Submit your post

Follow Us

मुंबई पुलिस का दावा, पैसे देकर TRP खरीदता है रिपब्लिक टीवी

मुंबई पुलिस ने TRP रैकेट का भंडाफोड़ करने का दावा किया है. TRP मतलब टीवी चैनलों की लोकप्रियता नापने का पैमाना. मुंबई पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह ने गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस करके बताया कि इस मामले में दो चैनलों के मालिकों को गिरफ्तार किया गया है. इस कथित फर्जीवाड़े में बड़ा नाम रिपब्लिक टीवी का भी जुड़ा है. पुलिस ने चैनल के डायरेक्टर और प्रमोटर्स से पूछताछ करने की बात कही है.

मुंबई पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा,

मुंबई पुलिस की क्राइम ब्रांच के हाथ एक नया रैकेट लगा है. अनर्थ किया गया है. ये रैकेट है फॉल्स TRP का. आप सभी जानते हैं TRP का मतलब टेलीविजन रेटिंग पॉइंट होता है. TRP को नापने के लिए BARC नाम की एजेंसी है. इस काम के लिए ये बैरोमीटर इंस्टॉल करते हैं अलग-अलग शहरों में. पूरे देश में लगभग 30 हजार या उससे अधिक बैरोमीटर लगाए गए हैं. 2000 बैरोमीटर्स मुंबई में ही लगे हैं. बैरोमीटर कहां लगाए गए हैं, ये डाटा कॉन्फिडेंशल होता है. बैरोमीटर्स को इंस्टॉल करने और मेंटिनेंस का जो कॉन्ट्रैक्ट है, BARC ने हंसा नाम की कंपनी को दिया है.

मुंबई पुलिस कमिश्नर ने आगे बताया,

जांच के दौरान ये बात सामने आई कि हंसा के पूर्व कर्मचारी, जो BARC के साथ काम करते हैं, वे इस डेटा को कंप्रोमाइज कर रहे थे. टेलीविजन चैनल के साथ शेयर कर रहे थे. पैसा देकर टीआरपी को मैन्युपुलेट किया जा रहा था. जिन घरों (हाउसहोल्ड्स) में ये बैरोमीटर लगे थे, उनसे कहा जाता था कि आप किसी विशेष चैनल को ही ऑन रखिए. आप देखें या ना देखें, ये चैनल ऑन रहना चाहिए. आप घर में रहें या ना रहें, चैनल को ऑन रखें.

ऐसा भी देखने में आया कि कुछ व्यक्ति जो अनपढ़ हैं, उनके घर में इंग्लिश के चैनल को ऑन करके रखने की डील की गई थी. हमने पहले हंसा के एक्स एम्प्लॉई को गिरफ्तार किया. उससे इस काम में लगे उसके कुछ और साथियों के बारे में पता चला. ये पहले हंसा के लिए काम करते थे. अब BARC के लिए काम करते हैं. दो व्यक्तियों को अरेस्ट कर कोर्ट में पेश किया गया. उनकी कस्टडी मिल चुकी है 9 अक्टूबर तक. उनके कुछ साथी हैं, जिन्हें ढूंढा जा रहा है. कुछ मुंबई में हैं. कुछ बाहर हो सकते हैं.

मुंबई पुलिस कमिश्नर ने आगे बताया

चैनल के नाम पर ये लोग घरवालों को हर महीने के हिसाब से पैसा देते थे. कुछ चैनल को लगातार अपने घर में चलाने के लिए फर्जीवाड़ा करते थे. गिरफ्तार किए गए एक व्यक्ति के खाते से 20 लाख रुपये सीज किए गए हैं. 8.5 लाख रुपये उसके बैंक लॉकर से बरामद हुए हैं.

उन्होंने आगे बताया,

ऐसे तीन चैनल हैं, जिनके बारे में हमें जानकारी मिली है. दो छोटे चैनल हैं. Fakt Marathi (फक्त मराठी) और बॉक्स सिनेमा. इनके मालिकों को अरेस्ट कर लिया गया है. हंसा की ओर से क्रिमिनल ब्रीच ऑफ ट्रस्ट और चीटिंग की शिकायत दर्ज कराई गई थी, IPC के सेक्शन 409 और 420 के तहत.

रिपब्लिक टीवी का नाम आया

मुंबई पुलिस कमिश्नर ने दावा किया,

बीएआरसी ने जो अपनी एनालिटिक रिपोर्ट सब्मिट की है, उसमें रिपब्लिक टीवी का भी नाम आया है. उसकी टीआरपी के संदिग्ध ट्रेंड देखे गए हैं. ऐसे कस्टमर्स, जिनको अप्रोच किया गया था, हमने उन्हें बुलाकर पूछताछ की तो उन्होंने माना कि उनको पैसा दिया गया था. चैनल विशेष को ऑपरेट करने के लिए. इस मामले में आगे की कार्रवाई की जा रही है. रिपब्लिक टीवी से जुड़े लोग, उसके डायरेक्टर और प्रमोटर्स के शामिल होने के चांस हैं. उनके खिलाफ आगे की जांच की जा रही है.

पुलिस कमिश्नर ने कहा कि हम ये भी देख रहे हैं कि इन चैनलों को इस हेराफेरी से एडवर्टाइजमेंट का जो फंड मिला था, क्या उसे इस अपराध का फायदा (प्रोसीड्स ऑफ क्राइम) माना जा सकता है? जिन एडवर्टाइजर्स से ये पैसा प्राप्त हुआ था, उनसे भी पूछताछ की जाएगी कि वो विक्टिम हैं या क्या हैं. इन चैनलों के बैंक खातों की जांच होगी. अगर ये पैसे प्रोसीड्स ऑफ क्राइम से आए हैं तो उन्हें जब्त करने की कार्रवाई की जा सकती है. पुलिस मामले की जांच कर रही है. दोषियों के खिलाफ कार्रवाई होगी.


सुशांत के अकाउंट से रिया पर कितने पैसे खर्च हुए CBI ने पता लगा लिया है

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

कोलकाता में इत्ता बवाल क्यों हो रहा है

पुलिस और बीजेपी कार्यकर्ता आपस में भिड़े हुए हैं.

डिफेंस मिनिस्ट्री ने 2017 के बाद की सारी मासिक रिपोर्ट वेबसाइट से क्यों हटा लीं

इनमें डोकलाम में तनाव वाली रिपोर्ट भी शामिल है.

ट्विटर पर ऐसा ट्रेंड हुआ बाबा का ढाबा कि दिल्ली उमड़ पड़ी

सिलेब्रिटी से लेकर नेताओं ने की थी मदद की अपील

सैफ ने बताया, कैसे लास्ट मोमेंट में उनसे छीन लिया गया बेस्ट एक्टर का अवॉर्ड

एक्टर ने अवॉर्ड शो को लेकर जमकर भड़ास निकाली है.

हाथरस में पीड़िता का परिवार क्यों कह रहा है कि उन्हें कैद कर दिया गया है?

हाई कोर्ट में अर्जी लगाकर दखल देने की मांग की है परिवार ने

वकील ने बताया, जेल में किस तरह कटे रिया चक्रवर्ती के 28 दिन

ये भी पढ़िए, सुशांत के परिवार पर वकील ने क्या बड़ा आरोप लगाया.

मल्लिका शेरावत को क्यों कहना पड़ा कि समाज में महिलाओं का जीना दुश्वार है

सवाल उठे तो मल्लिका का गुस्सा फूट पड़ा

हाथरस के आरोपियों ने जेल से चिट्ठी लिखकर विक्टिम के परिवार पर क्या आरोप लगाए हैं?

मुख्य आरोपी ने एसपी को चिट्ठी लिखकर न्याय की मांग की है.

वीडियो : हार में भी चेन्नई फैंस को सुकून देगा जडेजा और डु प्लेसी का ये कारनामा

IPL के दो बेस्ट फील्डर्स की जुगलबंदी जरूर देखें.

IPL 2020: चेन्नई की हार में भी धोनी का यह कारनामा याद किया जाएगा!

कहीं न कहीं, कुछ न कुछ तो कर ही देते हैं धोनी.