Submit your post

Follow Us

MP के कद्दावर नेता और मोदी पर किताब लिखने वाले कैलाश सारंग का निधन

मध्यप्रदेश. वरिष्ठ बीजेपी नेता कैलाश नारायण सारंग का 14 नवंबर 2020 को 87 साल की उम्र में निधन हो गया. वो पिछले कई दिनों से बीमार थे. दो महीने पहले उनकी तबीयत ख़राब होने पर भोपाल के एक अस्पताल में उन्हें भर्ती किया गया था. तबीयत में सुधार नहीं होने पर उन्हें एयर एंबुलेंस के जरिये इलाज़ के लिए दो नवंबर को मुंबई शिफ़्ट किया गया था. दिवाली के दिन अचानक उनकी तबीयत ज़्यादा बिगड़ने से उनका निधन हो गया. कैलाश सारंग के बेटे मध्यप्रदेश सरकार में मंत्री विश्वास सांरग ने ट्वीट कर उनके निधन की जानकारी दी.
उनके निधन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शोक जताते हुए ट्वीट किया-

“कैलाश सारंग जी ने मध्यप्रदेश में बीजेपी को मजबूत करने में अहम भूमिका निभाई है. वे मध्यप्रदेश की उन्नति के लिए एक संवेदनशील और कर्मठ नेता थे. उनके निधन से दुखी हूं. उनके परिवार और शुभचिंतकों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूं. ॐ शांति.”

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी उनके निधन पर शोक जताते हुए कई ट्वीट्स किये.

15 नवंबर की सुबह उनका पार्थिव शरीर मुंबई से भोपाल पहुंच गया. उनके पार्थिव शरीर को भाजपा कार्यालय में अंतिम दर्शन के लिए रखा जाएगा और शाम को उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा.उनके बेटे और मंत्री विश्वास सारंग ने इसकी जानकारी ट्वीट कर दी.

 

कौन थे कैलाश सारंग? 

कैलाश सारंग का जन्म 2 जून 1934 को मध्यप्रदेश के भोपाल से सटे रायसेन जिले के डूमर गांव में हुआ था. कैलाश सारंग आरंभिक जीवन में ही राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जुड़ गए थे. कैलाश सारंग ने मध्यप्रदेश में जनसंघ के समय से ही पार्टी के संगठन को मजबूत करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई. संगठन का काम करते हुए वो जनसंघ के प्रांतीय कार्यालय में ही जनसंघ के कद्दावर नेता कुशाभाऊ ठाकरे के साथ सपरिवार रहा करते थे. कैलाश सारंग इमरजेंसी के दौरान भी काफ़ी सक्रिय थे और कई आंदोलनों में हिस्सा लिया था. उन्हें मीसा के तहत जेल भी जाना पड़ा था.

अटल के साथी कैलाश

मध्यप्रदेश में अटल बिहारी वाजपेयी के सबसे भरोसेमंद साथी के तौर पर काम करने वाले कैलाश सारंग को अटल जी का सहयोग हमेशा मिलता रहा. उनकी अटल जी से निकटता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि 2018 में अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर उन्होंने अटल जी के साथ अपनी पुरानी तस्वीरों को उनकी कविता के साथ ट्वीट किया था.

1970 के दशक में वे प्रदेश के सबसे सक्रिय कार्यकर्ता माने जाते थे. भोपाल की राजनीति में उनका काफ़ी दखल था. कहा जाता है कि भोपाल की राजनीति में दो घरानों का अहम योगदान था. एक गौर घराना और दूसरा सारंग घराना. मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री रहे बाबूलाल गौर और कैलाश सारंग का भाजपा को मध्यप्रदेश और खासकर भोपाल में मजबूत करने में बहुत अहम योगदान माना जाता है.

प्रधानमंत्री मोदी पर लिखी है किताब

कैलाश सारंग ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ऊपर ‘नरेंद्र से नरेंद्र’ नाम की एक किताब भी लिखी है. इस क़िताब में उन्होंने स्वामी विवेकानंद जिनका बचपन में नरेंद्र नाम था. उनसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जीवन की यात्रा की तुलना की है. उन्होंने प्रधानमंत्री के आरंभिक जीवन संघर्ष, संघ के प्रचारक के तौर पर काम करना और हिमालय में तपस्या करने जैसी घटनाओं का जिक्र किया है. इस किताब में नरेंद्र मोदी के स्वामी आत्मास्थानंद जी के कहने पर नरेंद्र मोदी सामाजिक और राजनैतिक जीवन में आने की कहानी का ज़िक्र भी है.

राज्यसभा सांसद भी रहे

कैलाश सारंग 1990 से 1996 तक बीजेपी से राज्यसभा के सदस्य भी रहे. इस दौरान पार्टी अपने स्थापना के बाद सबसे अच्छे दौर में थी. बीजेपी के नेतृत्व पहली बार अटल बिहारी वाजपेयी की 13 दिनों की पहली सरकार 1996 में ही बनी थी. कैलाश सारंग कायस्थ महासभा के भी अध्यक्ष रहे. दो साल पहले कैलाश सारंग के जीवन पर एक फ़िल्म बनाने का निर्णय लिया गया था. इस फ़िल्म का निर्देशन पंकज श्रीवास्तव कर रहे हैं. फ़िल्म के जरिये उनके राजनैतिक और सामाजिक कार्यों को दिखाया जाएगा.


फेसबुक ने मैसेंजर का नया फीचर लॉन्च किया है, इससे आपकी कई टेंशन कम हो जाएंगी

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

ऑस्ट्रेलिया दौरे की टीम में बहुत बड़ा बदलाव

ऑस्ट्रेलिया दौरे की टीम में बहुत बड़ा बदलाव

रोहित आए, लेकिन विराट का क्या हुआ?

US प्रेजिडेंट की कुर्सी के करीब बाइडेन, ट्रंप पहुंचे कोर्ट ...पर ट्विस्ट कभी भी आ सकता है

US प्रेजिडेंट की कुर्सी के करीब बाइडेन, ट्रंप पहुंचे कोर्ट ...पर ट्विस्ट कभी भी आ सकता है

अब साफ हो रही थोड़ी तस्वीर.

मथुरा के मंदिर में नमाज पढ़ने पर हंगामा हुआ तो पुलिस ने दिल्ली से किया गिरफ्तार

मथुरा के मंदिर में नमाज पढ़ने पर हंगामा हुआ तो पुलिस ने दिल्ली से किया गिरफ्तार

मंदिर में नमाज पढ़ने पर क्या कहा, ये भी जान लीजिए

तुर्की और ग्रीस में 7.0 तीव्रता का भूकंप, 19 की मौत, 700 से अधिक घायल

तुर्की और ग्रीस में 7.0 तीव्रता का भूकंप, 19 की मौत, 700 से अधिक घायल

इस भूकंप के कारण सुनामी भी आई.

कॉलेज से लौटती लड़की को सरेआम गोली मारी, परिवार ने 'लव जिहाद' का आरोप लगाया

कॉलेज से लौटती लड़की को सरेआम गोली मारी, परिवार ने 'लव जिहाद' का आरोप लगाया

दोनों आरोपी गिरफ्तार कर लिए गए हैं.

ऑस्ट्रेलिया टूर की टीम से क्यों बाहर हुए रोहित शर्मा?

ऑस्ट्रेलिया टूर की टीम से क्यों बाहर हुए रोहित शर्मा?

अनाउंस हुई टीम इंडिया, मिला नया उपकप्तान.

कोयला घोटालाः अटल सरकार में मंत्री रहे दिलीप रे को तीन साल की जेल हो गई है

कोयला घोटालाः अटल सरकार में मंत्री रहे दिलीप रे को तीन साल की जेल हो गई है

मामला 21 साल पुराना है.

क्या कहता है बिहार का पहला ओपिनियन पोल: NDA को मिलेगा बहुमत? नीतीश फिर बनेंगे सीएम?

क्या कहता है बिहार का पहला ओपिनियन पोल: NDA को मिलेगा बहुमत? नीतीश फिर बनेंगे सीएम?

लोकनीति और CSDS के ओपिनियन पोल की बड़ी बातें एक नजर में.

बिहार चुनाव में जितने उम्मीदवारों पर क्रिमिनल केस हैं, उससे ज्यादा तो करोड़पति हैं

बिहार चुनाव में जितने उम्मीदवारों पर क्रिमिनल केस हैं, उससे ज्यादा तो करोड़पति हैं

आपराधिक छवि वालों की इतनी तादाद से साफ है कि दलों को लगता है, 'दाग' अच्छे हैं

बीजेपी विधायक ने कहा- अगर राहुल 'छेड़छाड़' वाली बात साबित कर दें, तो मैं इस्तीफा दे दूंगा

बीजेपी विधायक ने कहा- अगर राहुल 'छेड़छाड़' वाली बात साबित कर दें, तो मैं इस्तीफा दे दूंगा

राहुल ने खबर शेयर की थी जिसमें लिखा था-बीजेपी विधायक रेप के आरोपी को थाने से छुड़ा ले गए.