Submit your post

Follow Us

भारतीय महिला टीम ने ऑस्ट्रेलिया में क्या इतिहास रच दिया?

भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने ऑस्ट्रेलिया के विजयरथ को रोक दिया है. लगातार 26 मैचों से अजेय चल रही ऑस्ट्रेलियाई टीम को आखिरकार हार मिली. मिताली राज की अगुवाई वाली टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया को रोमांचक मुकाबले में दो विकेट से हराया. इस जीत की सबसे बड़ी नायिका झूलन गोस्वामी रहीं, जिन्हें प्लेयर ऑफ द मैच के अवॉर्ड से नवाजा गया. हालांकि इसके बाद भी ऑस्ट्रेलिया ने तीन मैचों की वनडे सीरीज को 2-1 से अपने नाम कर लिया.

इससे पहले टॉस जीतकर मेग लेनिंग ने बल्लेबाजी करने का फैसला किया. रैचल हेंस और एलिसा हीली ने पहले विकेट के लिए 41 रन की साझेदारी की. रैचल हेंस 13 रन बनाकर आउट हुईं. जबकि एलिसा हीली 35 रन के निजी स्कोर पर रन आउट हुईं.

# Mooney-Gardner का चला बल्ला

कप्तान मेग लेनिंग का बल्ला एक बार फिर खामोश रहा. पिछले मैच में छह रन बनाने वाली लेनिंग इस बार खाता भी नहीं खोल सकी. वहीं, एलिस पेरी भी रंग में नहीं दिखी. पेरी 26 रन बनाकर आउट हुईं. इसके बाद बेथ मूनी और एश गार्डनर ने मोर्चा संभाला. दोनों बल्लेबाजों ने पांचवें विकेट के लिए 98 रन की साझेदारी की. मूनी ने 52 रन बनाए. जबकि गार्डनर ने आठ चौके और दो छक्कों की मदद से 67 रन की पारी खेली.

निचले क्रम में ताहिला मैकग्रा ने धुआंधार बल्लेबाजी करते हुए महज 32 गेंदों में 47 रन ठोक डाले. ऑस्ट्रेलिया ने निर्धारित 50 ओवर में 264 रन स्कोरबोर्ड पर लगाए. और भारत को जीत के लिए 265 रन का लक्ष्य दिया. गेंदबाजी में पूजा वस्त्राकर और झूलन गोस्वामी ने तीन-तीन विकेट अपने नाम किये.

# Shafali-Smriti की शुरुआत

टीम इंडिया के लिए इतने रन चेज करना आसान नहीं था. इतने बड़े लक्ष्य को भारतीय टीम ने कभी भी हासिल नहीं किया था. लिहाजा, चेज के लिए बेहतर शुरुआत की जरूरत थी. शफाली वर्मा और स्मृति मंधाना की जोड़ी ने पहले विकेट के लिए 59 रन जोड़ दिए. मंधाना 22 रन बनाकर आउट हुईं.

जबकि शफाली वर्मा ने 56 रन की पारी खेली. इसके बाद अपनी पहली वनडे सीरीज खेल रही यस्तिका भाटिया ने वनडे करियर का पहला पचासा लगाया. यस्तिका ने 69 गेंद का सामना करते हुए 64 रन की पारी खेली. इस दौरान उन्होंने नौ चौके भी लगाए.

निचले ऑर्डर में दीप्ति शर्मा ने 31 रन का योगदान दिया. जबकि स्नेह राणा ने पांच चौकों की मदद से 30 रन ठोक डाले. आखिरी ओवर में भारत को जीत के लिए चार रन की जरूरत थी. और झूलन गोस्वामी ने चौका लगाकर ऐतिहासिक जीत दिला दी. बता दें कि भारतीय महिला क्रिकेट के इतिहास में ये अब तक का सबसे बड़ा सफल रन चेज है. अब IND-W vs AUS-W के बीच एकमात्र पिंक बॉल टेस्ट खेला जाएगा. इसके बाद दोनों टीमें तीन मैचों की T20 सीरीज में भी भिड़ेंगी.


IPL 2021: रुतुराज ने ऐसा क्या कमाल कर दिया कि वो धोनी-रोहित से आगे निकल गए?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

ट्रैवल हिस्ट्री नहीं होने के बाद भी डॉक्टर के ओमिक्रॉन से संक्रमित होने पर डॉक्टर्स क्या बोले?

ट्रैवल हिस्ट्री नहीं होने के बाद भी डॉक्टर के ओमिक्रॉन से संक्रमित होने पर डॉक्टर्स क्या बोले?

बेंगलुरु में 46 साल के एक डॉक्टर कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन से संक्रमित पाए गए हैं.

क्या BYJU'S अच्छी शिक्षा देने के नाम पर लोगों को अनचाहा लोन तक दिलवा रही है?

क्या BYJU'S अच्छी शिक्षा देने के नाम पर लोगों को अनचाहा लोन तक दिलवा रही है?

ये रिपोर्ट कान खड़े कर देगी.

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

इस्तीफे में पराग अग्रवाल के लिए क्या-क्या बोले जैक डोर्से?

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

UP STF ने 23 संदिग्धों को गिरफ्तार किया.

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

संसद का शीतकालीन सत्र 29 नवंबर से 23 दिसंबर तक चलेगा.

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

पीएम मोदी ने गुरुवार 25 नवंबर को इस एयरपोर्ट का शिलान्यास किया.

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

पिछले विधानसभा चुनाव में त्रिकोणीय मुकाबला था, इस बार त्रिकोणीय से बढ़कर होगा.

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

कासगंज: पुलिस लॉकअप में अल्ताफ़ की मौत कोई पहला मामला नहीं.

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

पुलिस ने कहा था, 'अल्ताफ ने जैकेट की डोरी को नल में फंसाकर अपना गला घोंटा.'

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये ख़बर हमारे देश का एक और सच है.