Submit your post

Follow Us

जब नेहरू को मवेशियों के रहने की जगह पर रहना पड़ा था

देश के पहले प्रधानमंत्री. स्वतंत्रता सेनानी जवाहर लाल नेहरू. नेहरू पैदा हुए थे 14 नवंबर, 1889 को. उनका जन्मदिन बाल दिवस के रूप में मनाया जाता है. आज यानी 27 मई को उनकी बरसी होती है. इस मौके पर पढ़िए नेहरू से जुड़े कुछ क़िस्से. 

#1.

नेहरू का कद इतना बड़ा था कि कोई भी जल्दी उनके सामने बोलने की हिम्मत नहीं जुटा पाता था. राम मनोहर लोहिया उन लोगों में से थे, जिन्होंने नेहरू को कड़ी चुनौती दी. 1962 के लोकसभा चुनाव में लोहिया ने जहां-जहां नेहरू के खिलाफ प्रचार किया, वहां-वहां नेहरू की हार हुई. 1962 के चुनाव के एक साल बाद लोकसभा के उपचुनाव हुए और लोहिया भी लोकसभा पहुंच गए. उन दिनों उन्होंने एक पॉलिटिकल पैम्फलेट लिखा, जिसका टाइटल था ‘एक दिन के 25 हजार रुपए’.

इस पैम्फलेट में लोहिया ने नेहरू के कुछ खर्चों का जिक्र करते हुए दावा किया कि ये खर्चे सरकारी कोष से किए जा रहे हैं. लोहिया ने कहा कि जिस भारत के 70% लोग रोज़ाना 3 आने से कम पर गुज़ारा करते हैं, वहां प्रधानमंत्री के ऊपर रोजाना 25 हजार रुपए खर्च होना शर्मनाक है.

इस पर नेहरू ने योजना आयोग का हवाला देते हुए कहा था कि योजना आयोग की रिपोर्ट के मुताबिक भारत की 70% जनसंख्या की रोज़ाना की आमदनी 15 आना है. इस पर लोहिया ने जवाब दिया था कि 15 आने आय के बावजूद नेहरू पर खर्च होने वाले 25 हजार रुपयों में लाखों आने होते हैं.

nehru

#2.

नेहरू अपनी ऑटोबॉयोग्रफी में लिखते हैं-

जब मैं अलीपुर जेल में था, तो मेरी तबीयत काफी खराब रहने लगी. कलकत्ता की आबोहवा और गर्मी से मुझे दिक्कत हो रही थी. फैसला हुआ कि मुझे देहरादून भेजा जाएगा. मै काफी खुश था कि वहां पहाड़ देखने को मिलेंगे. 7 मई को मुझसे अपना सामान समेटने और बाहर चलने को कहा गया. मैं देहरादून जेल भेजा जा रहा था. महीनों की तन्हाई के बाद कलकत्ता के बीच होकर ठंडी-ठंडी हवा के बीच गुज़रना मुझे बहुत अच्छा लग रहा था.

मुझे अपने तबादले की खुशी थी और मैं देहरादून और उसके आसपास के पहाड़ों को देखने के लिए काफी उत्सुक था. लेकिन वहां पहुंचकर मैंने देखा कि 9 महीने पहले इसी जेल से जाते समय इसकी जो हालत थी, वह अब नहीं रह गई थी. अब मै जिस जगह पर था, वह मवेशियों के रहने की जगह को साफ करके बनाई गई थी.

इतना तक तो ठीक था, लेकिन दूसरी जो तब्दीली इसमें की गई थी, वह ज़्यादा दुखद थी. कमरे की दीवारों को, जो पहले 10 फुट ऊंची थीं, उसे 5-6 फुट और बढ़ा दिया गया था. इससे पहाड़ियों को देखने की मेरी जो हसरत थी, वह खत्म हो चुकी थी. मुझे सिर्फ कुछ पेड़ों के सिरे ही दिखते थे. मैं इस जेल में करीब 3 महीने तक रहा, लेकिन कभी पहाड़ों को नहीं देख सका.

wiki-2-647_070215060922_080515063826

#3.

एक बार नेहरू अपने सहयोगियों के साथ ग्रामीण इलाके से गुज़र रहे थे. रास्ते में चने का खेत देखा, तो उन्होंने चने खाने की इच्छा जताई. कार रुकी और लोग खेत में घुस गए. नेहरू ने सिर्फ फलियां तोड़ीं, लेकिन कुछ लोगों ने फलियों साथ-साथ चने के पेड़ भी उखाड़ डाले. उस पर नेहरू ने उन्हें डांटते हुए कहा-

जानवर हो क्या? पेड़ उखाड़ने से नुकसान होता है. ऐसा तो जानवर करते हैं.

#4.

अपनी जीवनी में नेहरू अपने बचपन की एक कहानी यूं बताते हैं-

मेरे पिता जी का एक कमरा अलग से पढ़ने के लिए था, जिसमें तमाम किताबें थीं और दो कलम भी रखी रहती थीं. मैं अपने दोस्तों के साथ अक्सर उस कमरे में जाया करता था. एक बार मुझे पेन की ज़रूरत थी, तो मैंने एक पेन ले ली. शाम को अचानक शोरगुल की आवाज़ सुनाई पड़ी. पिता जी सबके ऊपर गुस्सा हो रहे थे. पता लगा कि यह सारी कवायद पेन की वजह से हो रही थी. पिता जी को लग रहा था कि किसी ने उनकी पेन चुराई है. जब उन्हें पता लगा कि पेन मैंने ली है, तो मेरी काफी पिटाई हुई. उस दिन मैंने सबक सीखा कि कभी भी पिता जी से चालाकी नहीं दिखानी है.

दी लल्लनटॉप के लिए यह आर्टिकल शिव ने लिखा था.


देखें वीडियो, इंदिरा गांधी से जुड़े झूठ की पड़ताल:

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

US प्रेजिडेंट की कुर्सी के करीब बाइडेन, ट्रंप पहुंचे कोर्ट ...पर ट्विस्ट कभी भी आ सकता है

US प्रेजिडेंट की कुर्सी के करीब बाइडेन, ट्रंप पहुंचे कोर्ट ...पर ट्विस्ट कभी भी आ सकता है

अब साफ हो रही थोड़ी तस्वीर.

मथुरा के मंदिर में नमाज पढ़ने पर हंगामा हुआ तो पुलिस ने दिल्ली से किया गिरफ्तार

मथुरा के मंदिर में नमाज पढ़ने पर हंगामा हुआ तो पुलिस ने दिल्ली से किया गिरफ्तार

मंदिर में नमाज पढ़ने पर क्या कहा, ये भी जान लीजिए

तुर्की और ग्रीस में 7.0 तीव्रता का भूकंप, 19 की मौत, 700 से अधिक घायल

तुर्की और ग्रीस में 7.0 तीव्रता का भूकंप, 19 की मौत, 700 से अधिक घायल

इस भूकंप के कारण सुनामी भी आई.

कॉलेज से लौटती लड़की को सरेआम गोली मारी, परिवार ने 'लव जिहाद' का आरोप लगाया

कॉलेज से लौटती लड़की को सरेआम गोली मारी, परिवार ने 'लव जिहाद' का आरोप लगाया

दोनों आरोपी गिरफ्तार कर लिए गए हैं.

ऑस्ट्रेलिया टूर की टीम से क्यों बाहर हुए रोहित शर्मा?

ऑस्ट्रेलिया टूर की टीम से क्यों बाहर हुए रोहित शर्मा?

अनाउंस हुई टीम इंडिया, मिला नया उपकप्तान.

कोयला घोटालाः अटल सरकार में मंत्री रहे दिलीप रे को तीन साल की जेल हो गई है

कोयला घोटालाः अटल सरकार में मंत्री रहे दिलीप रे को तीन साल की जेल हो गई है

मामला 21 साल पुराना है.

क्या कहता है बिहार का पहला ओपिनियन पोल: NDA को मिलेगा बहुमत? नीतीश फिर बनेंगे सीएम?

क्या कहता है बिहार का पहला ओपिनियन पोल: NDA को मिलेगा बहुमत? नीतीश फिर बनेंगे सीएम?

लोकनीति और CSDS के ओपिनियन पोल की बड़ी बातें एक नजर में.

बिहार चुनाव में जितने उम्मीदवारों पर क्रिमिनल केस हैं, उससे ज्यादा तो करोड़पति हैं

बिहार चुनाव में जितने उम्मीदवारों पर क्रिमिनल केस हैं, उससे ज्यादा तो करोड़पति हैं

आपराधिक छवि वालों की इतनी तादाद से साफ है कि दलों को लगता है, 'दाग' अच्छे हैं

बीजेपी विधायक ने कहा- अगर राहुल 'छेड़छाड़' वाली बात साबित कर दें, तो मैं इस्तीफा दे दूंगा

बीजेपी विधायक ने कहा- अगर राहुल 'छेड़छाड़' वाली बात साबित कर दें, तो मैं इस्तीफा दे दूंगा

राहुल ने खबर शेयर की थी जिसमें लिखा था-बीजेपी विधायक रेप के आरोपी को थाने से छुड़ा ले गए.

बलिया गोलीकांड का मुख्य आरोपी गिरफ्तार

बलिया गोलीकांड का मुख्य आरोपी गिरफ्तार

एसटीएफ की टीम ने लखनऊ से पकड़ा. बलिया पुलिस को हैंडओवर करेगी.