Submit your post

Follow Us

जापान में रेलवे 1 मिनट की देरी पर भी माफी मांगता है, भारत में 3.5 साल बाद पहुंची ट्रेन की एक बोगी

भारतीय रेलवे की जय हो. इतनी अद्भुत कहानी सामने आई है कि जय हो कहने के सिवाए कुछ और मुख से निकलता नहीं है. कुछ दिन पहले जापान रेलवे की खबर सुनी थी कि ट्रेन एक मिनट लेट हुई और तमाम रेलवे अधिकारियों ने सामूहिक माफीनामा जारी किया. यानी समय की इतनी अहमियत कि हम भारतीय इस पर शर्मा जाएं.

मगर यहां इंडिया में एक मालगाड़ी 2014 में अपनी मंजिल की ओर चली और 2018 में पहुंची. 3.5 साल लग गए किसी की डिलीवरी पहुंचाने में. अब रेलवे इस पर माफीनामा भी दे तो कैसे. असल में हुआ ये है कि आंध्र प्रदेश के विशाखापटनम से उत्तर प्रदेश की ओर जाने वाली मालगाड़ी में इंडियन पोटाश लिमिटेड नाम की कंपनी ने यूपी के बस्ती जिले के लिए किसी ऑर्डर पर खाद भेजी. 1400 किलोमीटर का सफर तय करके इसे बस्ती तक पहुंचना था. उस खाद की कीमत 10 लाख रुपए थी. उधर नवंबर 2014 में जब ये डिलीवरी बस्ती तक नहीं पहुंची तो उसके मालिक ने इंडियन रेलवे से संपर्क किया. मगर रेलवे इस पार्सल को ट्रैक ही नहीं कर पाई. खाद वाले ये डिब्बे स्टेशन दर स्टेशन घूमते रहे. अब 3.5 साल बाद ये ट्रेन खाद के साथ बस्ती के स्टेशन पर पहुंच चुके हैं जिसमें भरी खाद खराब भी हो चुकी है और इनके मालिक रामचंद्र गुप्ता ने इन्हें लेने से मना कर दिया है.

इनका कहना है कि 3.5 साल में रेलवे को कई बार रीमांइडर भेजे मगर उनके पास इसका कोई जवाब नहीं था. अब ये खाद खराब हो चुकी है औऱ रेलवे इसकी भरपाई करे. वहीं उत्तर-पूर्वी रेलवे के चीफ पब्लिक रिलेशन ऑफिसर संजय यादव कहते हैं कि इस मामले की जांच की जा रही है. अगर किसी डिब्बे में कभी कोई दिक्कत आ जाती है तो उसे ट्रेन से हटा दिया जाता है. इस डिब्बे के साथ भी यही हुआ था जिसके चलते इतनी देरी हुई.

जो भी हुआ हो, ये भारतीय रेलवे की उस लापरवाही और सरकारी उदासीनता का सबसे बड़ा उदाहरण है जिससे हमारा सिस्टम सदियों से जूझ रहा है.


Also Read

भूख और मौत के बीच शरीर के साथ क्या-क्या होता है?

फेसबुक को उतने का नुकसान हुआ है जितने में अंबानी जी एक और रिलायंस खरीद लेते

पूरी टीम 18 के स्कोर पर ऑल आउट हो गई, दूसरी टीम 12 मिनट में ही जीत गई

7 महीने की बच्ची से किया था रेप, जज ने 73 दिन में सुनाई फांसी की सजा

पार्लियामेंट में साधु बाबा बैठे थे, लोगों ने भूत समझ लिया

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

बाप ने बेटे को मार-मारकर अस्पताल पहुंचाया, वजह गुस्से को और भड़का देगी

बाप ने बेटे को मार-मारकर अस्पताल पहुंचाया, वजह गुस्से को और भड़का देगी

इस पिटाई का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल है.

राजस्थान: पुलिसिया पिटाई से युवक की मौत का आरोप, चोरी रोकने के नाम पर उठा ले गई थी

राजस्थान: पुलिसिया पिटाई से युवक की मौत का आरोप, चोरी रोकने के नाम पर उठा ले गई थी

पुलिस ने मारपीट के आरोपों को बेबुनियाद बताया है.

BJP के 'झुग्गीवासियों' वाले पोस्टर पर तमिल लेखक की तस्वीर, लोग बोले- रंगभेद की मिसाल

BJP के 'झुग्गीवासियों' वाले पोस्टर पर तमिल लेखक की तस्वीर, लोग बोले- रंगभेद की मिसाल

MCD चुनाव के मद्देनजर 'झुग्गी सम्मान यात्रा' निकाल रही है BJP.

अश्विन ने तोड़ा हरभजन का बड़ा रिकॉर्ड तो भज्जी ने क्या कहा?

अश्विन ने तोड़ा हरभजन का बड़ा रिकॉर्ड तो भज्जी ने क्या कहा?

अश्विन से आगे अब सिर्फ कपिल और कुंबले हैं.

बेंगलुरु: अस्पताल ने बरती ऐसी लापरवाही, डेढ़ साल शव गृह में पड़े रहे कोरोना मृतकों के शव

बेंगलुरु: अस्पताल ने बरती ऐसी लापरवाही, डेढ़ साल शव गृह में पड़े रहे कोरोना मृतकों के शव

पहली लहर में कोविड का शिकार हुए थे.

अजिंक्य रहाणे ने दे दिया अगले मैच के प्लेइंग इलेवन का जवाब

अजिंक्य रहाणे ने दे दिया अगले मैच के प्लेइंग इलेवन का जवाब

जल्दी पारी घोषित क्यों नहीं की ये भी बता दिया.

बिटकॉइन को भारत में करेंसी का दर्जा मिलेगा? सरकार ने जवाब दे दिया है

बिटकॉइन को भारत में करेंसी का दर्जा मिलेगा? सरकार ने जवाब दे दिया है

लोकसभा में पूछे गए सवाल पर क्या बोलीं वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण?

मैच के बाद अश्विन ने कोच द्रविड़ को दिया किस बात का क्रेडिट?

मैच के बाद अश्विन ने कोच द्रविड़ को दिया किस बात का क्रेडिट?

मौका गंवाने के बाद भी अश्विन की बात कमाल है.

मैच नहीं जीते लेकिन अश्विन ने बहुत बड़ा RECORD बना दिया!

मैच नहीं जीते लेकिन अश्विन ने बहुत बड़ा RECORD बना दिया!

कुंबले, कपिल जैसे दिग्गजों की लिस्ट में पहुंचे अन्ना.

ओमिक्रोन वेरिएंट वैक्सीन को बेकार कर देगा? सौम्या स्वामीनाथन और WHO अलग-अलग बातें कर रहे

ओमिक्रोन वेरिएंट वैक्सीन को बेकार कर देगा? सौम्या स्वामीनाथन और WHO अलग-अलग बातें कर रहे

दक्षिण अफ्रीका के शीर्ष विषाणु विशेषज्ञ और AIIMS प्रमुख ने भी अपनी राय दी है.