Submit your post

Follow Us

कोच रिकी पोंटिंग ने बताया किस खिलाड़ी को नहीं चाहते छोड़ना!

2019, 2020 और 2021 दिल्ली टीम की IPL हिस्ट्री के वो साल जिन्हें दिल्ली की टीम याद भी रखना चाहेगी और भूलना भी चाहेगी. याद इसलिए क्योंकि जिस शानदार तरीके से इन्होंने ये पूरा टूर्नामेंट खेला और भूलना इसलिए जिस तरह से आखिर में टीम खिताब से चूक गई. लेकिन फिर भी टीम के कोच रिकी पोंटिंग टीम के प्रदर्शन से बेहद खुश हैं. वो इस टीम की तारीफ कर रहे हैं. साथ ही IPL 2022 के लिए अधिकतम खिलाड़ियों को फिर से इसी टीम में लाने की जुगत में लग गए हैं.

दरअसल, अगले साल होने वाले IPL से पहले मेगा ऑक्शन होना है. जिसमें टीम के अधिकांश खिलाड़ी नीलामी में उतरेंगे. ऐसे में टीमों के बदलने की बहुत ज़्यादा संभावना है. ऐसे में रिकी पोंटिंग क्या कह रहे हैं, आइये जानते हैं. रिकी पोंटिंग ने कहा,

‘ईमानदारी से कहूं तो मैं सभी को रखना चाहूंगा. दिल्ली कैपिटल्स में हमारे साथ जुड़े सभी लोग शानदार हैं. बीते कुछ सीजन्स में प्लेइंग खिलाड़ी, स्टाफ और कोच ने शानदार काम किया है. और मुझे लगता है कि हमारा प्रदर्शन खुद ही हमारे लिए बोलता है.’

अपनी बात आगे रखते हुए रिकी पोंटिंग बोले,

‘निराश हूं कि इस सीज़न का अंत इस तरह से हुआ. हम निश्चित रूप से जानते हैं कि हम शायद तीन या चार खिलाड़ियों को ही रिटेन कर पाएंगे. बहुत सारे खिलाड़ी नीलामी में वापस जाएंगे और फिर मैं वह सब कुछ करूंगा जो मैं निश्चित रूप से अधिक से अधिक लोगों को दिल्ली कैपिटल्स परिवार में वापस लाने के लिए कर सकता हूं.

मेरे और इस प्लेइंग ग्रुप के लिए पिछले तीन सीज़न वास्तव में बहुत अच्छे गुजरे हैं, और सभी को या तो अधिकांश लोगों को फिर से एक साथ लाना मेरा लक्ष्य होगा.’

KKR से मिली हार पर बात करते हुए पोंटिंग ने कहा,

‘ईमानदारी से कहूं तो पूरा सीजन देखते हुए मुझे ऐसा लगता है कि ये पहला गेम है जिसमें हम बाहर हुए है. हमने अच्छी बल्लेबाजी नहीं की, पावरप्ले में हमने पर्याप्त रन नहीं बनाए, हमने बल्लेबाजी पारी के बीच में लगातार विकेट गंवाए. अगर अंत में हेटमायर और श्रेयस नहीं होते, तो हम 130 के आसपास कहीं भी नहीं पहुंच पाते. इसलिए हम पहले ही मैच से बाहर हो गए थे. जिस तरह हमने टूर्नामेंट का अंत किया वो दुखद है.’

रिकी पोंटिंग के इस बयान से उनकी दिल्ली टीम मैनेजमेंट की सोच साफ झलकती है. वो चाहते हैं कि इस टीम के अधिकांश खिलाड़ी अगले सीज़न भी इस टीम का हिस्सा बने रहें.

आपको बता दें, दिल्ली कैपिटल्स ने प्लेऑफ के लिए क्वालिफाई पॉइंट्स टेबल में टॉप पर रहते हुए किया था. जिसके बाद उन्हें फाइनल में प्रवेश करने के दो मौके मिले लेकिन फिर भी टीम दोनों मुकाबले हार टूर्नामेंट से बाहर हो गई.


IPL 2021: फिर दो बॉल पर छह रन, ऑयन मॉर्गन ने बताया मोमेंटम कहा था

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

बांग्लादेश: दुर्गा पूजा पंडाल को कट्टरपंथियों ने तहस-नहस किया, मूर्तियां तोड़ीं, 3 लोगों की मौत

बांग्लादेश: दुर्गा पूजा पंडाल को कट्टरपंथियों ने तहस-नहस किया, मूर्तियां तोड़ीं, 3 लोगों की मौत

कुरान को लेकर अफवाह उड़ी और बांग्लादेश के कई हिस्सों में सांप्रदायिक तनाव फैल गया.

आर्यन खान को अब भी नहीं मिली बेल, 20 तारीख तक जेल में ही रहना होगा

आर्यन खान को अब भी नहीं मिली बेल, 20 तारीख तक जेल में ही रहना होगा

जज ने दोनों पक्षों की दलीलें तो सुनी लेकिन अपना फैसला रिज़र्व रख दिया.

पुंछ मुठभेड़ से कुछ देर पहले भाई से बचपन की बातें कर हंस रहे थे शहीद मंदीप सिंह!

पुंछ मुठभेड़ से कुछ देर पहले भाई से बचपन की बातें कर हंस रहे थे शहीद मंदीप सिंह!

किसी ने लोन लेकर परिवार को नया घर दिया था तो कोई दिवंगत पिता के शोक में जाने वाला था.

दिल्ली में संदिग्ध पाकिस्तानी आतंकी गिरफ्तार, पूछताछ में डराने वाली जानकारी दी

दिल्ली में संदिग्ध पाकिस्तानी आतंकी गिरफ्तार, पूछताछ में डराने वाली जानकारी दी

पुलिस ने संदिग्ध आतंकी के पास से एके-47, हैंड ग्रेनेड और कई कारतूस मिलने का दावा किया है.

Urban Company की महिला 'पार्टनर्स' ने इसके खिलाफ मोर्चा क्यों खोल दिया है?

Urban Company की महिला 'पार्टनर्स' ने इसके खिलाफ मोर्चा क्यों खोल दिया है?

ये महिलाएं अर्बन कंपनी के लिए ब्यूटिशियन या स्पा वर्कर का काम करती हैं.

लखीमपुर केस में आशीष मिश्रा 12 घंटे की पूछताछ के बाद गिरफ्तार

लखीमपुर केस में आशीष मिश्रा 12 घंटे की पूछताछ के बाद गिरफ्तार

जांच में सहयोग नहीं करने का आरोप.

नवाब मलिक ने कहा-NCB ने 11 को हिरासत में लिया था फिर 3 को छोड़ क्यों दिया?

नवाब मलिक ने कहा-NCB ने 11 को हिरासत में लिया था फिर 3 को छोड़ क्यों दिया?

NCB की रेड को फर्जी बताया, ज़ोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े की कॉल डिटेल की जांच की मांग की

आशीष मिश्रा लखीमपुर में हैं या नहीं? पिता अजय मिश्रा और रिश्तेदारों के जवाबों ने सिर घुमा दिया

आशीष मिश्रा लखीमपुर में हैं या नहीं? पिता अजय मिश्रा और रिश्तेदारों के जवाबों ने सिर घुमा दिया

अजय मिश्रा कुछ और कह रहे, परिवारवाले कुछ और कह रहे.

RBI ने ऑनलाइन पैसा ट्रांसफर करने वालों को बड़ी खुशखबरी दी है

RBI ने ऑनलाइन पैसा ट्रांसफर करने वालों को बड़ी खुशखबरी दी है

RBI की मॉनिटरी पॉलिसी कमिटी (MPC) की बैठक आज खत्म हो गई.

लखीमपुर: SC ने यूपी सरकार से रिपोर्ट मांगते हुए ऐसी बात पूछी है कि जवाब देना मुश्किल हो सकता है

लखीमपुर: SC ने यूपी सरकार से रिपोर्ट मांगते हुए ऐसी बात पूछी है कि जवाब देना मुश्किल हो सकता है

विस्तृत रिपोर्ट दाखिल करने के लिए यूपी सरकार को एक दिन का वक्त दिया है.