Submit your post

Follow Us

RCB ने छोड़ा तो ऑक्शन में जाए बिना ही कैसे मालामाल हो सकते हैं चहल?

विराट कोहली, मोहम्मद सिराज़ और ग्लेन मैक्सवेल. ये वो तीन खिलाड़ी हैं जिन्हें RCB की टीम ने IPL 2022 के लिए रिटेन करने का फैसला किया है. लेकिन एक खिलाड़ी है जिसके रिटेन ना किए जाने पर लोगों ने ढेर सारी चर्चा की. वो नाम है टीम इंडिया के स्टार स्पिनर युजवेन्द्र चहल का. चहल को उनकी टीम ने रिटेन नहीं किया है ऐसे में उनके मेगा ऑक्शन की जाने की उम्मीद है. लेकिन टीम इंडिया के पूर्व बल्लेबाज़ मशहूर कॉमेंटेटर आकाश चोपड़ा को लगता है कि वो ज़रूरत ही नहीं पड़ेगी कि चहल को ऑक्शन में उतरना पड़े.

आकाश चोपड़ा को लगता है कि RCB के इस पूर्व लेग स्पिनर को IPL 2022 से जुड़ रही दो नई टीमें लखनऊ और अहमदाबाद रिटेंशन नियम के जरिए पहले ही अपनी टीम में ले लेंगी. ऐसे में RCB की टीम को मुम्बई इंडियंस के स्पिनर राहुल चाहर के साथ जाना पड़ सकता है.

आकाश चोपड़ा ने इस मामले में क्या कुछ कहा आपको बताते हैं. आकाश ने कहा,

‘RCB को राशिद खान तो नहीं मिलेंगे, वो उनके बारे में भूल सकते हैं. इसके बजाय वो राहुल चाहर के पीछे जाएंगे. लेग स्पिनर के अलावा कोई और स्पिनर चिन्नास्वामी स्टेडियम में काम नहीं करता. वह हवा में काफी तेज गेंदबाजी भी करते हैं. रवि बिश्नोई भी एक विक्लप हैं लेकिन मुझे लगता है कि वो राहुल पर खूब पैसा खर्च करेंगे. चहल शायद मेगा-ऑक्शन तक पहुंचे ही नहीं.’

आकाश चोपड़ा की बात में कुछ-कुछ सच्चाई तो है क्योंकि अहमदाबाद और लखनऊ की टीमें तीन खिलाड़ियों को मेगा-ऑक्शन से पहले खरीद सकती है. उन्हें अपनी नई टीम तैयार करनी है जिसमें वो ज्यादा से ज्यादा दो भारतीय और एक विदेशी खिलाड़ी खरीद सकते हैं. ऐसे में अगर एक तगड़ा लेग स्पिनर चाहिए तो चहल एक अच्छा विकल्प हो सकते हैं.

25 दिसंबर तक लखनऊ और अहमदाबाद की टीमों को खिलाड़ियों की लिस्ट तैयार करके भेजनी है.

# RCB के लिए चहल का प्रदर्शन

युजवेंद्र चहल 2014 से RCB के लिए खेल रहे हैं. IPL की हिस्ट्री में वो RCB टीम के सबसे सफल गेंदबाज़ रहे हैं. उन्होंने टीम के लिए 112 पारियों में 139 विकेट निकाले हैं. बीते सीज़न की बात करें तो IPL 2021 के सेकेंड लेग में खेले आठ मैच में उन्होंने 14 विकेट अपने नाम किए थे. ये विकेट 13.1 की एवरेज और 6.13 की इकॉनमी रेट से आए.


IPL 2022 से पहले इन खिलाड़ियों का तो जबरदस्त अप्रेजल हुआ है

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

इस तस्वीर ने यूपी चुनाव से पहले सपा गठबंधन को लेकर क्या सवाल खड़े कर दिए?

इस तस्वीर ने यूपी चुनाव से पहले सपा गठबंधन को लेकर क्या सवाल खड़े कर दिए?

तस्वीर गौर से देखेंगे तो समझ आ जाएगा, हम तो बता ही देंगे.

योगी सरकार को एक और झटका, मंत्री दारा सिंह चौहान ने भी साथ छोड़ा

योगी सरकार को एक और झटका, मंत्री दारा सिंह चौहान ने भी साथ छोड़ा

बीते 24 घंटों के भीतर यूपी के दो कैबिनेट मंत्रियों ने इस्तीफा दे दिया है.

ITR फाइलिंग की डेडलाइन बढ़ी है, लेकिन नाचने से पहले ये खबर पढ़ लो!

ITR फाइलिंग की डेडलाइन बढ़ी है, लेकिन नाचने से पहले ये खबर पढ़ लो!

सेंट्रल बोर्ड ऑफ डायरेक्ट टैक्सेस ने असल में क्या कहा है?

दिल्ली में प्राइवेट ऑफिस, रेस्टोरेंट और बार पूरी तरह बंद किए गए, छूट किसे मिली है ये जान लो

दिल्ली में प्राइवेट ऑफिस, रेस्टोरेंट और बार पूरी तरह बंद किए गए, छूट किसे मिली है ये जान लो

कोरोना के केस बढ़ने के बीच DDMA की नई गाइडलाइंस जारी.

यूपी में MSP कृषि लागत से ज्यादा नहीं तो BJP इसका ढोल क्यों पीट रही है?

यूपी में MSP कृषि लागत से ज्यादा नहीं तो BJP इसका ढोल क्यों पीट रही है?

यूपी में MSP की तारीफ़ का सच.

Nykaa का IPO अशनीर ग्रोवर और कोटक महिंद्रा के बीच जंग की वजह कैसे बन गया?

Nykaa का IPO अशनीर ग्रोवर और कोटक महिंद्रा के बीच जंग की वजह कैसे बन गया?

BharatPe के लीगल नोटिस और अशनीर ग्रोवर के 'गाली' वाले ऑडियो पर क्या बोला Kotak?

Xiaomi ने सरकार को कैसे लगा दिया 653 करोड़ का चूना?

Xiaomi ने सरकार को कैसे लगा दिया 653 करोड़ का चूना?

Xiaomi भारत में सबसे ज्यादा मोबाइल बेचने वाली चीनी कंपनी है.

नरसिंहानंद का एक और घटिया बयान, 'जिसने एक बेटा पैदा किया, उस मां को औरत मत मानना'

नरसिंहानंद का एक और घटिया बयान, 'जिसने एक बेटा पैदा किया, उस मां को औरत मत मानना'

नरसिंहानंद ने कहा, "मुसलमानों से हिंदुओं को मरवाओगे क्या?"

सुब्रमण्यन स्वामी Air India-Tata डील के खिलाफ HC पहुंचे, 'टाटा के पक्ष में धांधली' का आरोप

सुब्रमण्यन स्वामी Air India-Tata डील के खिलाफ HC पहुंचे, 'टाटा के पक्ष में धांधली' का आरोप

स्वामी की याचिका पर दिल्ली हाई कोर्ट 6 जनवरी को सुनाएगा फैसला

कपड़े महंगे होंगे या नहीं? जानिए सरकार ने क्या फैसला लिया है

कपड़े महंगे होंगे या नहीं? जानिए सरकार ने क्या फैसला लिया है

GST काउंसिल ने टेक्सटाइल पर टैक्स 12% करने का फैसला टाला