Submit your post

Follow Us

गोरखपुरः मनीष गुप्ता की पत्नी ने 6 पुलिसवालों के नाम दिए, FIR में सिर्फ 3 का जिक्र क्यों?

कानपुर के प्रॉपर्टी डीलर मनीष गुप्ता की कथित हत्या का मामला गोरखपुर पुलिस के लिए संकट बनता दिख रहा है. इस पूरे केस में गोरखपुर पुलिस का रवैया लगातार सवालों के घेरे में है. मनीष गुप्ता की मौत के कुछ ही घंटों बाद कानपुर के एसएसपी विपिन ताडा ने इसे एक दुर्घटना बता दिया था. बाद में पुलिस का एक वीडियो भी सामने आया, जिसमें वो मनीष गुप्ता की मीनाक्षी गुप्ता को केस न करने की सलाह देती दिख रही थी.

केस को लेकर आ रही तमाम अपडेट्स के बीच मीनाक्षी लगातार कहती रहीं कि उनके पति की हत्या में पुलिसवालों का हाथ है. गुरुवार 29 सितंबर को मीनाक्षी ने मीडिया को बयान दिया. कहा कि पुलिस-प्रशासन लगातार उन पर FIR न लिखवाने का दबाव डाल रहा है. हालांकि पुलिस ने उसी दिन 6 पुलिसवालों के खिलाफ केस दर्ज किया था. लेकिन उस पर भी हंगामा हो गया, क्योंकि FIR में केवल 3 पुलिसवालों के नामों का जिक्र था. बाकी 3 आरोपियों को अज्ञात बताया गया है.

कौन हैं 3 अज्ञात?

जिन लोगों के नाम FIR में नामजद हैं उनमें शामिल हैं- रामगढ़ताल SO जेएन सिंह, सब इंस्पेक्टर अक्षय मिश्रा और सब इंस्पेक्टर विजय यादव. बाकी 3 अज्ञात आरोपी कौन हैं? बात मीनाक्षी गुप्ता की तहरीर की करें तो उसमें इन 3 पुलिसवालों का भी नाम शामिल है,

# सब इंस्पेक्टर राहुल दुबे
# हेड कांस्टेबल कमलेश यादव
# हेड कांस्टेबल प्रशांत कुमार

Manish Gupta Meenakshi Gupta Tahrir
मनीष गुप्ता की पत्नी मीनाक्षी गुप्ता ने अपनी तहरीर में 6 लोगों के नाम दिए लेकिन पुलिस ने सिर्फ 3 के खिलाफ ही नामजद मामला दर्ज किया.
(फोटो-आजतक)

पीड़ित पक्ष की तहरीर और पुलिस की FIR के आधार पर कहा जा रहा है कि मामले में लोचा है. ये बार-बार कहा गया है कि 27-28 सितंबर की दरम्यानी रात को गोरखपुर के कृष्णा पैलेस होटल में 5-6 पुलिसवाले चेकिंग के नाम पर घुसे थे. मीनाक्षी की तहरीर में भी 6 पुलिसकर्मियों का जिक्र है. हत्या से जुड़ी IPC की धारा 302 भी 6 आरोपियों पर लगाई गई है. तो फिर FIR में आधे आरोपियों का नाम क्यों गायब है, ये एक बड़ा सवाल बन गया है. कहा जा रहा है कि क्या ये पुलिसवालों को बचाने की कोशिश है.

Manish Gupta Fir
मनीष गुप्ता की मौत के मामले में पुलिस ने सिर्फ तीन पुलिसवालों के खिलाफ नामजद एफआईआर दर्ज की. बाकी 3 को अज्ञात लिखा है.
(फोटो-आजतक)

क्या है पूरा मामला?

इस कथित हत्याकांड के पीड़ित मनीष गुप्ता कानपुर के रहने वाले थे. 35 वर्षीय मनीष अपने दो दोस्तों हरदीप सिंह चौहान और प्रदीप चौहान के साथ 27 सितंबर को गोरखपुर गए. वो वहां अपने एक अन्य दोस्त से मिलने गए थे. ये तीनों गोरखपुर के रामगढ़ताल इलाक़े के होटल कृष्णा पैलेस में रुके हुए थे. उसी रात क़रीब साढ़े 12 बजे 5-6 पुलिसवाले होटल में जांच करने पहुंचे. उन्होंने कमरे का दरवाजा खुलवाया. साथ में होटल का रिसेप्शनिस्ट भी था.

पुलिसवालों ने कहा कि चेकिंग हो रही है, ID प्रूफ़ दिखाओ. इतनी रात गए होटल के रूम में आकर चेकिंग करने पर मनीष और पुलिसवालों में बहस हो गई. पुलिसवालों पर आरोप है कि उन्होंने मनीष को इतना मारा कि वो ख़ून से तरबतर हो गए. उन्हें अस्पताल ले जाया गया, जहां उनकी मौत हो गई.


वीडियो – गोरखपुर में प्रॉपर्टी डीलर मनीष गुप्ता की मौत पर UP पुलिस की सफाई खून खौलाने वाली है!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

पेट्रोल के दाम घटाने की मांग कर रहे विपक्षी राज्यों को पीएम मोदी ने नवंबर याद दिला दिया

पेट्रोल के दाम घटाने की मांग कर रहे विपक्षी राज्यों को पीएम मोदी ने नवंबर याद दिला दिया

मुख्यमंत्रियों के साथ वर्चुअल मीटिंग में पीएम मोदी ने नाम ले-लेकर सुनाया.

धार्मिक जुलूस की अनुमति की प्रक्रिया जान लो, जहांगीरपुरी हिंसा की वजह समझ आ जाएगी

धार्मिक जुलूस की अनुमति की प्रक्रिया जान लो, जहांगीरपुरी हिंसा की वजह समझ आ जाएगी

जानकारों ने जहांगीरपुरी में निकले जुलूस पर सवाल उठाए हैं.

लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे का सेनाध्यक्ष बनना खास क्यों है?

लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे का सेनाध्यक्ष बनना खास क्यों है?

मौजूदा आर्मी चीफ मनोज मुकुंद नरवणे के रिटायर्ड होने पर पदभार संभालेंगे.

LIC का IPO: सरकार अब जो करने जा रही है उससे छोटे निवेशकों को फायदा है

LIC का IPO: सरकार अब जो करने जा रही है उससे छोटे निवेशकों को फायदा है

LIC के IPO में बहुत कुछ बदलने जा रहा है. अगले हफ्ते आ सकता है अपडेटेड प्रॉस्पेक्टस.

RBI की इस पहल से सभी एटीएम से बिना कार्ड कैश निकलेगा!

RBI की इस पहल से सभी एटीएम से बिना कार्ड कैश निकलेगा!

अभी ये सुविधा कुछ ही बैंको तक सीमित है.

'शराबी' खिलाड़ी की जानलेवा हरकत की वजह से मरते-मरते बचे थे युजवेंद्र चहल, अब किया खुलासा

'शराबी' खिलाड़ी की जानलेवा हरकत की वजह से मरते-मरते बचे थे युजवेंद्र चहल, अब किया खुलासा

2013 की बात है जब चहल मुंबई इंडियन्स की तरफ से खेलते थे.

आकार पटेल के खिलाफ लुकआउट सर्कुलर जारी करने वाली CBI अब उनसे माफी मांगेगी

आकार पटेल के खिलाफ लुकआउट सर्कुलर जारी करने वाली CBI अब उनसे माफी मांगेगी

कोर्ट ने आकार पटेल को बड़ी राहत दी है.

भारत में कोरोना के XE Variant का पहला केस मिलने के दावे पर सरकार ने क्या कहा?

भारत में कोरोना के XE Variant का पहला केस मिलने के दावे पर सरकार ने क्या कहा?

ये वेरिएंट कितना खतरनाक है, ये भी जान लें.

लल्लनटॉप अड्डा: 9 अप्रैल को मचने वाले धमाल का पूरा शेड्यूल पढ़ लो!

लल्लनटॉप अड्डा: 9 अप्रैल को मचने वाले धमाल का पूरा शेड्यूल पढ़ लो!

हंसी होगी, संगीत होगा और होंगे सौरभ द्विवेदी!

ED ने किन मामलों में सत्येंद्र जैन और संजय राउत के परिवारों की करोड़ों की संपत्ति कुर्क की है?

ED ने किन मामलों में सत्येंद्र जैन और संजय राउत के परिवारों की करोड़ों की संपत्ति कुर्क की है?

कार्रवाई पर संजय राउत भड़क गए हैं.