Submit your post

Follow Us

सुशांत के लिए पूरे बॉलीवुड को कोसने वाली कंगना ने जिया ख़ान मामले में सूरज पंचोली का बचाव किया था

सुशांत सिंह राजपूत. 14 जून के दिन उन्होंने मुंबई के अपने फ्लैट में सुसाइड कर लिया. पुलिस को छानबीन में पता चला कि वो छह महीने से डिप्रेशन से जूझ रहे थे. उसके बाद से ही लगातार लोग उनके बारे में लिख रहे हैं. सेलिब्रिटी से लेकर आम जनता तक आगे आकर डिप्रेशन, बॉलीवुड में फैले नेपोटिज्म, फेवरेटिज्म, के बारे में लिख रहे हैं. बॉलीवुड के कई बडे़ लोगों को सुशांत की मौत का ज़िम्मेदार ठहराया जा रहा है. इस बीच एक्ट्रेस कंगना रनौत ने भी सुशांत के लिए एक वीडियो पोस्ट किया था. कहा था कि ये कोई सुसाइड नहीं बल्कि प्लानिंग से किया गया मर्डर है. इसके बाद ट्विटर पर कंगना की सात साल पुरानी एक खबर वायरल होने लगी, जिसमें उन्होंने जिया खान सुसाइड केस में सूरज पंचोली का बचाव किया था.

सात साल पहले कंगना ने क्या कहा था, लोग अब क्या कह रहे हैं, ये सब जानने के लिए पहले ये जानिए कि सुशांत वाले मुद्दे पर कंगना ने क्या कहा था.

कंगना ने कहा था,

‘सुशांत दिमाग वाले थे. उनके बारे में ये कहना कि वो सायकॉटिक थे, गलत है. उन्होंने अच्छा काम किया, लेकिन कभी वैसी तवज्जो नहीं मिली, जिसके वो हकदार थे. उन्हें डर था कि उन्हें इंडस्ट्री से निकाल दिया जाएगा, वो बाहरी सा महसूस करते थे, तो आप बताइए कि क्या इस हादसे (सुसाइड) की कोई बुनियाद नहीं है?’

आगे भी कंगना ने बहुत कुछ कहा. अपना और सुशांत का उदाहरण देते हुए कहा कि लोग सुसाइड की भावना मन में डालते हैं. कंगना ने कहा,

‘चमचे जर्नलिस्ट मुझे मैसेज करते हैं, कहते हैं कि तुम्हारा बहुत मुश्किल वक्त है, कोई ऐसा-वैसा कदम मत उठा लेना. ऐसा क्यों कहते हैं मुझे? क्यों मेरे दिमाग में डालना चाहते हैं कि सुसाइड कर लीजिए. तो बताइए कि ये सुसाइड था कि ये प्लान मर्डर था? सुशांत की गलती ये रही कि वो उनकी बात मान गया. उन्होंने कहा कि तुम बेकार हो, वो मान गया. उसे अपनी मां की बात याद नहीं रही. उन लोगों की बातें मान गया. वो चाहते ही हैं कि ये साबित हो जाए कि सुशांत कमज़ोर दिमाग का था, वो सच्चाई नहीं बताएंगे.’

कंगना की बातों का सार

यानी कंगना ने कहा कि सुशांत के सुसाइड की कोई बुनियाद थी. उनकी फिल्मों को ज़रूरत के हिसाब से तवज्जो नहीं मिली, लोगों ने उन्हें बेकार फील कराया इसलिए सुशांत ने ये कदम उठाया.

फिर वायरल हुआ सात साल पुराना बयान

3 जून 2013 के दिन एक्ट्रेस जिया खान अपने घर पर मृत पाई गई थीं. बताया जाता है कि जिया भी पिछले कुछ समय से डिप्रेशन से जूझ रही थीं. वो एक्टर आदित्य पंचोली के बेटे सूरज पंचोली के साथ रिलेशनशिप में थीं. एक्टर आदित्य पंचोली के बेटे सूरज पंचोली पर सुसाइड के लिए उकसाने का आरोप लगा था. इस मुद्दे पर कंगना से मीडिया ने सवाल किया था.

इंडियन एक्स्प्रेस में 25 जून 2013 के दिन PTI के हवाले से एक खबर छपी थी, जिसमें कंगना ने कहा था,

‘डिप्रेशन एक बीमारी है, जिसका किसी दूसरी बीमारी की तरह ही इलाज किया जाना चाहिए. जब कोई व्यक्ति इस तरह का कदम उठाता है, तो ये अप्रासंगिक होता है कि किस वजह से उसने ऐसा किया. डिप्रेशन किसी भी वजह से हो सकता है. आप दिमाग की उस स्थिति के लिए किसी पर आरोप नहीं लगा सकते.’

अब लोग क्या कह रहे हैं?

लोग कंगना को ‘पाखंडी’ कह रहे हैं. ये भी कह रहे हैं कि कंगना की कोई विश्वसनीयता नहीं है. एक ने लिखा,

‘कंगना ऐसी एक्ट्रेस हैं, जिनकी कोई विश्वसनीयता नहीं है. पाखंडी हैं.

– जिया खान के केस में कहा था कि डिप्रेशन बीमारी है, इसलिए सूरज को ज़िम्मेदार नहीं ठहराया जा सकता.

– सुशांत सिंह राजपूत के केस में पूरे बॉलीवुड पर गुस्सा निकाला.’

एक ने लिखा,

‘कंगना अब ‘पाखंडी’ से ज्यादा कुछ नहीं हैं. उन्होंने सूरज पंचोली का बचाव किया था. ये केवल वक्त-वक्त की बात है. ये कुछ नहीं केवल पब्लिसिटी है. किसी मृत व्यक्ति का अपमान मत करो.’

ऐसे कई सारे ट्वीट किए जा रहे हैं. खैर, सुशांत के सुसाइड केस की जांच पुलिस कर ही रही है, लेकिन इस बीच बॉलीवुड में जमकर बहस छिड़ी हुई है. भेदभाव के आरोप बहुतों पर लग रहे हैं.


वीडियो देखें: सुशांत की एक्स गर्लफ्रेंड अंकिता लोखंडे के बारे में इस एक्टर ने जरूरी बात कही है!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

दिल्ली के हेल्थ मिनिस्टर सत्येंद्र जैन ऑक्सीजन सपोर्ट पर, दूसरे अस्पताल में शिफ्ट किए गए

कुछ दिन पहले कोरोना पॉज़िटिव आए थे, अब प्लाज़मा थेरेपी दी जाएगी.

चीनी सेना की यूनिट 61398, जिससे पूरी दुनिया के डेटाबाज़ डरते हैं

बड़ी चालाकी से काम करती है ये यूनिट.

गलवान घाटी में झड़प के बाद भी चीनी सेना मौजूद, 200 से ज्यादा ट्रक और टेंट लगाए

सैटेलाइट से ली गई तस्वीरों में यह सामने आया है.

पेट्रोल-डीजल के दाम में फिर से उबाल क्यों आ रहा है?

रोजाना इनके दाम घटने-बढ़ने की पूरी कहानी.

उत्तर प्रदेश में एक IPS अधिकारी के ट्रांसफर पर क्यों तहलका मचा हुआ है?

69000 भर्ती में कार्रवाई का नतीजा ट्रांसफर बता रहे लोग. मगर बात कुछ और भी है.

गलवान घाटी: LAC पर भारत के तीन नहीं, 20 जवान शहीद हुए हैं, कई चीनी सैनिक भी मारे गए

लड़ाई में हमारे एक के मुकाबले तीन थे चीनी सैनिक.

गलवान घाटीः वो जगह जहां भारत-चीन के बीच झड़प हुई

पिछले कुछ समय से यहां पर दोनों देशों की सेनाएं आमने-सामने हैं.

लद्दाख: गलवान घाटी में भारत-चीन झड़प पर विपक्ष के नेता क्या बोले?

सेना के एक अधिकारी समेत तीन जवान शहीद हुए हैं.

क्या परवीन बाबी की राह पर चल पड़े थे सुशांत?

मुकेश भट्ट ने एक इंटरव्यू में कहा.

सुशांत के पिता और उनके विधायक भाई ने डिप्रेशन को लेकर क्या कहा?

फाइनेंशियल दिक्कत की ख़बरों पर भी बोले.