Submit your post

Follow Us

टीम इंडिया के इस मौजूदा खिलाड़ी की वजह से धोनी को 20 साल बाद आया गुस्सा!

मशहूर महेंद्र सिंह धोनी लंबे समय से क्रिकेट से दूर हैं. धोनी मैदान पर बेहद कूल रहते हैं. इसी वजह से उनका नाम ही कैप्टन कूल पड़ गया. लेकिन उनकी कप्तानी में खेले कुलदीप यादव को एक बार धोनी के जबरदस्त गुस्से का सामना करना पड़ा था. जतिन सप्रू के साथ एक इंस्टाग्राम लाइव में खुद कुलदीप ने यह बात बताई है.

कुलदीप ने बताया कि श्रीलंका के खिलाफ एक मैच में उन्होंने माही की बात नहीं सुनी तो वो उनपर भड़क उठे. कुलदीप ने कहा,

”कुसल परेरा ने मेरी गेंद पर कवर्स एरिया में चौका लगा दिया. धोनी भाई विकेट के पीछे से मुझपर चिल्लाए और मुझसे फील्डिंग बदलने के लिए कहा. मैंने उनकी बात नहीं सुनी. अगली बॉल पर फिर से कुसल ने रिवर्स स्वीप के साथ चौका मार दिया.”

कुलदीप ने बताया कि जब लगातार दो गेंदों पर चौका चला गया तो माही का गुस्सा सातवें आसमान पर था. उन्होंने बताया,

”इसके बाद धोनी गुस्से में मेरे पास आए और बोले, ‘मैं पागल हूं? 300 वनडे खेला हूं, और समझा रहा हूं यहां पे.”

Dhoni Kuldeep
2017 में श्रीलंका के खिलाफ टी20 में कुलदीप ने तीन विकेट चटकाए थे. फोटो: Instagram

हालांकि उस ओवर में धोनी के समझाने के बाद कुलदीप ने बताया कि उस वक्त वो घबरा गए थे. लेकिन मैच के बाद उन्होंने धोनी से जाकर बात की और पूछा कि क्या उन्हें कभी गुस्सा भी आता है. जवाब में धोनी ने कहा था,

”20 साल से गुस्सा नहीं किया है. इंडिया के लिए खेलते हुए मुझे दो या तीन बार ही गुस्सा आया. हालांकि अब मैं ये बात समझ गया हूं कि मैं गुस्सा नहीं करता, डांटता हूं.”

22 दिसंबर, 2017 को इंदौर में खेले गए उस टी20 मुकाबले में रोहित शर्मा ने 43 गेंदों में 118 रन बनाए थे. जिसकी मदद से इंडिया ने इस मैच में 260 रन बनाए थे. ये इंडिया का टी20 क्रिकेट का सबसे बड़ा स्कोर है. जवाब में श्रीलंका की टीम 17.2 ओवरों में 172 रन ही बना सकी. उस मुकाबले में कुलदीप यादव को बहुत मार पड़ी थी. उन्होंने चार ओवर के स्पेल में कुल 52 रन लुटा दए थे.


क्यों पक्की है T20 वर्ल्ड कप टीम में धोनी की जगह, हरभजन ने बताया है 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

लॉकडाउन के बीच इस कंपनी ने 600 लोगों को नौकरी से निकाल दिया?

स्थानीय विधायक ने मामले की शिकायत कर्नाटक सरकार और केंद्र सरकार से की है.

आयुष्मान कार्ड वालों की फ़्री कोरोना जांच होगी, लेकिन 2 करोड़ परिवार इस लिस्ट से ही ग़ायब!

क्या गड़बड़ी हुई गिनती में?

20 अप्रैल से कौन-कौन से लोग अपना काम-धंधा शुरू कर सकते हैं?

और खाने-पीने के सामान को लेकर सरकार ने क्या कहा?

लॉकडाउन के बीच ज़रूरी सामान भेजना है? बस एक कॉल पर हो जाएगा काम

रेलवे अधिकारियों ने शुरू की है 'सेतु' सर्विस.

सड़क पर मजदूरों संग खाना खाने वाले अर्थशास्त्री ने सरकार को कमाल का फॉर्मूला सुझाया है

कोरोना और लॉकडाउन ने मजदूर को कहीं का नहीं छोड़ा.

सरकार की नई गाइडलाइंस, जानिए किन इलाकों में, किन लोगों को लॉकडाउन से छूट

कोरोना से निपटने के लिए लॉकडाउन पहले ही बढ़ाया जा चुका है.

टेस्टिंग किट की बात पर राहुल गांधी ने भारत की तुलना किन देशों से की?

कहा, 'हम पूरे खेल में कहीं नहीं हैं.'

चीन से भारत के लिए चली टेस्टिंग किट की खेप अमरीका निकल गयी!

और अभी तक भारत में नहीं शुरू हो पाई मास टेस्टिंग.

कोरोना: मरीजों की खातिर बेड और लैब के लिए कितना तैयार है भारत, PM मोदी ने बताया

लॉकडाउन बढ़ाने के अलावा पीएम ने क्या-क्या कहा?

15 अप्रैल को लॉकडाउन-2 की जो गाइडलाइंस आनी हैं, उनमें क्या-क्या हो सकता है

पूरे देश में 3 मई तक लॉकडाउन बढ़ चुका है.