Submit your post

Follow Us

सांसद सचिन की अटेंडेंस कम, पर रिपोर्ट कार्ड चकाचक

याद तो होगा ही कि 2012 में UPA ने सचिन तेंदुलकर को नॉमिनेट कर राज्य सभा में पहुंचाया था. और तीन साल बाद खबर ये है सचिन इस पिच पर भी धमाका कर रहे हैं. पर चुपके से. फिर भी सचिन के रिपोर्ट कार्ड पर लगे हुए हैं लाल निशान. क्योंकि ये संसद जाते हुए कम ही देखे गए हैं. अटेंडेंस है कम. और ये बात राज्य सभा के बाकी सदस्यों को खूब अखरती है.

लाल निशान

1. जब से ये राज्य सभा के मेंबर बने हैं, 235 में से कुल 13 दिन ही ‘प्रेजेंट’ रहे हैं.

2. नवंबरमें सचिन को मेंबर बनाया गया इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी की एक कमिटी का. कमिटी के हेड थे भाजपा सांसद अनुराग ठाकुर. न ही सचिन इसकी एक भी मीटिंग में गए, न ही कमिटी के नार्थ-ईस्ट स्टडी टूर पर गए.

3. अगस्त में जब सचिन ने लीव एप्लीकेशन भेजी, सभा के बाकी सदस्यों ने उनके गायब रहने पर नाराजगी जाहिर की.

4. राज्य सभा के विंटर सेशन में सचिन ने 15 दिनों में सात सवाल भेजे. ये पहली बार है जब किसी राज्य सभा सेशन के लिए सचिन के सवाल चुने गए. पर सचिन के सवालों के लिखित जवाब दिए गए क्योंकि वो सेशन अटेंड नहीं कर पाए.

पर सचिन का स्कोर कार्ड तो अलग ही कहानी बयां करता है. असल में ये उन लोगों में से नहीं जो सांसद होने को हलके में लेते हों. बल्कि ‘वर्क फ्रॉम होम’ में विश्वास रखते हैं. इन्होंने साबित किया है कि संसद के सेशन में जाना, और चीखकर वापस आ जाने से बड़ा है काम करना. तो चेक करते हैं सचिन का रिपोर्ट कार्ड.

SACHIN MP

ब्राउनी पॉइंट्स 

1. MP फंड के तहत मिले पैसों का 98 फीसदी हिस्सा ये काम में ला चुके हैं. जो इन्हें राज्य सभा के बेस्ट परफॉर्मर्स में से एक बनाता है.

2. इन पैसों का एक हिस्सा इन्होंने जम्मू कश्मीर में आई बाढ़ के रिलीफ फंड में लगाया.

3. उत्तराखंड में बाढ़ आने के बाद वहां एक स्कूल और एक पुल बनवाया.

4. बीते 14 दिसंबर को इन्होने तमिलनाडु बाढ़ के लिए रिलीफ फंड की ओर से 50 लाख रूपए देने का वादा किया.

5. स्वच्छ भारत अभियान के तहत मुंबई के गोरेगांव में टॉयलेटबनवाए.

6. महाराष्ट्र और पश्चिम बंगाल में स्कूलों के इंफ्रास्ट्रक्चर को सुधरवाया.

7. आंध्रप्रदेश के ‘पुत्तमराजू कन्द्रिका’ गांव को इन्होने ‘प्रधानमंत्री सांसद आदर्श ग्राम योजना’ के तहत गोद लिया हुआ है. मिनिस्ट्री ऑफ़ रूरल डेवलपमेंट कहती है कि इसी योजना के तहत गोद लिए गए बाकी गांवों में सचिन के गांव का विकास सबसे तेज हो रहा है.

8. स्कूलों में स्पोर्ट्स को बढ़ावा देने के लिए ये अक्सर स्मृति ईरानी से बातचीत करते रहे हैं. बीते दिनों ‘नेशनल अथलेटिक मीट’ कराने की मांग करते हुए खेलमंत्री को चिट्ठी लिखी.

वैसे तो क्रिकेट के ‘भगवान’ के पास 2018 तक का समय है अपनी अटेंडेंस सुधारने का. पर उम्मीद है तब तक उनका काम उनकी अटेंडेंस से ज्यादा बोलता रहेगा. जैसे उनसे ज्यादा उनका बल्ला बोला करता था.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

मुंबई एयरपोर्ट पर उतरते ही डॉक्टर कफील खान गिरफ्तार

12 दिसंबर 2019 को अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में भड़काऊ बयान देने का आरोप.

कभी-कभी लगता है कि अपुनिच ही भगवान है- रोहित की बैटिंग पर क्या बोला सोशल मीडिया?

हर्षा भोगले ने टीम इंडिया को कौन सी सलाह दे डाली.

आज न्यूज़ीलैंड अंडर-19 टीम के इस वीडियो से सुंदर और कुछ नहीं है

अंडर-19 वर्ल्ड कप में दिखी स्पिरिट ऑफ क्रिकेट.

भारत के खिलाफ सुपर ओवर में हार के बाद न्यूज़ीलैंड के खेल मंत्री ने अपनी टीम को क्यों ट्रोल किया?

सुपर ओवर के बाद कीवी खेल मंत्री ने किया ट्वीट.

चीन के कोरोना वायरस के चलते 9 साल पुरानी हॉलीवुड मूवी क्यूं देख रहे हैं लोग?

भारत में भी 2019 में आई थी एक ऐसी ही मूवी, जो उस साल की बेहतरीन मूवीज़ में से एक थी.

पहली बार टीम इंडिया का T20I मुकाबला टाई हुआ तो क्या रिजल्ट आया था?

टीम इंडिया ने न्यूज़ीलैंड में जीती T20I सीरीज़.

छठे ओवर में ही रोहित ने भारत को जिता दिया था मैच

जो क्रांति आखिर में की, उसका ग्रैंड ट्रेलर था वो.

न्यूज़ीलैंड के खिलाफ जीत में छा गए विराट कोहली और रोहित शर्मा

भारत की जीत में कैप्टन और वाइस कैप्टन ने बनाए रिकॉर्ड.

सलमान की अगली फिल्म में ऐसा क्या है कि एक ही सीन पर करोड़ों खर्च हो रहे हैं!

'राधे' में 20 मिनट का एक सीन जबरदस्त होने वाला है.

यूपी के मंत्री ने कहा, 'नेता का पढ़ा-लिखा होना एकदम ज़रूरी नहीं है'

इनकी बात मानो, तो किताब फाड़कर उड़ा दो.