Submit your post

Follow Us

विराट कोहली ने सौरव गांगुली की तारीफ़ की तो गावस्कर को भयानक गुस्सा आ गया

विराट कोहली. इंडियन क्रिकेट टीम के कप्तान. कोहली की अगुवाई में टीम इंडिया लगातार जीत दर्ज कर नए-नए रिकॉर्ड बना रही है. इसी संडे को कोलकाता में खत्म हुए अपने पहले डे-नाइट टेस्ट में भारत ने बांग्लादेश को पारी और 46 रन से हराया. टीम इंडिया की इस जीत में इंडियन पेसर्स का बड़ा रोल रहा. ईशांत शर्मा की अगुवाई में उन्होंने बांग्लादेश को दोनों पारियां मिलाकर 72 ओवर भी नहीं खेलने दिए. विराट कोहली ने इस मैच में भारत की तरफ से सेंचुरी जड़ी.

इस जीत के बाद कोहली ने BCCI चीफ सौरव गांगुली की कप्तानी वाली टीम इंडिया को याद किया. कोहली ने साफ कहा कि गांगुली की अगुवाई वाली टीम इंडिया से ही उन्होंने लड़ना सीखा है. कोहली ने कहा कि गांगुली ने टीम को विदेशों में जीतना सिखाया था. कोहली का यह बयान दिग्गज क्रिकेटर रहे सुनील गावस्कर को पसंद नहीं आया. गावस्कर ने इस पर कड़ी प्रतिक्रिया दी है.

गावस्कर ने मैच के बाद कहा कि टीम इंडिया तब से टेस्ट में जीत रही है जब कोहली पैदा भी नहीं हुए थे. गावस्कर ने कहा,

‘इंडियन कैप्टन (कोहली) ने कहा कि यह (विदेश में लड़ना, जीतना) 2000 में दादा (गांगुली) की टीम से शुरू हुआ. मुझे पता है कि दादा BCCI के प्रेसिडेंट हैं इसलिए हो सकता है कि कोहली उनके बारे में अच्छी बातें करना चाहते हों. लेकिन भारत 70 और 80 के दशक में भी जीत रहा था. तब तो वह पैदा भी नहीं हुए थे. बहुत सारे लोग अब भी सोचते हैं कि क्रिकेट सिर्फ 2000 में शुरू हुआ. लेकिन इंडियन टीम 70 के दशक में भी विदेश में जीती थी. इंडियन टीम ने 1986 में भी विदेश में जीत दर्ज की थी. भारत ने विदेश में सीरीज भी ड्रॉ की थी. वे हारे भी बाकी टीमों की तरह.’

देखना होगा कि गावस्कर के इस बयान पर कोहली या गांगुली कोई कमेंट करते हैं या नहीं. अगर सुनील गावस्कर को कोहली या गांगुली की तरफ से कोई जवाब मिला तो यह बिन बुलाए विवाद जैसा होगा. और अगर ऐसा कोई विवाद हुआ तो अच्छी फॉर्म में चल रही टीम इंडिया के मोराल पर इसका गलत प्रभाव पड़ने की पूरी संभावना है.


वेस्ट इंडीज के खिलाफ ODI और T20I सीरीज के लिए चुनी गई इंडियन क्रिकेट टीम से गायब हैं अहम नाम

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

कोरोना काल में क्रिकेट खेलने वाले मनोज तिवारी ‘आउट’

दिल्ली में हार के बाद बीजेपी का पहला बड़ा फैसला.

1 जून से लॉकडाउन को लेकर क्या नियम हैं? जानिए इससे जुड़े सवालों के जवाब

सरकार ने कहा कि यह 'अनलॉक' करने का पहला कदम है.

3740 श्रमिक ट्रेनों में से 40 प्रतिशत ट्रेनें लेट रहीं, रेलवे ने बताई वजह

औसतन एक श्रमिक ट्रेन 8 घंटे लेट हुई.

कंटेनमेंट ज़ोन में लॉकडाउन 30 जून तक बढ़ाया गया, बाकी इलाकों में छूट की गाइडलाइंस जानें

गृह मंत्रालय ने कंटेनमेंट ज़ोन के बाहर चरणबद्ध छूट को लेकर गाइडलाइंस जारी की हैं.

मशहूर एस्ट्रोलॉजर बेजान दारूवाला नहीं रहे, कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी

बेटे ने कहा- निमोनिया और ऑक्सीजन की कमी से हुई मौत.

लॉकडाउन-5 को लेकर किस तरह के प्रपोज़ल सामने आ रहे हैं?

कई मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया है कि 31 मई के बाद लॉकडाउन बढ़ सकता है.

क्या जम्मू-कश्मीर में फिर से पुलवामा जैसा अटैक करने की तैयारी में थे आतंकी?

सिक्योरिटी फोर्स ने कैसे एक्शन लिया? कितना विस्फोटक मिला?

लद्दाख में भारत और चीन के बीच डोकलाम जैसे हालात हैं?

18 दिनों से भारत और चीन की फौज़ आमने-सामने हैं.

शादी और त्योहार से जुड़ी झारखंड की 5000 साल पुरानी इस चित्रकला को बड़ी पहचान मिली है

जानिए क्या खास है इस कला में.

जिस मंदिर के पास हजारों करोड़ रुपये हैं, उसके 50 प्रॉपर्टी बेचने के फैसले पर हंगामा क्यों हो गया

साल 2019 में इस मंदिर के 12 हजार करोड़ रुपये बैंकों में जमा थे.