Submit your post

Follow Us

पापा लालू और तेजप्रताप को मिलने से किसने रोका कि तेजू भईया धरने पर बैठ गए?

राष्ट्रीय जनता दल (RJD) प्रमुख लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) रविवार यानी 24 अक्टूबर को तीन साल के बाद बिहार की राजधानी पटना पहुंचे. उनके समर्थकों के साथ परिवार का खुश होना स्वाभाविक था. लेकिन इस दौरान लालू प्रसाद यादव के बेटे तेज प्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) उर्फ़ तेजू भईया नाराज़ हो गए. धरने पर बैठ गए. बयान वग़ैरह देने लगे. मतलब कुल मिलाकर लालू प्रसाद यादव की पटना वापसी एक हाई वोल्टेज ड्रामे में तब्दील हो गई. आइए जानते हैं कि क्यों नाराज़ हुए तेज प्रताप यादव.

क्या है पूरा मामला

बिहार के पूर्व सीएम लालू प्रसाद यादव के दो बेटे हैं. छोटे बेटे तेजस्वी यादव फिलहाल बिहार में विपक्ष के नेता हैं. बड़े बेटे तेज प्रताप यादव ने छात्र जनशक्ति परिषद नाम का एक संगठन बना लिया है. राजद से बाहर हैं. तेज़ प्रताप गाहे-बगाहे राजद के सीनियर नेताओं और पॉलिसी की आलोचना भी करते रहते हैं. जब लालू प्रसाद यादव के पटना वापसी की खबर आई तो तेज प्रताप यादव ने भी खुशी में ट्वीट किया,

“गीदड़ों से कह दो कि आज जरा घर से बाहर ना निकले क्योंकि शेर आज वापिस आ रहा है. बिहार की जनता की आवाज. जिसे बंद करने का प्रयास किया गया लेकिन सत्य प्रताड़ित किया जा सकता है पराजित नहीं! वंदे मातरम्”

अब रविवार यानी 26 अक्टूबर को लालू प्रसाद यादव पटना एयरपोर्ट पहुंचे. एयरपोर्ट पर स्वागत करने के लिए तेज प्रताप भी पहुंचे थे. लेकिन उन्होंने आरोप लगाया कि उन्हें अपने पापा से मिलने नहीं दिया गया. असल में तेज प्रताप चाहते थे कि लालू प्रसाद यादव एयरपोर्ट से सीधे उनके घर आएं. इसके बाद ही वो राबड़ी देवी के निवास पर जाएं. तेज प्रताप यादव ने एयरपोर्ट के लिए निकलने से पहले ही ‘आजतक’ से बातचीत में कहा था कि वह अपने पिता को एयरपोर्ट से पहले घर लेकर आएंगे. जब ऐसा नहीं हुआ तो तेज प्रताप यादव बिफर गए. उन्होंने इसके लिए राजद प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह, एमएलसी सुनील कुमार सिंह और तेजस्वी यादव के राजनीतिक सलाहकार संजय यादव को दोषी ठहराया. तेज प्रताप यादव इतना नाराज हुए कि उन्होंने जगदानंद सिंह को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का एजेंट तक कह दिया. उन्होंने कहा कि जब वो अपने पिता से मिलने पहुंचे तो जगदानंद सहित कई लोगों ने उनके साथ धक्का-मुक्की की. इसके बाद तेज प्रताप यादव अपने बंगले के बाहर धरने पर ही बैठ गए.  

धरना खत्म कराने पहुंचे लालू यादव

एयरपोर्ट से निकलने के बाद लालू सीधा राबड़ी देवी के आवास पहुंचे. उन्हें खबर मिली कि तेज प्रताप गुस्सा हैं. अपने बंगले के बाहर धरने पर बैठ गए है. तेज प्रताप ने कहा जब तक पिता मिलने नहीं आएंगे तब तक वह धरने पर से नहीं उठेंगे. इस दौरान तेज प्रताप की लालू और राबड़ी से फोन पर बात भी हुई. तेज प्रताप के धरने के चलते लालू और राबड़ी देवी उनसे मिलने उनके घर पहुंचे. तेज ने अपने घर पर लालू यादव के पैर धोए.


कुछ देर रुकने के बाद लालू प्रयाद यादव वापस अपने घर आ गए. पिता लालू प्रसाद यादव और मां राबड़ी देवी के आने से तेज प्रताप का गुस्सा शांत हुआ और उन्होंने अपना धरना समाप्त किया. इसके बाद देर रात तेज प्रताप लालू और राबड़ी से मुलाकात करने 10 सर्कुलर रोड पर पहुंचे. छोटा झगड़ा खतम. बड़ा झगड़ा तो चल ही रहा है.


वीडियो – जगदानंद सिंह को लेकर तेज़ प्रताप के बिगड़े बोल पर तेज़स्वी ने क्या सलाह दी है?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

'तुझे यहीं पिटना है क्या', हेट स्पीच पर सवाल से पत्रकार पर बुरी तरह भड़के यति नरसिंहानंद

'तुझे यहीं पिटना है क्या', हेट स्पीच पर सवाल से पत्रकार पर बुरी तरह भड़के यति नरसिंहानंद

बीबीसी का आरोप, टीम के साथ नरसिंहानंद के समर्थकों ने गाली-गलौज और धक्का-मुक्की की.

इंदौर: महिला का दावा, पति ने दोस्तों के साथ मिल गैंगरेप किया, प्राइवेट पार्ट को सिगरेट से दागा

इंदौर: महिला का दावा, पति ने दोस्तों के साथ मिल गैंगरेप किया, प्राइवेट पार्ट को सिगरेट से दागा

मुख्य आरोपी के साथ उसके दोस्तों को पुलिस ने पकड़ लिया है.

BJP और उत्तराखंड सरकार ने हरक सिंह रावत को अचानक क्यों निकाल दिया?

BJP और उत्तराखंड सरकार ने हरक सिंह रावत को अचानक क्यों निकाल दिया?

पार्टी के इस कदम से आहत हरक सिंह रावत मीडिया के सामने भावुक हो गए.

आपको फर्जी शेयर टिप्स देकर इस परिवार ने करोड़ों का मुनाफा कैसे पीट लिया?

आपको फर्जी शेयर टिप्स देकर इस परिवार ने करोड़ों का मुनाफा कैसे पीट लिया?

Bull Run कांड में सेबी का फैसला, एक ही परिवार के 6 लोगों पर लगा बैन.

आदिवासी, आंदोलनकारी, पत्रकार और ऐक्ट्रेस, जानिए यूपी में कांग्रेस ने किन चेहरों पर दांव लगाया है?

आदिवासी, आंदोलनकारी, पत्रकार और ऐक्ट्रेस, जानिए यूपी में कांग्रेस ने किन चेहरों पर दांव लगाया है?

कांग्रेस की पहली लिस्ट में 50 महिला उम्मीदवार शामिल हैं

इस तस्वीर ने यूपी चुनाव से पहले सपा गठबंधन को लेकर क्या सवाल खड़े कर दिए?

इस तस्वीर ने यूपी चुनाव से पहले सपा गठबंधन को लेकर क्या सवाल खड़े कर दिए?

तस्वीर गौर से देखेंगे तो समझ आ जाएगा, हम तो बता ही देंगे.

योगी सरकार को एक और झटका, मंत्री दारा सिंह चौहान ने भी साथ छोड़ा

योगी सरकार को एक और झटका, मंत्री दारा सिंह चौहान ने भी साथ छोड़ा

बीते 24 घंटों के भीतर यूपी के दो कैबिनेट मंत्रियों ने इस्तीफा दे दिया है.

ITR फाइलिंग की डेडलाइन बढ़ी है, लेकिन नाचने से पहले ये खबर पढ़ लो!

ITR फाइलिंग की डेडलाइन बढ़ी है, लेकिन नाचने से पहले ये खबर पढ़ लो!

सेंट्रल बोर्ड ऑफ डायरेक्ट टैक्सेस ने असल में क्या कहा है?

दिल्ली में प्राइवेट ऑफिस, रेस्टोरेंट और बार पूरी तरह बंद किए गए, छूट किसे मिली है ये जान लो

दिल्ली में प्राइवेट ऑफिस, रेस्टोरेंट और बार पूरी तरह बंद किए गए, छूट किसे मिली है ये जान लो

कोरोना के केस बढ़ने के बीच DDMA की नई गाइडलाइंस जारी.

यूपी में MSP कृषि लागत से ज्यादा नहीं तो BJP इसका ढोल क्यों पीट रही है?

यूपी में MSP कृषि लागत से ज्यादा नहीं तो BJP इसका ढोल क्यों पीट रही है?

यूपी में MSP की तारीफ़ का सच.