Submit your post

Follow Us

अर्जेंटीना को जिता पाया लियोनल मेसी का 'मैजिकल गोल' ?

लियोनल मेसी. मैन, मिथ, लेजेंड. फुटबॉल के मैदान पर ऐसे खेलवइया बहुत कम हुए हैं. जिनके सिर्फ मैदान में वॉक करने से शोर मेघ-देवता थॉर के ग्रह तक पहुंच जाए. ऐसे मेसी अपनी रौ में हों. अपनी घूमती हुई फ्री-किक से गोल मार दें तो क्या ही माहौल सेट होगा? बीती रात ब्राज़ील के शहर रियो डे जनेरो के ओलंपिक स्टेडियम में यही माहौल सेट रहा.

हालांकि चिले के खिलाफ हुए इस मैच का अंत पूरे सेट माहौल को बिगाड़ गया. फ्री-किक पर मेसी के कमाल के गोल के बावजूद चिले ने अर्जेंटीना को 1-1 के ड्रॉ पर रोक लिया. चिले के लिए फॉरवर्ड एडवार्डो वार्गस ने इकलौता गोल किया.

# Magician Messi

इससे पहले मैच के 33वें मिनट में मेसी ने चिले के खिलाफ पिछली नाकामी को पीछे छोड़ अपने फैंस को जश्न मनाने का मौका दिया. दरअसल यह दोनों टीमें इसी महीने वर्ल्ड कप क्वॉलिफायर में भी भिड़ी थीं. उस वक्त चिले के गोलकीपर क्लॉडियो ब्रावो ने मेसी की एक फ्री-किक को कमाल के अंदाज में रोका था. जबकि एक दफ़ा मेसी गेंद को गोल के खंभे पर मार बैठे थे. लेकिन इस बार उन्होंने खंभे और ब्रावो दोनों को कोई मौका नहीं दिया.

मैच के 33वें मिनट में मेसी ने 25 मीटर की दूरी पर मिली फ्री-किक को बेहतरीन अंदाज में कर्ल कराते हुए गोल के अंदर पहुंचा दिया. मेसी के इस गोल ने चिले पर प्रेशर बढ़ा दिया. दरअसल भले ही चिले ने 2015 और 2016 के कोपा अमेरिका फाइनल में अर्जेंटीना को हराया हो, लेकिन इस टूर्नामेंट में तय 90 मिनट के अंदर चिले कभी भी अर्जेंटीना को नहीं हरा पाया है.

हालांकि अपने स्टार अलेक्सिस सांचेज़ के बिना खेल रही चिले ने हार नहीं मानी. उन्होंने मैच के दूसरे हाफ में बराबरी का गोल कर ही दिया. एडवार्डो वार्गस ने मैच के 57वें मिनट में VAR के जरिए मिली पेनल्टी के रिबाउंड पर गोल कर स्कोर 1-1 कर दिया. दरअसल चिले के लिए ये पेनल्टी मिडफील्डर अर्तुरो विडाल ने ली थी. लेकिन अर्जेंटीनी गोलकीपर एमिलियानो मार्टिनेज़ ने उनका शॉट रोक लिया. जिसके बाद वार्गस ने मार्टिनेज़ से लगकर छिटकी गेंद पर झपटते हुए उसे गोल में पहुंचा दिया.


यूरो 2020 के ओपनिंग गेम में इटली ने इतने गोल मारे कि नया रिकॉर्ड ही बना डाला

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

दिल्ली दंगा : नताशा, देवांगना और आसिफ़ को ज़मानत देते हुए कोर्ट ने कहा, 'कब तक इंतज़ार करें?'

जानिए क्या है पूरा मामला?

सैन्य ऑपरेशन से जुड़े 25 साल से ज्यादा पुराने रिकॉर्ड सार्वजनिक होंगे

सेना के इतिहास से जुड़ी जानकारियां सार्वजनिक करने की पॉलिसी को मंजूरी

पंजाब चुनाव: अकाली दल और बसपा गठबंधन का ऐलान, कितनी सीटों पर लड़ेगी मायावती की पार्टी?

पंजाब के अलावा बाकी चुनाव भी साथ लड़ने की घोषणा.

TMC में घर वापसी करने वाले मुकुल रॉय ने 4 साल बाद बीजेपी छोड़ने का फैसला क्यों लिया?

मुकुल रॉय को बराबर में बिठाकर ममता बनर्जी किन गद्दारों पर भड़कीं?

लक्षद्वीप: किस एक बयान के बाद फिल्म निर्माता आयशा सुल्ताना पर राजद्रोह का केस हो गया?

पहले TV डिबेट में बोला, फिर फेसबुक पर पोस्ट लिखा.

कोरोना वैक्सीन लेने के बाद शरीर से सिक्के-चम्मच चिपकने के दावों में कितना सच?

क्या शरीर में वाकई चुंबकीय शक्ति पैदा हो जाती है?

पावर बैंक ऐप, जिसने 15 दिन में पैसे डबल करने का झांसा दे 4 महीने में 250 करोड़ उड़ा लिए

पैसा शेल कंपनियों में लगाते, फिर क्रिप्टोकरंसी बनाकर विदेश भेज देते थे.

भूटान के बाद अब नेपाल ने पतंजलि की कोरोनिल दवा बांटने पर रोक क्यों लगा दी?

नेपाल के अधिकारियों ने IMA के उस लेटर का भी हवाला दिया है, जिसमें कोरोनिल को लेकर रामदेव को चुनौती दी गई थी.

दक्षिण में बीजेपी की मुश्किलें बढ़ीं, कर्नाटक और केरल में टॉप नेता सवालों में क्यों हैं?

मामला इतना बढ़ गया कि बीजेपी के केंद्रीय नेतृत्व को दखल देना पड़ा है.

आसिफ को भीड़ ने पीटकर मार डाला तो आरोपियों की रिहाई के लिए महापंचायतें क्यों हो रही हैं?

करणी सेना के नेता धमकी दे रहे- जो भी हमें रोकेंगे, उन्हें ठोक देंगे.