Submit your post

Follow Us

बंगाल में बीजेपी के नेता-कार्यकर्ता मंच पर ही आपस में भिड़े, कुर्सी-टेबल फेंकीं

पश्चिम बंगाल. विधानसभा चुनाव से पहले TMC, कांग्रेस और लेफ्ट पार्टियों के नेता धड़ाधड़ BJP में शामिल हो रहे हैं. पार्टी की तरफ से बकायदा दूसरे पार्टियों के नेताओं को शामिल कराने के लिए अभियान चलाया जा रहा है. सोमवार, 21 दिसंबर को दुर्गापुर के पलाशडीह में BJP में शामिल करवाने के लिए योगदान मेला का आयोजन किया गया था. इस कार्यक्रम में बंगाल BJP के स्टेट प्रेसिडेंट दिलीप घोष भी शामिल होने वाले थे, लेकिन मंच पर पहले धक्कामुक्की, फिर मारपीट हो गई.

सामने आए वीडियो में दिख रहा है कि बीजेपी के मंच पर कुछ लोग चढ़े हुए हैं. अचानक उनमें गरमागरमी होने लगती है. फिर मारपीट शुरु हो जाती है. इस दौरान कुर्सियां फेंकी जाती हैं. बताया जा रहा है कि जिस व्यक्ति के साथ मारपीट की गई, वो एक वार्ड के BJP प्रेसिडेंट थे. टीएमसी सपोर्टर के ट्विटर हैंडल से इसका एक  विडियो ट्वीट किया गया है. देखिए-

क्या है मामला?

इंडिया टुडे से जुड़े अनिल गिरी की रिपोर्ट के मुताबिक, सोमवार को दुर्गापुर के पलाशडीह में आयोजित योगदान मेला में कुछ भाजपा कार्यकर्ताओं ने मंच पर चढ़कर आरोप लगाना शुरु कर दिया कि कोयला चोरों को पार्टी में भर्ती किया जा रहा है. पैसा लेकर लोगों को लाया जा रहा है.

बताया जा रहा है कि इनकी नाराजगी राजेश झा उर्फ राजू झा को लेकर थी. राजू ने बंगाल बीजेपी के प्रेसिडेंट दिलीप घोष और जिला दुर्गापुर जिला प्रेसिडेंट लखन घोराई की मौजूदगी में पार्टी ज्वाइन की. बीजेपी के सांसद अर्जुन सिंह ने बीजेपी का झंडा राजू झा को दिया. खबरें बताती हैं कि राजू झा पर कोयला माफिया के आरोप लगते रहे हैं. अवैध तरीके से कोल माइनिंग, अवैध हथियार रखने और लूट के केस में कई बार गिरफ्तार भी किया जा चुका है.

दुर्गापुर वार्ड-13 के BJP अध्यक्ष अमित यादव ने आरोप लगाया,

2017 के इलेक्शन में जिस कोयला चोर, लोहा चोर ने हम लोगों के वार्ड में बमबाजी की थी. 13, 14 और  34 नंबर वार्ड में बवाल किया था. काउंसलर लोगों के घर में बम फेंका था, वो आज बीजेपी ज्वाइन कर रहा है. ये लोग पैसा लेकर बीजेपी ज्वाइन करवा रहा है. हम जो कार्यकर्ता लोग इतने दिन से खट रहे हैं, काहे के लिए? मीटिंग में कहते हैं, जिस वार्ड से कोई ज्वाइन करेगा तो उस वार्ड के प्रेसिडेंट से पूछें. हम 13 नंबर वार्ड के प्रेसिडेंट हैं. हमसे नहीं पूछा. यहां डायरेक्ट आकर ज्वाइनिंग करवाएगा? बीजेपी में आने के बाद ये लोग वही करेंगे, जो पहले करते थे.

हालांकि पश्चिम बर्दवान जिले के BJP अध्यक्ष लखन घोरई ने कहा कि BJP में असामाजिक तत्वों के लिए कोई जगह नहीं है.

बीजेपी से पिछले कुछ समय में बंगाल के कई बड़े नाम जुड़े हैं. दो दिन के बंगाल दौरे पर आए अमित शाह की मौजूदगी में 19 दिसंबर को मिदनापुर में TMC, CPI और कांग्रेस के कई नेताओं ने BJP जॉइन की. TMC में रहे पांच विधायक भी भाजपा से जुड़े. इनमें सबसे बड़ा नाम रहा TMC के कद्दावर नेता रहे सुवेंदु अधिकारी का. इनके अलावा सांसद सुनील मंडल, विधायक बिस्वजीत कुंडु, शीलभद्र दत्त, बनश्री मैती, सैकत पांजा ने भी बीजेपी का दामन थामा. कांग्रेस विधायक सुदीप मुखर्जी के अलावा CPIM से विधायक रहीं दीपाली मुखर्जी भी BJP में आ गईं.


किताबवाला: लेफ्टिनेंट जनरल सतीश दुआ ने अपनी किताब में वो बताया जो ‘उरी-सर्जिकल स्ट्राइक’ में नहीं दिखी

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

कभी कृषि कानूनों की पक्षधर रहीं पार्टियों ने अब यूटर्न क्यों ले लिया है?

जानिए पहले क्या था इन राजनीतिक दलों का स्टैंड

क्या बढ़िया फ्रिज न होने के कारण इंडिया में कोरोना वैक्सीन लगने में और लेट हो सकती है?

कोल्ड चेन का पूरा तिया पांचा यहां समझिए.

साल 2015 के बाद गुजरात, केरल, बंगाल, महाराष्ट्र और बिहार के बच्चों में बढ़ा कुपोषण

सर्वे का दावा, बच्चों की लम्बाई और वज़न ख़तरनाक तरीक़े से घट रहे

क्या कोरोना की नई वैक्सीन लगवाने के बाद लोगों को लकवा मार जा रहा है?

वैक्सीन लगवाने पर कुछ लोगों में एलर्जी की समस्या भी सामने आई है.

किसान आंदोलन के समर्थन में वैज्ञानिक ने केंद्रीय मंत्री के हाथ से अवॉर्ड लेने से मना कर दिया

पत्र में कहा, 'ये मेरी अंतरात्मा के खिलाफ़ है'

350 करोड़ का स्कैम उजागर करने वाले RTI एक्टिविस्ट की मौत पर पुलिस और फ़ैमिली अलग कहानी क्यों बता रहे?

पुलिस ने कहा कि दुर्घटना में मौत हुई, परिवार हत्या का आरोप लगा रहा

एनकाउंटर पर सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज ने कहा, 'ऐसा ही चलता रहा तो कोई भी शिकार बन सकता है'

हैदराबाद के ICFAI लॉ स्कूल में रूल ऑफ लॉ पर लेक्चर दे रहे थे जस्टिस चेलमेश्वर.

कोरोना का ट्रायल वैक्सीन लेने वाले हरियाणा के मंत्री कोरोना पॉजिटिव पाए गए

कोरोना की वैक्सीन के तीसरे चरण के ट्रायल के दौरान टीका लगाया गया था.

उइगर मुस्लिम ने बताया, 'चीन में हमें ज़बरदस्ती सूअर का मांस खिलाया जाता था'

नसबंदी न करवाने पर उइगर मुस्लिमों के साथ क्या होता है?

सरकार और किसानों के बीच साढ़े सात घंटे तक चली बैठक में क्या नतीजा निकला, जान लीजिए

कृषि मंत्री ने बताया, सरकार किन-किन बातों पर राजी हो गई है