Submit your post

Follow Us

LinkedIn पर जॉब के नाम पर हैकर बवाल काट रहे हैं; बचने का रास्ता जान लीजिए

कोरोना ने दुनिया भर में लोगों की ज़िंदगी को प्रभावित किया है. जान के खतरे के साथ-साथ काम-धाम और नौकरी पर भी तलवार लटक गई. अलग-अलग कंपनियों से कर्मचारियों की बड़ी-बड़ी खेप बेरोजगार हो गईं. Linkedin पर नौकरी ढूंढने वालों का तांता लग गया. इस प्लेटफॉर्म पर आप अपने काम से जाने जाते हैं और लोग नौकरी दिलवाने में अक्सर एक दूसरे की मदद करते मिलते हैं. मगर साइबर क्रिमिनल यहां भी अपना जाल लेकर बैठ गए और लोगों को नौकरी दिलवाने के नाम पर उनके पास मालवेयर भेजने लग गए. मालवेयर एक ऐसा विषैला सॉफ्टवेयर है जो किसी डिवाइस में पहुंचकर उसे नुकसान पहुंचाता है या फ़िर हैकर के पास उस डिवाइस का डेटा पहुंचा देता है.

एक सिक्योरिटी फर्म है, eSentire. इनका कहना है कि साइबर क्रिमिनल्स का एक समूह लिंक्ड-इन पर जॉब ढूंढने वालों को शिकार बना रहा है. इनके मुताबिक “गोल्डन चिकन” नाम का ये समूह इस प्लेटफॉर्म पर जॉब ऑफर डालता है, जिसमें पड़ा हुआ लिंक यूजर के डिवाइस पर मालवेयर इंस्टॉल करवा देता है. लोगों को झांसा देने के लिए ये नकली जॉब ऑफर ठीक उसी पोजीशन के लिए बनाते हैं जिन पर इनका विक्टिम पहले से काम कर रहा होता है, या कर चुका होता है.

eSentire एक उदाहरण देते हुए बताते हैं कि अगर किसी लिंक्ड-इन मेम्बर की जॉब में Senior Account Executive – Internal Freight लिखा हुआ है, तब नकली जॉब पोस्टिंग ठीक इसी नाम से बनती हैं. ये यूजर को पर्सनल मैसेज करके बात करते हैं और फ़िर यहीं पर उस जॉब पोस्टिंग के नाम वाला .zip फ़ोल्डर भेजते हैं. इस फ़ोल्डर पर क्लिक करते ही “more_eggs” नाम का मालवेयर यूजर के डिवाइस पर इंस्टॉल हो जाता है. ये प्रोग्राम कंप्यूटर में पहुंचकर दूसरे मालवेयर भी इंस्टॉल करवा देता और फिर यूजर के डिवाइस का पूरा कंट्रोल हैकर के पास आ जाता है.

आप क्या करें?

लिंक्ड-इन पर जॉब ढूंढने के लिए आप इनके जॉब्स वाले टैब में जा सकते हैं. मैसेज में चुपके से आकर अगर कोई आपको जॉब पोस्टिंग के बारे में बता रहा है, तब थोड़ा शक करने की जरूरत है. अगर ये शख्स आपको मैसेज में ही किसी अंजान लिंक पर क्लिक करने को कह रहा है, तब ये शक और गहरा हो जाना चाहिए. अगर ये शख्स मैसेज में आपको .zip या .rar फ़ोल्डर भेज रहा है, तब तो शक को यकीन में बदल जाना चाहिए कि दाल में जरूर कुछ काला है. लिंक्ड-इन के अलावा भी अगर आपको कोई अनजान शख्स किसी लिंक पर क्लिक करने को बोले या फिर कोई फाइल या फ़ोल्डर डाउनलोड करने को बोले, तो आपके कान खड़े हो जाने चाहिए.


वीडियो: कोरोना वैक्सीन लगवाने के लिए अपने इलाके में कोविड सेंटर कैसे ढूंढें?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

अनिल देशमुख का महाराष्ट्र के गृह मंत्री पद से इस्तीफा, जानिए क्या कारण बताया है

मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह ने उन पर गंभीर आरोप लगाए थे.

अमेरिकी संसद पर हमले के बारे में अब तक क्या-क्या पता चला है?

हमले में पुलिसवाले की मौत हो गई, हमलावर मारा गया.

यूपी पुलिस ने जिस हिस्ट्रीशीटर आबिद को गनर दिया है, वो है कौन?

आबिद पर आरोप है कि उसने अतीक के कहने पर अपनी बहन की हत्या करवाई थी.

मनसुख हिरेन मर्डर केस: NIA को मीठी नदी में कौन से अहम सुराग मिले हैं?

आरोपी सचिन वाझे को लेकर नदी पहुंची थी जांच एजेंसी.

फिल्मी अंदाज में अस्पताल से भागने वाला गैंगस्टर कुलदीप फज्जा एनकाउंटर में मारा गया!

पुलिस की आंखों में मिर्च पाउडर फेंक कुलदीप को भगा ले गए थे उसके साथी.

सुशांत सिंह राजपूत की बहन के खिलाफ़ मुकदमा खारिज करने से सुप्रीम कोर्ट ने साफ़ इंकार कर दिया

सुशांत को गैरकानूनी दवाइयां देने के मामले में रिया चक्रवर्ती ने केस दर्ज करवाया था.

पंजाब से यूपी की जेल भेजा जाएगा मुख्तार अंसारी, SC में काम कर गई विजय माल्या वाली दलील!

यूपी सरकार के बार-बार कहने पर भी मुख्तार को क्यों नहीं भेज रही थी पंजाब सरकार?

लॉकडाउन के दौरान लोन की EMI टाली थी तो ब्याज को लेकर सुप्रीम कोर्ट का ये फैसला पढ़ लीजिए

EMI टालने की छूट बढ़ाने और पूरा ब्याज माफ करने पर भी कोर्ट ने रुख साफ कर दिया है.

भारत में कोरोना की सेकेंड वेव पहले से भी ज्यादा खतरनाक?

पिछले 24 घंटे में नवंबर 2020 के बाद अब सबसे ज़्यादा मामले आए हैं.

महाराष्ट्र के गृहमंत्री वसूली कर रहे या राज्य में सरकार गिराने की कोशिश चल रही?

मनसुख हीरेन की मौत के बाद क्या सब चल रहा है?