Submit your post

Follow Us

SIT ने 12 घंटे में आशीष मिश्रा से कौन-कौन से सवाल पूछे?

लखीमपुर हिंसा के मुख्य आरोपी और केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष मिश्रा को 12 घंटे की पूछताछ के बाद गिरफ्तार कर लिया गया है. शनिवार, 9 अक्टूबर को स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम यानी SIT ने आशीष से कई सवाल पूछे. कुछ सवालों के जवाब आशीष ने दिए, लेकिन कई जवाब नहीं दिए. आशीष से किस तरह के सवाल पूछे गए थे? आज तक के संतोष कुमार की रिपोर्ट के मुताबिक,

कार्यक्रम में आ रहे VVIP का रूट बदल गया है, इसकी जानकारी क्या आपको थी?

पहले जिस रूट से VVIP आ रहे थे, उसकी जानकारी मुझे थी. बदले रूट के बारे में जानकारी कुछ देर पहले ही हुई थी.

जिस वक्त यह घटना हुई, उस वक्त आप कहां थे?

जिस वक्त यह घटना हुई, उस समय मैं कार्यक्रम स्थल पर ही था. मैं दंगल का आयोजन करवा रहा था. VVIP के आने के इंतजामों में लगा हुआ था.

दोपहर 2:36 से 3:30 बजे के बीच आप कहां थे?

इस वक्त भी मैं कार्यक्रम स्थल पर ही मौजूद था. कहीं नहीं गया था.

लेकिन लोगों का कहना है कि आप इस वक्त के दौरान गायब थे. कार्यक्रम में नहीं थे.

नहीं. मैं कार्यक्रम स्थल पर ही था. बीच-बीच में मैं थोड़ी देर के लिए कार्यक्रम स्थल के बगल में बनी अपनी एक राइस मिल तक जाता था. उसके बाद फिर वापस आ जा रहा था.

जो थार जीप हिंसा में क्षतिग्रस्त हुई, जलाई गई, उसको कौन चला रहा था? उसमें कौन-कौन बैठा था? पीछे की फॉर्च्यूनर, स्कॉर्पियो किसकी थी?

थार जीप मेरी है. हमारा ड्राइवर हरिओम मिश्रा चला रहा था. पीछे फॉर्च्यूनर हमारे मित्र और भाजपा कार्यकर्ता हैं अंकित दास, उनकी है. वह मुख्य अतिथि को कार्यक्रम स्थल तक लाने के लिए निकले थे, लेकिन कहां गए मुझे नहीं पता. घटना के बाद से ही वह मेरे संपर्क में नहीं हैं.

आप तीनों गाड़ियों में से कौन सी गाड़ी में थे?

मैं कह चुका हूं कि मैं कार्यक्रम स्थल पर ही था. मैं कार्यक्रम छोड़कर कहीं नहीं गया.

प्रत्यक्षदर्शी का कहना है थार जीप आप ही चला रहे थे.

नहीं. थार जीप में मैं नहीं था. मैं किसी भी गाड़ी में नहीं था. मैंने इन गाड़ियों को VVIP को लाने के लिए भेजा था

अगर आप घटनास्थल पर नहीं थे तो FIR दर्ज होने के बाद गायब क्यों हो गए थे? बीते 48 घंटे में आप कहां-कहां रहे?

मैं गायब नहीं हुआ था. मैं जिले में ही था. अपने गांव बलवीरपुर में ही था. मेरी तबीयत कुछ ख़राब हो गई थी, इसलिए आराम कर रहा था.

जिस वक्त हिंसा हुई, उस वक्त आप कार्यक्रम स्थल पर ही थे, इसका कोई सबूत क्यों नहीं है?

मैं पूरे कार्यक्रम के दौरान वहीं मौजूद था. कहीं नहीं गया. मुझे नहीं पता था हिंसा में मेरा नाम आ जाएगा. पूरे कार्यक्रम के वीडियो जो मुझे मिले हैं, मैंने आपको दे दिए हैं.

गाड़ी के अंदर से दो मिस कारतूस मिले हैं. यह किसके हैं? कौन असलहा लेकर चलता है? किसको असलहे से लैस कर आपने कार्यक्रम के लिए भेजा था?

मैं जब गाड़ी में रहता हूं, तब अपने असलहे लेकर चलता हूं. लेकिन जब मैं नहीं रहता तो गाड़ी में कोई असलहा नहीं रहता है.

आधी रात के बाद आशीष मिश्रा को अदालत में पेश किया गया. न्यायिक मजिस्ट्रेट ने आशीष को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में लखीमपुर खीरी जिला जेल भेज दिया. आशीष की पुलिस रिमांड के लिए अर्जी दी गई थी. अदालत ने इस अर्जी पर सुनवाई के लिए 11 अक्टूबर की तारीख तय की है.


लखीमपुर हिंसा के आरोपी आशीष मिश्रा की गिरफ्तारी पर क्या बोले CM योगी?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

लखीमपुर केस में आशीष मिश्रा 12 घंटे की पूछताछ के बाद गिरफ्तार

लखीमपुर केस में आशीष मिश्रा 12 घंटे की पूछताछ के बाद गिरफ्तार

जांच में सहयोग नहीं करने का आरोप.

नवाब मलिक ने कहा-NCB ने 11 को हिरासत में लिया था फिर 3 को छोड़ क्यों दिया?

नवाब मलिक ने कहा-NCB ने 11 को हिरासत में लिया था फिर 3 को छोड़ क्यों दिया?

NCB की रेड को फर्जी बताया, ज़ोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े की कॉल डिटेल की जांच की मांग की

आशीष मिश्रा लखीमपुर में हैं या नहीं? पिता अजय मिश्रा और रिश्तेदारों के जवाबों ने सिर घुमा दिया

आशीष मिश्रा लखीमपुर में हैं या नहीं? पिता अजय मिश्रा और रिश्तेदारों के जवाबों ने सिर घुमा दिया

अजय मिश्रा कुछ और कह रहे, परिवारवाले कुछ और कह रहे.

RBI ने ऑनलाइन पैसा ट्रांसफर करने वालों को बड़ी खुशखबरी दी है

RBI ने ऑनलाइन पैसा ट्रांसफर करने वालों को बड़ी खुशखबरी दी है

RBI की मॉनिटरी पॉलिसी कमिटी (MPC) की बैठक आज खत्म हो गई.

लखीमपुर: SC ने यूपी सरकार से रिपोर्ट मांगते हुए ऐसी बात पूछी है कि जवाब देना मुश्किल हो सकता है

लखीमपुर: SC ने यूपी सरकार से रिपोर्ट मांगते हुए ऐसी बात पूछी है कि जवाब देना मुश्किल हो सकता है

विस्तृत रिपोर्ट दाखिल करने के लिए यूपी सरकार को एक दिन का वक्त दिया है.

छत्तीसगढ़: कवर्धा में किस बात पर ऐसी हिंसा हुई कि इंटरनेट बंद करना पड़ गया?

छत्तीसगढ़: कवर्धा में किस बात पर ऐसी हिंसा हुई कि इंटरनेट बंद करना पड़ गया?

रविवार 3 अक्टूबर की शाम से यहां कर्फ्यू लगा है.

पैंडोरा पेपर्स: लक्ष्मी निवास मित्तल के भाई प्रमोद मित्तल पर बड़ी टैक्स चोरी और धोखाधड़ी का आरोप

पैंडोरा पेपर्स: लक्ष्मी निवास मित्तल के भाई प्रमोद मित्तल पर बड़ी टैक्स चोरी और धोखाधड़ी का आरोप

ब्रिटेन की अदालतों में इन दोनों ने अपनी आय शून्य बताई थी.

लखीमपुर का रोंगटे खड़े करने वाला वीडियो, प्रदर्शन कर रहे किसानों पर पीछे से कैसे चढ़ा दी गाड़ी!

लखीमपुर का रोंगटे खड़े करने वाला वीडियो, प्रदर्शन कर रहे किसानों पर पीछे से कैसे चढ़ा दी गाड़ी!

घटना में घायल शख्स ने 'दी लल्लनटॉप' को बताई पूरी कहानी.

फोन पर नेताओं की कुर्सी फिक्स करती थी, अब नई तरह की हैट्रिक बनाई है

फोन पर नेताओं की कुर्सी फिक्स करती थी, अब नई तरह की हैट्रिक बनाई है

पनामा हो या पैराडाइज़, या हो पैंडोरा. लीक जहां, नीरा राडिया का नाम वहां.

जब कोर्ट में बहस के दौरान आर्यन खान के वकील बोले,

जब कोर्ट में बहस के दौरान आर्यन खान के वकील बोले, "वो चाहे तो पूरी शिप खरीद सकता है"

आर्यन खान 7 अक्टूबर तक कस्टडी में रहेंगे.