Submit your post

Follow Us

कमलप्रीत कौर के फाइनल मैच का क्या नतीजा रहा?

Tokyo 2020 Olympics से भारतीय एथलेटिक्स टीम के लिए एक निराशाजनक ख़बर सामने आई है. भारत की कमलप्रीत प्रीत कौर मेडल लाने से चूक गईं हैं. डिस्कस थ्रो के फाइनल मुक़ाबले में भारत की एथलीट ने 63.70 मीटर का थ्रो फेंका और छठवें स्थान पर रहीं. कमलप्रीत के फाइनल का प्रदर्शन उनके क्वॉलिफाइंग मुक़ाबले से भी ख़राब रहा.

इवेंट के फाइनल में कमलप्रीत का प्रदर्शन लोगों की उम्मीदों के मुताबिक नहीं रहा. कमलप्रीत ने पहले तीन प्रयासों के बाद टॉप-8 में जगह जरूर बनाई, लेकिन उसके बाद वे उतना बड़ा स्कोर नहीं बना पाईं जो उन्हें टॉप तीन में जगह दिलवा पाए.

कमलप्रीत ने इससे पहले अपने क्वॉलिफाइंग इवेंट में 64 मीटर तक चक्का फेंका था, लेकिन फाइनल में वे उस मार्क तक नहीं पहुंच पाईं. अपने छह प्रयासों में वे एक बार भी 64 मीटर तक थ्रो नहीं फेंक पाईं. इवेंट का गोल्ड मेडल रहा 68.9 मीटर का थ्रो करने वाली अमेरिका की वेलेरी ऑलमेन के नाम. दूसरे स्थान पर रहीं जर्मनी की क्रिस्टिन पुडेन्ज जिन्होंने 66.86 मीटर का स्कोर हासिल किया, और 65.72 मीटर के थ्रो के साथ क्यूबा की याइमे पेरेज़ तीसरे स्थान पर रहीं.

सोमवार 2 अगस्त को हुए इस इवेंट की बात करें तो कमलप्रीत ने अपने पहले प्रयास में 61.62 मीटर का का स्कोर हासिल किया. जिसके बाद वे 12 खिलाड़ियों में से छठे नंबर पर आ गईं थीं. अपने दूसरे प्रयास में कमलप्रीत ने एक फ़ाउल थ्रो किया जिसके चलते वे खिसक कर सातवें स्थान पर आ गईं. दूसरे प्रयास के अंत में आते-आते हल्की सी बूंदा-बांदी भी शुरू हो गई थी. जिसके चलते मैच को बीच में रोका गया.

कुछ देर बाद मैच को दोबारा शुरू किया गया. कमलप्रीत ने अपने तीसरे प्रयास में 63.70 मीटर का थ्रो फेंका जिसने उन्हें फिर से छठवें स्थान पर ला दिया और टॉप 8 में बनाए रखा. इसके बाद अंतिम चार खिलाड़ियों को रेस से बाहर कर दिया गया. बचे हुए आठ खिलाड़ियों को तीन-तीन प्रयास और करने थे.

कमलप्रीत ने अपने अगले तीन प्रयासों में दो फ़ाउल किए और एक प्रयास में केवल 61.37 मीटर ही थ्रो कर पाईं. अमेरिका की वेलेरी ऑलमेन ने अपने पहले ही प्रयास में 68.9 मीटर का थ्रो किया था जो अंत तक किसी से नहीं टूटा और उन्हें गोल्ड मेडल जिता गया. कमलप्रीत ने छठवें स्थान पर फिनिश करके 2010 के कॉमनवेल्थ की गोल्ड मेडलिस्ट कृष्णा पूनिया की बराबरी जरूर कर ली है. पूनिया ने 2012 के लंदन ओलंपिक्स में छठवें ही स्थान पर फिनिश किया था.


यह स्टोरी हमारे साथ इंटर्नशिप कर रहे प्रवीण नेहरा ने लिखी है.


टोक्यो ओलंपिक: भारतीय महिला हॉकी टीम के कोच ने जीत के बाद माफ़ी क्यों मांगी?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

UP STF ने 23 संदिग्धों को गिरफ्तार किया.

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

संसद का शीतकालीन सत्र 29 नवंबर से 23 दिसंबर तक चलेगा.

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

पीएम मोदी ने गुरुवार 25 नवंबर को इस एयरपोर्ट का शिलान्यास किया.

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

पिछले विधानसभा चुनाव में त्रिकोणीय मुकाबला था, इस बार त्रिकोणीय से बढ़कर होगा.

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

कासगंज: पुलिस लॉकअप में अल्ताफ़ की मौत कोई पहला मामला नहीं.

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

पुलिस ने कहा था, 'अल्ताफ ने जैकेट की डोरी को नल में फंसाकर अपना गला घोंटा.'

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये ख़बर हमारे देश का एक और सच है.

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

क्या समीर वानखेड़े को NCB जोनल डायरेक्टर पद से हटा दिया गया है?

Covaxin को WHO के एक्सपर्ट पैनल से इमरजेंसी यूज की मंजूरी मिली

Covaxin को WHO के एक्सपर्ट पैनल से इमरजेंसी यूज की मंजूरी मिली

स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने पीएम मोदी के लिए क्या कहा?

आज आए चुनाव नतीजे में ममता, कांग्रेस और BJP को कहां-कहां जीत हार का सामना करना पड़ा?

आज आए चुनाव नतीजे में ममता, कांग्रेस और BJP को कहां-कहां जीत हार का सामना करना पड़ा?

उपचुनाव के नतीजे एक जगह पर.