Submit your post

Follow Us

गांधी को गाली देने वाले कालीचरण की गिरफ्तारी पर एमपी के गृहमंत्री ने सवाल क्यों उठाए? जानिए

छत्तीसगढ़ में आयोजित धर्म संसद में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को अपशब्द कहने वाले कालीचरण महाराज को गिरफ्तार कर लिया गया. गुरुवार 30 दिसंबर सुबह 4 बजे रायपुर पुलिस ने मध्य प्रदेश के खजुराहो से उन्हें गिरफ्तार किया. आजतक से जुड़े रवीश पाल सिंह के मुताबिक कालीचरण को खजुराहो से 25 किलोमीटर दूर बागेश्वर धाम के पास एक मकान से गिरफ्तार किया गया. उन्होंने यह मकान किराए पर लिया था. बीते दो दिनों से रायपुर पुलिस कालीचरण और उनके पीए के मोबाइल की लोकेशन के आधार पर उन्हें खजुराहो में तलाश कर रही थी. ये दोनों लगातार अपना ठिकाना बदल रहे थे.

छत्तीसगढ़ और एमपी आपस में भिड़े

कालीचरण महाराज की गिरफ्तारी को लेकर छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश सरकार में ठन गई है. छत्तीसगढ़ पुलिस की कार्रवाई पर मध्य प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने सवाल उठाए हैं. उन्होंने कहा,

कालीचरण जी ने जो बोला वो भी आपत्तिजनक था, जिस तरह से उनकी गिरफ्तारी की गई है ये भी आपत्तिजनक है, जो गलत है उसको हम गलत कह रहे हैं. रात के 3 बजे सन्नाटे में किसी नक्सली को नहीं उठाया करती है पुलिस. थाने को सूचना देकर उठा लेते. गिरफ्तारी के बाद थाने को सूचना दे देते. 

उन्होंने आगे कहा,

हमें तरीके पर आपत्ति है, छत्तीसगढ़ पुलिस के. यह इंटर स्टेट प्रॉटोकॉल का उल्लंघन कांग्रेस की छत्तीसगढ़ सरकार को नहीं करना था. संघी मर्यादा इसकी बिल्कुल इजाजत नहीं देती है. उन्हें सूचना देनी चाहिए थी. छत्तीसगढ़ सरकार चाहती तो उनको नोटिस देकर भी बुला सकती थी. मैंने मध्य प्रदेश के DGP को कहा है कि तत्काल छत्तीसगढ़ के DGP से बात करें कि ये क्या तरीका है उनका. गिरफ्तारी के इस तरीके पर आपत्ति व्यक्त करना है. अपना विरोध दर्ज कराएं और स्पष्टीकरण भी लें.

नरोत्तम मिश्रा की आपत्ति पर छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल ने कहा,

महात्मा गांधी के बारे में कोई अभद्र टिप्पणी करे तो उसके ऊपर कार्रवाई होगी. छत्तीसगढ़ पुलिस ने कार्रवाई की है. उनके परिवार वालों को सूचना दे दी गई. उनके वकील को सूचना दे दी गई. 24 घंटे के भीतर कोर्ट में पेश कर दिया जाएगा. नरोत्तम मिश्रा जी ये बताएं कि महात्मा गांधी को गाली देने वाले व्यक्ति की गिरफ्तारी से वो खुश हैं या दुखी हैं. दूसरी बात ये है कि किसी नियम का उल्लंघन नहीं हुआ है.

कालीचरण ने महात्मा गांधी के लिए क्या कहा था?

25 और 26 दिसंबर को छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में हुई धर्म संसद में कालीचरण ने महात्मा गांधी के बारे में अपमानजनक शब्द कहे थे. उन्होंने महात्मा गांधी को बंटवारे के लिए जिम्मेदार बताते हुए बापू की हत्या को सही ठहराया था. ऐसा कहते हुए उनका एक वीडियो भी वायरल हुआ था. इसमें कालीचरण कह रहे हैं,

“इस्लाम का लक्ष्य राजनीति के माध्यम से राष्ट्र पर कब्जा करना है. हमारी आंखों के सामने उन्होंने 1947 में कब्जा कर लिया था. उन्होंने पहले ईरान, इराक और अफगानिस्तान पर कब्जा किया था. उन्होंने राजनीति के माध्यम से बांग्लादेश और पाकिस्तान पर भी कब्जा कर लिया. महात्मा गांधी ने सत्यानाश कर दिया. नाथूराम गोडसे जी को नमस्कार है, मार डाला उस ** गांधी को.”

कालीचरण ने अपने भाषण में AIMIM प्रमुख और लोकसभा सांसद असदुद्दीन ओवैसी के खिलाफ भी अपशब्दों का इस्तेमाल किया था. उन्होंने एक समुदाय विशेष को दंगा करने के लिए हमेशा तैयार रहने वाला भी बता दिया था. इस दौरान कालीचरण ने हिंदू समुदाय के लोगों से यह भी कहा था कि वो एक कट्टर हिंदूवादी नेता को सत्ता में बिठाएं, फिर चाहे वो किसी भी पार्टी का हो.

रायपुर में दर्ज हुआ था केस

इस मामले में कालीचरण के खिलाफ रायपुर में ही एक FIR दर्ज की गई थी. कालीचरण के खिलाफ टिकरापारा क्षेत्र में लोगों में डर पैदा करने, अशांति और अश्लीलता फैलाने की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया था. यह FIR रायपुर के पूर्व मेयर प्रमोद दुबे ने दर्ज कराई थी.

FIR लिखे जाने के बाद कालीचरण ने एक वीडियो भी जारी किया था जिसमें उसने अपना बयान वापस लेने से इंकार किया था. उसने कहा था,

ऐसी एफआईआर से मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता है. मैं गांधी का विरोधी हूं और गांधी से नफरत करता हूं. इसके लिए अगर फांसी की सजा भी सुनाई जाएगी तो स्वीकार है.


दी लल्लनटॉप शो: हिंदुत्व के नाम पर 3 दिन मुस्लिम नरसंहार की बात हुईं, BJP सरकार ने कुछ नहीं किया

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

क्या क्रिप्टो करंसी के बुरे दिन शुरू हो गए हैं ? छह महीने में आधी हो गईं कीमतें

क्या क्रिप्टो करंसी के बुरे दिन शुरू हो गए हैं ? छह महीने में आधी हो गईं कीमतें

30% इनकम टैक्स के बाद अब 28% जीएसटी लगाने की तैयारी

पेट्रोल के दाम घटाने की मांग कर रहे विपक्षी राज्यों को पीएम मोदी ने नवंबर याद दिला दिया

पेट्रोल के दाम घटाने की मांग कर रहे विपक्षी राज्यों को पीएम मोदी ने नवंबर याद दिला दिया

मुख्यमंत्रियों के साथ वर्चुअल मीटिंग में पीएम मोदी ने नाम ले-लेकर सुनाया.

धार्मिक जुलूस की अनुमति की प्रक्रिया जान लो, जहांगीरपुरी हिंसा की वजह समझ आ जाएगी

धार्मिक जुलूस की अनुमति की प्रक्रिया जान लो, जहांगीरपुरी हिंसा की वजह समझ आ जाएगी

जानकारों ने जहांगीरपुरी में निकले जुलूस पर सवाल उठाए हैं.

लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे का सेनाध्यक्ष बनना खास क्यों है?

लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे का सेनाध्यक्ष बनना खास क्यों है?

मौजूदा आर्मी चीफ मनोज मुकुंद नरवणे के रिटायर्ड होने पर पदभार संभालेंगे.

LIC का IPO: सरकार अब जो करने जा रही है उससे छोटे निवेशकों को फायदा है

LIC का IPO: सरकार अब जो करने जा रही है उससे छोटे निवेशकों को फायदा है

LIC के IPO में बहुत कुछ बदलने जा रहा है. अगले हफ्ते आ सकता है अपडेटेड प्रॉस्पेक्टस.

RBI की इस पहल से सभी एटीएम से बिना कार्ड कैश निकलेगा!

RBI की इस पहल से सभी एटीएम से बिना कार्ड कैश निकलेगा!

अभी ये सुविधा कुछ ही बैंको तक सीमित है.

'शराबी' खिलाड़ी की जानलेवा हरकत की वजह से मरते-मरते बचे थे युजवेंद्र चहल, अब किया खुलासा

'शराबी' खिलाड़ी की जानलेवा हरकत की वजह से मरते-मरते बचे थे युजवेंद्र चहल, अब किया खुलासा

2013 की बात है जब चहल मुंबई इंडियन्स की तरफ से खेलते थे.

आकार पटेल के खिलाफ लुकआउट सर्कुलर जारी करने वाली CBI अब उनसे माफी मांगेगी

आकार पटेल के खिलाफ लुकआउट सर्कुलर जारी करने वाली CBI अब उनसे माफी मांगेगी

कोर्ट ने आकार पटेल को बड़ी राहत दी है.

भारत में कोरोना के XE Variant का पहला केस मिलने के दावे पर सरकार ने क्या कहा?

भारत में कोरोना के XE Variant का पहला केस मिलने के दावे पर सरकार ने क्या कहा?

ये वेरिएंट कितना खतरनाक है, ये भी जान लें.

लल्लनटॉप अड्डा: 9 अप्रैल को मचने वाले धमाल का पूरा शेड्यूल पढ़ लो!

लल्लनटॉप अड्डा: 9 अप्रैल को मचने वाले धमाल का पूरा शेड्यूल पढ़ लो!

हंसी होगी, संगीत होगा और होंगे सौरभ द्विवेदी!