक जुड़े हैं.

नवनीत कालरा अंडरग्राउंड

आज तक के अरविंद ओझा और तनसीम हैदर की रिपोर्ट के मुताबिक, दिल्ली पुलिस के सूत्रों ने बताया कि जैसे ही दिल्ली पुलिस ने खान मार्केट में नवनीत कालरा के रेस्टोरेंट में रेड मारकर ऑक्सीजन कंसंट्रेटर बरामद किया, नवनीत कालरा ने अपना मोबाइल फोन बंद कर लिया और परिवार सहित अंडरग्राउंड हो गया.दिल्ली पुलिस नवनीत कालरा की तलाश में सबसे पहले साउथ दिल्ली के फतेहपुरबेरी के कालरा फार्म हाउस पहुंची. यहां कालरा नहीं मिला. उसके बाद पुलिस टीम सैनिक फार्म में कालरा के घर पहुंची, वहां भी कालरा नहीं मिला. दिल्ली पुलिस की कई टीमें दिल्ली और दिल्ली के बाहर कालरा की तलाश में लगी हैं.

नवनीत कालरा प्रसिद्ध व्यवसायी है, जो दयाल ऑप्टिकल्स और खान चाचा, नेगे एंड जू और टाउन हॉल रेस्ट्रो बार और मिस्टर चाउ से जुड़ा हुआ है.नवनीत कालरा ही इस पूरे गोरखधंधे का मास्टरमाइंड बताया जा रहा है.

गगन दुग्गल का नाम सामने आया

कालाबाजारी में नवनीत कालरा के साथ गगन दुग्गल नाम का शख्स शामिल है. अब तक नवनीत कालरा और गगन दुग्गल की जोड़ी 6 से 7 हजार ऑक्सीजन कंसंट्रेटर बेच चुकी है. वहीं एक और आरोपी गौरव खन्ना को गिरफ्तार किया है. वह मैट्रिक कंपनी का CEO और CA भी है. गौरव ही कंपनी के मालिक गगन दुग्गल के कहने पर रेट तय करता था. मैट्रिक्स कंपनी के नाम पर ही ऑक्सीजन कंसंट्रेटर भारत मे इम्पोर्ट हुआ था. कंपनी का मालिक दुग्गल लंदन में रहता है. उसके हिमांचल के मंडी वाले खुल्लर फार्म हाउस से भी दिल्ली पुलिस ने 387 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर बरामद किया था.

16 हजार का माल 70 हजार में बेचते थे

दिल्ली पुलिस को ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की जो इन-वॉइस मिली है उसके मुताबिक आरोपियों को 5 लीटर का ऑक्सीजन कंसंट्रेटर 16 हजार रुपये में मिल रहा था. 9 लीटर का ऑक्सीजन कंसंट्रेटर 20 हजार का मिल रहा था. जिसे ये लोग 50 से 70 हजार में बेचते थे.दिल्ली पुलिस को एक पीस ऑक्सीजन कंसंट्रेटर का बिल भी मिला है जिसे 70 हजार 700 में बेचा गया है. ऑक्सीजन कंसंट्रेटर चाइना और हॉंगकॉन्ग से आ रहा था.

दिल्ली पुलिस के मुताबिक गगन दुग्गल की कंपनी के नाम पर 650 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर मंगाए गए थे. इन सभी ऑक्सीजन कंसंट्रेटर का ऑर्डर गगन दुग्गल की कंपनी मैट्रिक की तरफ से दिया गया था. ऑक्सीजन कंसंट्रेटर गुआंगडोंग चाइना की कंपनी ब्रांड इंटरप्राइजेज शेनझेन डेडा हेल्थ कंपनी लिमिटेड से मंगाए गए थे.

साउथ दिल्ली के डीसीपी अतुल ठाकुर के मुताबिक, अब तक इनमें से 120 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर बेचे जा चुके हैं.

सूत्रों के मुताबिक, करोड़ रुपये से ज्यादा की ऑक्सीजन कंसंट्रेटर अब तक बिक चुके हैं. पुलिस को यह भी जानकारी मिली है कि नवनीत कालरा ने कई लोगों से बल्क में ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की सप्लाई के लिए लाखों रुपए एडवांस भी लिए हैं. पुलिस अफसरों का कहना है कि इस तरह के लेन-देन का हिसाब नवनीत कालरा की गिरफ्तारी और बैंक अकाउंट की छानबीन के बाद ही पता चल सकेगा.खबर है कि इलेक्ट्रॉनिक सर्विलांस के जरिए नवनीत कालरा की आखिरी लोकेशन हरिद्वार के आसपास पाई गई है.


नेता नगरी: वेंटिलेटर और ऑक्सीजन की कमी पर मोदी सरकार के दावों का सच सुनकर गुस्सा आएगा

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

बंगाल में केंद्रीय मंत्री के काफिले पर हमला हुआ तो ममता बनर्जी ने उलटा क्या आरोप मढ़ दिया?

लगातार हो रही हिंसा की जांच के लिए होम मिनिस्ट्री ने अपनी टीम बंगाल भेज दी है.

पंजाबी फ़िल्मों के मशहूर एक्टर-डायरेक्टर सुखजिंदर शेरा का निधन

कीनिया में अपने दोस्त से मिलने गए थे, वहां तेज बुखार आया था.

सलमान खान ने मदद मांगने वाले 18 साल के लड़के को यूं दिया सहारा!

कुछ दिन पहले ही कोरोना से अपने पिता को गंवा दिया.

उत्तराखंड में एक और आपदा, उत्तरकाशी और रुद्रप्रयाग के पास बादल फटा

भारी नुक़सान की ख़बरें लेकिन एक राहत की बात है

क्या वाकई केंद्र सरकार ने मार्च के बाद वैक्सीन के लिए कोई ऑर्डर नहीं दिया?

जानिए वैक्सीन को लेकर देश में क्या चल रहा है.

Covid-19: अमेरिका के इस एक्सपर्ट ने भारत को कौन से तीन जरूरी कदम उठाने को कहा है?

डॉक्टर एंथनी एस फॉउसी सात राष्ट्रपतियों के साथ काम कर चुके हैं.

रेमडेसिविर या किसी दूसरी दवा के लिए बेसिर-पैर के दाम जमा करने के पहले ये ख़बर पढ़ लीजिए

देश भर से सामने आ रही ये घटनाएं हिला देंगी.

कुछ लोगों को फ्री, तो कुछ को 2400 से भी महंगी पड़ेगी कोविड वैक्सीन, जानिए पूरा हिसाब-किताब

वैक्सीन के रेट्स को लेकर देशभर में कन्फ्यूजन की स्थिति क्यों है?

कोरोना से हुई मौतों पर झूठ कौन बोल रहा है? श्मशान या सरकारी दावे?

जानिए न्यूयॉर्क टाइम्स ने भारत के हालात पर क्या लिखा है.

PM Cares से 200 करोड़ खर्च होने के बाद भी नहीं लगे ऑक्सीजन प्लांट, लेकिन राजनीति पूरी हो रही है

यूपी जैसे बड़े राज्य में केवल 1 प्लांट ही लगा.